शनाया कपूर के बेली डांस मूव्‍स आपकी कोर को स्ट्रेंथ देने में हो सकते हैं मददगार, जानिए इसके फायदे

शनाया कपूर ने बेली डांसिंग में सभी की रुचि को प्रज्वलित किया है, लेकिन बहुत से लोग यह नहीं जानते हैं कि यह डांस फॉर्म कोर को मजबूत करने और पेट को टोन करने के लिए बहुत अच्छा है।
शनाया कपूर ने अपने बेली डांस मूव्स से काफी लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाई है। चित्र-शटरस्टॉक।
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published: 22 Feb 2021, 10:30 am IST
  • 82

हम में से ज्यादातर ने शनाया कपूर को नेटफ्लिक्स की “द फैबुलस लिव्स ऑफ बॉलीवुड वाइव्स”, “ले बल”, और “पेरिस” में अपना डेब्यु (debut) करते हुए देखा है। शो में, वह चचेरी बहन जान्हवी कपूर की फिल्म “गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल” के सहायक निर्देशक के रूप में भी काम करने को लेकर, अपने समय के बारे में स्पष्ट रूप से बात करती नजर आईं।

इस यंग ब्यूटी ने अपने करिश्माई व्यक्तित्व के कारण हाल ही में अपने काफी फॉलोअर्स बना लिए हैं, और सोशल मीडिया का धन्यवाद, जहां हम अक्सर उनके जीवन में झांक सकते हैं।

यदि आप यह पहले से ही नहीं जानते हैं, तो हम आपको बता दें कि शनाया कपूर एक बेहतरीन डांसर हैं। वास्तव में, वह बेली डांसिंग में गहरी दिलचस्पी रखती हैं और एक सेलिब्रिटी बेली डांस ट्रेनर संजना मुत्रेजा के मार्गदर्शन में डांस सीख रही हैं।

बहुत से लोग अब इस डांस फॉर्म में रुचि लेने लगे हैं, जिसका मूल मध्य पूर्व में है, और इसे ऊपरी शरीर के मूवमेंट्स को शामिल करने के लिए जाना जाता है। डांस फॉर्म की एक करीबी समझ आपको एहसास दिलाएगी कि यह वास्तव में आपके कोर को मजबूत करने के लिए एकदम सही है।

जी हां, आपने बिल्कुल सही सुना! बेली डांसिंग आपके पेट और श्रोणि क्षेत्र के नियंत्रित मूवमेंट्स के बारे में है। इसलिए, नियमित बेली डांसिंग सत्र के साथ अपने कोर को मजबूत बना सकती हैं। इसे कई शारीरिक लाभों के लिए किया जा सकता है:

  • अपने कोर क्षेत्र को मजबूत करना, अपने अन्य वर्कआउट के साथ मदद करना
  • अपने पेट के क्षेत्र पर काम करना और सभी वसा को जलाना
  • एक टोंड मिडरिफ
  • अपने शरीर की गति पर बेहतर नियंत्रण
  • बेहतर पोश्चर

लेडीज, हम यह महसूस नहीं करते हैं कि एक मजबूत कोर होना कितना महत्वपूर्ण है

यह वह क्षेत्र है जो हमें संतुलन बनाए रखने में मदद करता है और हमारी गतिशीलता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, खासकर जब हम वर्काउट कर रहे होते हैं। सिर्फ इतना ही नहीं, एक मजबूत कोर भी इसमें शामिल मांसपेशियों को मजबूत करके बच्चे के जन्म की प्रक्रिया में सहायता कर सकता है।

वर्कआउट के रूप में बेली डांसिंग का एक महत्वपूर्ण पहलू यह है कि इससे चोटिल होने संभावना कम से कम होती है। यह एक देखभाल के बिना अपने पसंदीदा संगीत झूमने के बारे में है! आप शनाया को उसके नवीनतम पोस्ट में ठीक वैसे ही देख सकती हैं। उन्होंने यह भी खुलासा किया कि उनेके पास ड्रम सोलो करने का सबसे अच्छा समय है।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें

शनाया का बेली डांस देखना निश्चित रूप से आपको इस डांस फॉर्म के लिए साइन अप करने के लिए प्रेरित करेगा, और आपके पेट को टोन करने में मदद करेगा!

यह भी पढ़ें: वजन घटाने के लिए डाइटिंग करना हो सकता है नुकसानदेह, हम बता रहे हैं इसके 6 वैज्ञानिक कारण

  • 82
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख