फेफड़ों और हार्ट हेल्थ के लिए भी फायदेमंद है रैबिट पोज, जानिए इसे करने का सही तरीका

रैबिट पोज इसे शशांकासन भी कहा जाता है, यह गर्दन, कंधों और पीठ से तनाव दूर करता है। चलिए जानते है कि आपको कैसे ठीक तरीके से शशांकासन करना है।
शशांकासन जैसे व्यायाम रीढ़ की हड्डी के लचीलेपन को बेहतर बनाते है। चित्र ; अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Updated: 18 Feb 2024, 08:00 pm IST
  • 124

रैबिट पोज, खरगोस मुद्रा या शशांकासन ये पोज आपकी रीढ़ की हड्डी को लचीला बनाने के अलावा आपके पूरे शरीर के फायदेमंद है। शशांकासन को आप अपने सिर को जमीन पर पूरी तरह से झुकाते हुए करते है। खरगोर को उनके लचीलेपन और सतर्कता के लिए जाना जाता है। इस पोज को करने से आप में भी खरगोस वाले गुण आ सकते है जिसका मतलब है आप भी लचीले बन सकते है। यह भावनात्मक और मानसिक समस्या को दूर करने के लिए जाना जाता है। यह मुद्रा आपकी रीढ़ की हड्डी के लचीला बनाने के लिए बहुत जरूरी है।

आज के दौर में जब हम आपका ज्यादातर समय कुर्सियों पर बैठकर या अपने दफतर में बैठकर काम करते हुए या बैड पर सो कर बिताते है। इन सभी चीजों से आपके कमर, पीठ जाम हो जाती है। रीढ़ की हड्डी को लचीला बनाए रखने के लिए ताकि आपकी पीठ ठीक से काम करती रहे उसके लिए शशांकासन सबसे आच्छा पोज है।

यह आपकी रीढ़ की हड्डी पर तनाव को कम करके ऐसा करता है। चित्र- अडोबी स्टॉक

क्या है शशांकासन के फायदे

रीढ़ की हड्डी को लचीला बनाता है

आपकी रीढ़ की हड्डी समय के साथ सख्त हो सकती है, और शशांकासन जैसे व्यायाम रीढ़ की हड्डी के लचीलेपन को बेहतर बनाने और किसी भी तरह की चोट के जोखिम को कम करती हैं। यह आपकी रीढ़ की हड्डी पर तनाव को कम करके ऐसा करता है।

हार्ट हेल्थ में मदद करता है

शशांकासन आपके हार्ट को आराम देने का एक अच्छा तरीका है। यह धमनियों और नसों से तनाव को शांत करने और कम करने में मदद करता है। इससे आपके हार्ट को स्वस्थ रहने में मदद मिलती है।

फेफड़ों की क्षमता को बढ़ाता है

शशांकासन में आगे की ओर झुकना शामिल है जो पेट को टोन करने और पीठ को फैलाने में मदद करता है। इससे फेफड़ों की क्षमता में सुधार और आपके पूरे श्वसन स्वास्थ्य में सुधार होता है।

पाचन स्वास्थ्य के लिए अच्छा है

इस पोज़ में आपको आगे की ओर झुकना पड़ता है और अपने पेट को दबाना पड़ता है, जो बदले में पाचन रस के स्राव को बेहतर बनाने में मदद करता है। यह पेट, लीवर और आंतों के लिए बेहतर काम करता है, जिससे टॉक्सिक पदार्थ बाहर निकल जाते है।

Balasan ke fayde jaanein
शशांकासन आपके हार्ट को आराम देने का एक अच्छा तरीका है। चित्र ; अडोबी स्टॉक

कैसे किया जाता है शशांकासन

अपने घुटनों को अलग रखते हुए और अपने पैर की उंगलियों को सीधे पीछे की ओर रखते हुए योगा मैट पर घुटने टेककर शुरु करें।

एड़ियों पर पीछे बैठें ताकि आपके कुल्हे आपकी एड़ियों पर टिके रहें।

हाथों को अपनी जांघों के पीछे, अपने घुटनों के ठीक ऊपर, अपनी हथेलियों को नीचे की ओर रखें।

गहरी सांस लें और अपनी रीढ़ को लंबा करें, अपनी छाती को ऊपर उठाएं और अपने कंधों को पीछे की ओर ले जाएं।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें

जैसे ही आप सांस छोड़ते हैं, धीरे-धीरे अपनी रीढ़ को आगे की ओर गोल करना शुरू करें, अपनी ठुड्डी को अपनी छाती की ओर झुकाएं और अपने माथे को अपने घुटनों की ओर लाएं।

अपने हाथों को वापस अपनी एड़ियों तक ले जाएं। यदि संभव हो, तो अपनी कोहनियों को पीछे की ओर सीधा रखते हुए, अपनी एड़ियों को अपने हाथों से पकड़ें।

अपनी रीढ़ की हड्डी को लंबा करने और अपनी गर्दन और कंधों को आराम देते हुए 5-10 गहरी सांसों लेने तक इसी मुद्रा में रहे।

ये भी पढ़े- इन 6 तरह से करें स्कैल्प की देखभाल, नहीं होगी हेयर फॉल की समस्या

  • 124
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख