बस एक योगा पोज कमर दर्द की समस्या की कर सकता है छुट्टी, यहां जानिए मंडूकासन के फायदे और करने का सही तरीका

लगातार बैठ कर काम करने के कारण बैक पेन हो गया है, तो नियमित रूप से मंडूकासन करें। सही तरीके से करने पर कमर दर्द के अलावा अन्य समस्याओं को दूर करने में भी मदद करता है।
Jaanein Mandukasana ke fayde
मंडूकासन को नियमित रूप से योगाभ्यास में शामिल किया जा सकता है।चित्र अडोबी स्टॉक
स्मिता सिंह Updated: 20 Oct 2023, 09:02 am IST
  • 125

मंडूकासन (Frog Pose) एक योग मुद्रा है। इसमें कोर, कूल्हों और आंतरिक जांघों पर प्रभाव पड़ता है। इसे कभी-कभी अधो मुख मंडूकासन भी कहा जाता है। फ्रॉग पोज में सांस लेने की प्रक्रिया पर ध्यान दिया जाता है। यह हिप-ओपनिंग आसन विभिन्न स्तरों पर शरीर पर काम करता है। यह बैक पेन दूर कर शरीर को आराम देता है। यह मानसिक और शारीरिक तनाव को दूर करने में मदद करता है। योग एक्सपर्ट डॉ. स्मृति के अनुसार, बैक पेन को दूर करने के लिए मंडूकासन (Mandukasan or Frog Pose) को नियमित रूप से योगाभ्यास में शामिल किया जा सकता है।

यहां हैं मंडूकासन करने का सही तरीका (Right way to do Frog Pose)

पद्मासन में बैठ जाएं। हिप दोनों एड़ियों के बीच में होना चाहिए।
दोनों हाथों को हथेली की उल्टी तरफ से मिला लें। दोनों हाथों को आगे से बांधकर नाभि के ऊपर रखें।
हथेलियों को एक साथ या फर्श पर रखते हुए कंधों के नीचे अपनी कोहनी के साथ अग्र-भुजाओं पर आराम करें।
पैर की उंगलियों को बाहर की ओर मोड़े रहें।

आगे की ओर झुकें

वजन अपने हाथों पर रखते हुए आगे की ओर झुकें।
अपनी ठुड्डी या माथे को फर्श की ओर रखें।
आराम करने और तनाव मुक्त करने पर ध्यान केंद्रित करते हुए गहरी सांस लें।
इस मुद्रा को 1 मिनट तक बनाए रखें। अभ्यास के साथ इसे 3-5 मिनट तक रोका जा सकता है।
मुद्रा को छोड़ने के लिए हाथों को अ कंधों के नीचे रखें और धीरे-धीरे अपने घुटनों को बीच में लाएं।
पेट के बल आराम करें या चाइल्ड पोज़ या डाउनवर्ड-फ़ेसिंग डॉग में जाएं।

यहां हैं फ्रॉग पोज के 4 फायदे (frog pose health benefits)

मंडूकासन के अधिक फायदे के लिए इसे अलग-अलग तरीके से भी किया जाता है। शुरुआत में 30 सेकंड से अधिक यह योगासन नहीं करें। धीरे-धीरे इसके समय को बढ़ाया जा सकता है।

1. पीठ दर्द को कम कर सकता है(Frog Pose for Back Pain)

मंडूकासन पीठ की जकड़न को कम कर सकती है और पीठ को मजबूत कर सकती है। यह उन लोगों के लिए बढ़िया है, जो लंबे समय के लिए बैठ कर काम करते हैं। इससे पीठ के निचले हिस्से में दर्द खत्म हो सकते हैं। यह कूल्हे के लचीलेपन, गतिशीलता और गति की सीमा में भी सुधार कर सकता है।

back pain
मंडूकासन पीठ की जकड़न को कम कर सकती है और पीठ को मजबूत कर सकती है। चित्र : शटरस्टॉक

2 मानसिक स्वास्थ्य में सुधार कर सकता है (Frog Pose for Mental Health)

फ्रॉग पोज में ब्रीदिंग एक्सरसाइज को शामिल करने से और भी अधिक लाभ मिल सकता है। जागरूक होकर सांस लेने से यह मानसिक स्वास्थ्य में सुधार कर सकता है। ध्यान को सिर के सेंटर पॉइंट पर केंद्रित किया जा सकता है। माइंडफुलनेस तरीके से किया गया यह आसन पुराने दर्द और तनाव को कम करती है। यह जीवन की गुणवत्ता में सुधार करती है और मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ावा देती है

3 मधुमेह प्रबंधन में मदद (Frog Pose for Diabetes)

यह मुद्रा कई योग अभ्यास के साथ रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने और जटिलताओं को कम करने में मदद कर सकता है। इंटरनेशनल जर्नल ऑफ़ योग के अनुसार, यह टाइप 2 डायबिटीज के प्रबंधन को सकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है। यह योग आसन अग्न्याशय के कार्य में सुधार कर सकते हैं। कम से कम 30 सेकंड के लिए यह पोज करने से लाभ मिल सकता है।

shilpa shetty jaise fitness paye चित्र-शटरस्टॉक.
फ्रॉग पोज ब्लड शुगर  के स्तर को नियंत्रित करने और जटिलताओं को कम करने में मदद कर सकता है। चित्र-शटरस्टॉक.

4. ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करता है (Mandukasana for Blood Circulation)

मन्डूकासन का अभ्यास परिसंचरण में सुधार कर सकता है। यह रक्त प्रवाह को बढ़ावा देने और उच्च रक्तचाप को कम करने में मदद करता है। यह आसन उच्च रक्तचाप के प्रबंधन में सबसे अधिक लाभ प्रदान करता है जब इसे सांस , ध्यान और विश्राम तकनीकों के साथ जोड़ा जाता है।

यह भी पढ़ें :- Yoga in Monsoon : क्या बरसात के मौसम में नहीं करना चाहिए योगाभ्यास? एक्सपर्ट दे रहीं हैं इस सवाल का जवाब

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें
  • 125
लेखक के बारे में

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।...और पढ़ें

अगला लेख