इस शोध के अनुसार दिन में सिर्फ 12 मिनट की एक्‍सरसाइज बढ़ा सकती है आपकी उम्र  

अगर आप अपनी उम्र बढ़ाना चाहती हैं, तो हर दिन मात्र बारह मिनट की एक्‍सरसाइज को अपने रूटीन में शामिल करें।
रनिंग के साथ-साथ एक्सरसाइज करना भी जरूरी है। चित्र- शटर स्टॉक।
विनीत Updated: 10 Dec 2020, 10:09 am IST
  • 84

कोरोनावायरस महामारी ने हमारे जीवन को पूरी तरह से बदल दिया है। यह साल हम सभी के लिए काफी कठिन रहा है। इस महामारी के दौरान जैसे हमारी रहन-सहन की स्थितियों में परिवर्तन हुआ है, उससे दुनिया भर में कोरोनावायरस मामलों में तेजी से वृद्धि हुई है। साथ ही हमारे बाहर जाने या जिम में वर्काउट करने के हमारे विकल्पों में भी कमी आई है।

वर्तमान स्थिति ने हमारी एक्सरसाइज या वर्कआउट करने की समान्य स्थिति को पूरी तरह से बदल दिया है। इस समय हम में से ज्यादातर लोग जिम या पार्क जाने से कतरा रहे हैं। लेकिन हमारे लिए वर्कआउट करना बहुत जरूरी है। क्या आप जानती हैं एक नए अध्ययन से पता चला है कि रोजाना नियमित रूप से कुछ मिनट एकसरसाइज करके आप लंबे समय तक जीवित रह सकती हैं।

क्या कहती स्टडी

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के जर्नल सर्कुलेशन (American Heart Association journal Circulation) में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार रोजाना दिन में कम से कम 12 मिनट एकसरसाइज करने से आपकी जीवन की प्रत्याशा (life expectancy) में वृद्धि हो सकती है। साथ ही यह आपके डायबिटीज और हृदय संबंधी रोगों के जोखिमों को भी कम कर सकता है।

यह भी पढ़ें: आपकी खाने की लत भी हो सकती है वजन बढ़ने का कारण, इन 5 तरीकों से पाएं इस आदत पर काबू

इस अध्ययन में 441 मध्यम आयु वर्ग के पुरुषों औ महिलाओं में सैकड़ों अलग-अलग पाचनतंत्रों के स्तर को देखा गया। जो कि गहन व्यायाम के लगभग 12 मिनट पहले और बाद में होता है।

एक्‍सरसाइज न केवल आपको शारीरिक रूप से फि‍ट रखती है, बल्कि यह आपको तनावमुक्‍त भी रखती है। चित्र : शटरस्‍टॉक

क्या निकला परिणाम

अध्ययन में पाया गया कि डीएमजीवी (DMGV) की मात्रा, जो कि एक बायोमार्कर (biomarker) है। यह फैटी लीवर की बीमारियों और दिल के दौरे के बढ़ते जोखिमों से जुड़ी है। उन लोगों में इसकी 18 प्रतिशत तक की कमी देखी गई। साथ ही ग्लूटामेट, जो कि हृदय संबंधी रोगों, डायबिटीज और छोटी जीवन प्रत्याशाा (shorter life expectancy) से जुड़ा हुआ है, इसमें 29 प्रतिशत की कमी आई है।

यह उन सभी लोगों के लिए बहुत ही अच्छी खबर है जो घातक बीमारियों से लड़ने के लिए रोजाना नियमित रूप से 12 मिनट वर्काउट कर सकते हैं। क्योंकि यह आपको लंबे समय तक जीवित रख सकता है।

अध्ययन में और क्या पाया

वैज्ञानिकों ने कहा कि वे इस मोलेक्युलर आधार (molecular underpinnings) को बेहतर तरीके से समझने लगें हैं, कि व्यायाम शरीर को कैसे प्रभावित करता है। हाई ब्लड प्रेशर या अन्य पाचनतंत्र संबंधी कारकों से पीड़ित लोगों के लिए वर्आउट काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। साथ ही यह उन्हें जीवन में जल्दी स्वस्थ पथ पर सेट कर सकता है।

यह भी पढ़ें: सब्जियां खाएं या उनका जूस पिएं, जानिए वेट लॉस के लिए क्या है ज्‍यादा बेहतर

तो अब समय आ गया है कि आप अपने व्यस्त कार्यक्रम में से उन 12 मिनटों को निकालें और वर्काउट करने के लिए तैयार हो जाएं।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें

  • 84
लेखक के बारे में

अपने प्यार में हूं। खाने-पीने,घूमने-फिरने का शौकीन। अगर टाइम है तो बस वर्कआउट के लिए। ...और पढ़ें

अगला लेख