सोने से पहले खाएंगे ये 6 तरह के फूड्स तो यकीनन बढ़ जाएगा वजन, रहें सावधान!

खाना हमें एनर्जी देने का काम करता है, मगर गलत डाइट मोटापे समेत कई बीमारियों का कारण साबित हो सकती है। आइए जानते हैं, वो फूड्स जिन्हें रात में खाने से बचें।
kharab khaanpaan ki aadtein ban sakti hain cancer ka karan
क्या खानपान की खराब आदतें बन सकती हैं वजन बढ़ने का कारण. चित्र ; शटरस्टॉक
ज्योति सोही Updated: 22 Feb 2023, 16:18 pm IST
  • 141

रात को देर तक जागना और कुछ न कुछ खाते रहना आपके शरीर के लिए नुकसान दायक साबित हो सकता है। ये हैबिट आपके मेटाबॉलिज्म (metabolism) को नुकसान पहुंचाती है और शरीर में हर वक्त थकान का अनुभव होने लगता है। विशेषज्ञों की मानें, जो खुद को फिट और हेल्दी बनाए रखने के लिए डिनर में एक नियमित डाइट लेना बेहद ज़रूरी। इसके अलावा कुछ ऐसे फूड्स भी हैं, जिन्हें रात में सोने से पहले खाने से बचना चाहिए। अगर आप भी रात को अपनी डाइट में इन चीजों को शामिल कर रही है (Foods to avoid before bedtime), तो हो जाएं सतर्क।

इस बारे में सी के बिरला अस्पताल गुरूग्राम में नुट्रिशियन एंव डायटीटिक्स, एचओडी प्राची जैन बता रही हैं कि हर व्यक्ति में भोजन की आवश्यकता एक दूसरे से अलग होती है। उनके मुताबिक सबसे पहले हमें अपनी बॉडी क्लॉक को समझना होगा। इसके अलावा हमारी डाइट बॉडी वेट, हाइट, जेंडर, आयु और थेराप्यूटिक कंडीशन (Therapeutic condition) पर निर्भर करती है। एक गलत अवधारणा है जिसके मुताबिक वजन कम करने के लिए हम रात का खाना छोड़ देते हैं।

भले ही हम रात को कोई एक्टिविटी नहीं करते हैं, मगर हमारा शरीर लगातार अपना काम कर रहा है। दरअसल, बॉडी में ब्लड फलो लगातार हो रहा है। इसके अलावा लग्स और ब्रेन भी अपना फंक्शन कर रहे हैं। ऐसे में हमारे शरीर को उस वक्त भी कैलोरीज को बर्न करने के लिए एनर्जी की आवश्कता होती है।

नुट्रिशियन एंव डायटीटिक्स, एचओडी प्राची जैन उन फूड्स के बारे में बता रहीं हैं, जिन्हें रात में लेना आपकी सेहत खराब कर सकता है

junk foods apki sehat hi nahi skin ko bhi nuksan pahuchate hain
जंक फूड आपकी सेहत ही नहीं, स्किन को भी नुकसान पहुंचाते हैं। चित्र : अडोबी स्टॉक

रात में खाएं ये 6 तरह के फूड्स तो निश्चित ही बढ़ेगा आपका वजन

1ऑयली, फ्राइड और हाइ फैट फूड

इस बात ध्यान रखें कि रात में ज्यादा तला हुआ खाना खाने से बचें। इसके अलावा पनीर, रेड मीट, बर्गर व पिज्जा को भी अवाइड करें। ये खाना खाने में जितना स्वादिष्ट होता है, उतना ही अधिक कैलोरीज़ से पूर्ण भी होता है। इनको पचने में समय की आवश्यकता होती है, जिससे इनडाइजेशन की समस्या होने लगती है। ऐसे में इन्हें रात में खाने से बचें।

2 एसिडिक और मसालेदार खाना

अगर खाने में बहुत अधिक तेल और मसाला मिला हुआ है, तो वो बहुत सी समस्याओं का कारण बन सकता है। दरअसल, खाने में इस्तेमाल किए जाने वाले ज्यादा मसाले और खटास एसिडिटी पेट में दर्द और एसिड रिफ्लक्स का कारण बन जाते हैं। इससे रात में पूरी तरह से नींद नहीं आ पाती है।

3 गैस फार्मिंग फूडस

रात को अगर सोने से पहले आप बेसन रेसिपीज़ काला चना, ब्रोकोली, राजमाह, चने, गोभी और फूलगोभी खाते हैं, तो इन्हें पचने में समय लगता है। पूर्ण रूप से पाचन क्रिया न हो पाने के कारण गैस्ट्रिक समस्याएं पैदा होने लगती हैं।

4 हाई फाइबर फूड्स

इसमें कोई दोरय नहीं है कि उच्च फाइबर खाद्य हमारे शरीर को फायदा पहुंचाते हैं। फाइबर रिच फूड यानि फल, सलाद, स्प्राउट्स और लेग्यूम्सहमारे शरीर को मज़बूती देते हैं। मगर इन्हें ब्रेकफास्ट में अगर आप खाते हैं, तो ये आपके शरीर को पोषण देने का काम करते हैं। अगर आप रात को सोने से पहले इन्हें खाते हैं, तो ये पेटदर्द का कारण साबित हो सकते हैं।

कॉफी या चाय में मौजूद कैफीन से बचें। चित्र : शटरस्टॉक

5 कॉफी

हांलाकि कॉफी फायदेमंद है, मगर रात के वक्त इसे पीना नुकसानदायक भी हो सकता है। दरअसल, रात के खाने के बाद इसे पीने से इसका प्रभाव नर्वस सिस्टम पर पड़ता है, जो आपका अधिक सतर्क कर देता है। ऐसे में नींद न आने की समस्या से आपको दो चार होना पड़ सकता है।

6 अल्कोहल और तरल पदार्थ

रात के समयस ज्यादा तरल पदार्थ लेने से बार बार यूरिन पास करने की समस्या बनी रहती है। ऐसे में रात के समय जूस, शराब और अन्य ड्रिंक्स को लेने से बचें।

तब कैसा होना चाहिए रात में लिया जाने वाला आहार

प्राची जैन के मुताबिक रात की डाइट में ताजा घर का बना खाना शामिल करना चाहिए। डिनर में सूप, हरी पकी हुई सब्जी, अनाज और दाल की कटोरी शामिल होना चाहिए जो कम कैलोरीज़ में भोजन को स्वस्थ बनाता है। साथ ही वजन कम करने में भी मदद करता है।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें

ये भी पढ़ें- राजमा, छोले या लोबिया, यहां जानिए लेग्यूम्स को पकाने और खाने का सही तरीका

  • 141
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख