अगर आप भी हैं पीठ दर्द से परेशान तो इन  4 योगासनों के अभ्यास से कहें उसे अलविदा 

पिछले कुछ दिनों से क्या आप भी पीठ दर्द की परेशानी झेल रही हैं और तमाम स्प्रे क्रीम दवाएं आपका दर्द कम करने में असफल हो चुकी हैं? तो हम लाए हैं कुछ ऐसे योगासन जो आपकी पीठ दर्द से जुड़ी हर समस्या में आपको राहत देगा।

peeth dard men raahat detaa hai yog
पीठ दर्द में राहत देता है योग। चित्र शटरस्टॉक
शालिनी पाण्डेय Updated on: 13 May 2022, 12:56 pm IST
  • 120

गलत तरह से सोना, बैठना या अगर आपका पीठ की समस्याओं का इतिहास है और आपको व्यायाम करते समय अपनी पीठ में दर्द महसूस होता है, तो पीठ से जुड़ी आपकी ऐसी सभी समस्याओं के लिए हम लाए हैं ऐसे योगासन जो न सिर्फ आपको दर्द (Yogasana for backache) में राहत देंगे, बल्कि इन्हें जड़ से ख़त्म भी करने में भी मददगार होंगे। 

पीठ के लिए फायदेमंद योग

योग करना पीठ दर्द और तनाव से राहत देता है। इसमें गतिशील और स्थिर दोनों तरह के मूवमेंट होते हैं जो आपकी पीठ की मांसपेशियों को स्ट्रेच करते हैं और मजबूत बनाते हैं , जिससे आप दर्द से राहत पा सकती हैं। पीठ दर्द दूर भगाने के लिए कौन से योगासन हो सकते हैं जानने के लिए हमने बात की योग एक्सपर्ट बिंदु बजाज से, जिन्होंने बताया कि आसन का उचित अभ्यास आपको स्वस्थ रीढ़ (healthy spine) बनाए रखने में मदद करता है साथ ही आपकी पीठ स्ट्रेच हो कर फ्लेक्सिबल भी बनती है।  
योग एक्सपर्ट बजाज बताती हैं कि आजकल की भागदौड़ भरी लाइफ में कई बार बहुत हैवी वर्कआउट करने का टाइम नहीं मिल पाता। ऊपर से ऑफिस या घर में पूरे दिन बैठ कर काम करने के अलावा किचन में खड़े हो कर काम करना भी आपकी पीठ पर स्ट्रेस डाल सकता है। ऐसे में योगाभ्यास करना आपको न सिर्फ पीठ दर्द में राहत देगा, बल्कि आपकी रीढ़ की हड्डी को भी मजबूत बनाने में सहायक होगा।

1 अधोमुख श्वान (downward facing dog)

यह पोश्चर आपके शरीर के वजन को को कुछ देर के लिए आपकी पीठ से हटा कर हाथ और काल्फ़ पर शिफ्ट करता है, आपके हैमस्ट्रिंग और काल्फ़ से लेकर आपकी पीठ के निचले हिस्से और ऊपरी हिस्से तक को स्ट्रेच करता है। पीठ में किसी भी तरह के तनाव को दूर कर पीठ दर्द से तुरंत राहत पाने में मदद करता है।

apke shareer kaa bhar kuchh der ke lie aage ki ore shift ho peeth ko dard se nijaat deta hai
आपके शरीर का भार आगे की ओरे शिफ्ट कर यह पीठ को दर्द से निजात देता है

कैसे करें 

इसे करने के लिए चटाई के एक छोर पर अपने पैरों के पंजों को को जमीन पर मजबूती से  रखे । झुकें और अपने हाथों को भी चटाई पर रखें। अपना हाथ तब तक आगे की ओर करें , जब तक कि वे आपके सिर के सामने आए और आपकी बॉडी पूरी तरह से खिंच जाएं। ध्यान रहे कि आपके हाथ कंधे की सीध में ही आपने अपने हाथ रखे हों, और आपकी पीठ सीधी रहे।

टिप: यदि स्थिति बहुत चुनौतीपूर्ण है तो अपने घुटनों को मोड़ने या कुछ योग ब्लॉकों का उपयोग करने का प्रयास करें। यह आपकी पीठ को सीधा रखने में भी मदद करेगा और किसी भी तरह के दर्द से राहत दिलाएगा।

बालासन (child’s pose)

बालासन एक ऐसी मुद्रा है, जिसमें घुटने टेक दिए जाते हैं जिससे आपकी पीठ के निचले हिस्से और इनर थाई की मांसपेशियां स्ट्रेच होती हैं। यह रीढ़ को स्थिर करता है, और इसलिए किसी भी अनचाहे दबाव, वजन या स्ट्रेस जो पीठ को प्रभावित करता है से निजात मिलती है साथ ही  पीठ का दर्द भी कम होता है और आप रिलैक्स कर पाती हैं।

कैसे करें 

इस आसन को करने के लिए चटाई पर घुटने के बल बैठ जाएं। धीरे-धीरे झुकें और अपने माथे को चटाई पर रखें। फिर अपने हाथों को आगे की ओर चटाई पर रख दें ।

टिप: इस स्थिति में आप अच्छी तरह रिलैक्स कर पाएं इसके लिए ज़रूरी है कि आप लंबी और गहरी सांस लेना न भूलें। यह पीठ में किसी भी तरह के तनाव को दूर करने में मदद कर सकता है।

3 कपोतासन  (pigeon pose)

कबूतर मुद्रा यानी कपोतासन आपकी पीठ के निचले हिस्से को स्ट्रेच करने के लिए एक शानदार योगासन है। पर यह आपके कूल्हों और ग्लूट्स को भी फ्लेक्सिबल बनाता है। कमजोर ग्लूट्स या टाइट हिप फ्लेक्सर्स अक्सर पीठ पर अतिरिक्त तनाव पैदा करते हैं। जिससे गंभीर पीठ दर्द हो सकता है। अगर आपके साथ भी ऐसा है, तो यह आसन उस दर्द को कम करने का सबसे अच्छा तरीका है।

helps in backache
peeth dard men raahat deta hai

इसको करने के लिए अपनी मैट पर बैठ जाएं। एक पैर को पीछे की तरफ सीधा रखें और दूसरे को आगे की तरफ फोल्ड कर बैठ जाएं. ध्यान रहे दूसरा पैर आपके सामने होना चाहिए, काल्फ़ को जमीन में दबाते हुए पीछे की तरफ झुकें और फिर आगे की ओर।

टिप: अपने माथे को  घुटने से टाच होने तक आगे की ओर झुकें।

धनुरासन (bow pose)

यह बैकबेंड पोज़ न केवल आपकी पीठ बल्कि आपकी छाती और हृदय को फ्लेक्सिबल और हेल्दी बनाने का एक शानदार तरीका है। आपकी रीढ़ को मजबूत करने के साथ-साथ यह आपके हैमस्ट्रिंग को स्थिर करने में मदद करता है। यह पीठ के निचले हिस्से में दर्द को रोकता है। 

yah inner thighs muscles ko bhi stretch karta hai
यह इनर थाई की मांसपेशियों को भी खींचता है जिससे पीठ को आराम मिलता है

कैसे करें 

इस आसन को करने के लिए पेट के बल चटाई पर लेट जाएं। अपने पैरों को मोड़ें और उन्हें अपनी ओर तब तक ले जाएँ जब तक कि आप अपनी टखनों को पीछे से पकड़ न सकें। धीरे से अपने ऊपरी शरीर को तब तक उठाएं जब तक कि आपकी पसली, छाती, कंधे की गर्दन और सिर जमीन से ऊपर न आ जाएं। धीरे-धीरे अपने शरीर के आगे के हिस्से को जमीन से ऊपर उठाएं और टखनों को पकड़ना जारी रखें। ध्यान रहे आपकी ऊपरी जांघें और पेट और कूल्हे जमीन पर रहने चाहिए।

टिप: सांस लेती रहें अगर आपने सांस लेना बंद कर दिया तो इस आसन को करते हुए आप जल्दी थक जाएंगी। यह योगासन आपको थकाने के लिए नहीं राहत महसूस कराने के लिए है। 

  • 120
लेखक के बारे में
शालिनी पाण्डेय शालिनी पाण्डेय

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory