और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

थकान और सुस्ती से परेशान हैं, तो इन 5 योगासनों के साथ दिन भर रहें एनर्जेटिक

Published on:19 September 2021, 09:21am IST
योग कई तरह के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है। इसके अलावा, आपके शरीर के ऊर्जा स्तर को बढ़ाने के लिए कुछ योगासन फायदेमंद साबित हो सकते हैं।
Grand Master Akshar
  • 150 Likes
oorja badhane ke liye yoga
आपको ऊर्जा प्रदान करेंगे ये योग आसान। चित्र : शटरस्टॉक

योग एक प्राचीन विज्ञान है, जिसने हमें स्वास्थ्य की सभी समस्याओं का हल करता आया है। योग आसन, प्राणायाम और ध्यान की प्रक्रिया के माध्यम से शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक कल्याण को प्रोत्साहित करता है। योग आपके समग्र कल्याण के लिए शरीर, मन और आत्मा पर काम करता है।

आसन वे शारीरिक मुद्राएं हैं, जिनका उपयोग आपकी शारीरिक शक्ति और लचीलेपन का निर्माण करने के लिए किया जा सकता है। योग आपके शरीर की गतिशीलता को बढ़ाता है, जिससे आपको अधिक ऊर्जावान महसूस करने में मदद मिलती है।

जानिए कैसे योग आपको ऊर्जावान बनाने में मदद करता है

यह साबित करने के लिए कई शोध किए गए हैं कि कैसे योगाभ्यास आपके सिस्टम में हैप्पी हार्मोन जारी करता है। ये हार्मोन आपको पूरे दिन खुशी और ऊर्जावान महसूस करने में मदद करते हैं। जो लोग योग का नियमित और लगातार अभ्यास करते हैं, वे खुशहाल और पूर्ण जीवन जीते हैं।

हमारे पास हैं वे 5 योगासन जो आपको ऊर्जावान महसूस कराने में मदद करेंगे।

1. वीरा भद्रासन

1: दाहिने पैर को आगे की ओर रखते हुए ‘अश्वसंचलानासन’ करें।
2: अपनी हथेलियों को ऊपर उठाएं और अपनी बाहों को अपने सिर के ऊपर उठाएं। अब अपनी पीठ को सीधा करें और बाजुओं को कानों के संपर्क में लाएं।
3: अपने दाहिने पैर को फैलाएं और बाएं पैर के पंजों पर संतुलन बनाएं। सीधे आगे 4की ओर देखें

warrior pose
योग कई तरह के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है। चित्र : Grand Master Akshar

2. कोबरा पोज (Bhujangasana)

1: पेट के बल लेट जाएं और हथेलियां कंधों के नीचे रखें।
2: अपने पैरों को एक साथ रखें, पैर की उंगलियों को जमीन पर रखें। श्वास लें और फिर अपने सिर, कंधों और धड़ को 30 डिग्री के कोण पर ऊपर उठाएं।
3: सुनिश्चित करें कि आपकी नाभि फर्श पर रहे, आपके कंधे चौड़े हों और सिर थोड़ा ऊपर की ओर उठा हुआ हो।

3. पद्मासन में मुष्टी मुद्रा (Mushti Mudra in Padmasana)

1: अर्ध-पद्मासन में बैठें, अपना दाहिना पैर अपनी बाईं जांघ के ऊपर रखें।
2: अपने बाएं पैर को ऊपर उठाएं और इसे अपनी दाहिनी जांघ पर ऊपर की ओर रखें। अपने पैरों को अपने कूल्हों के करीब खींचे।
3: अपने घुटनों को फर्श पर रखें। अपनी हथेलियों से मुट्ठी बनाएं और उन्हें अपने घुटनों पर रखें।

4. पश्चिमोत्तानासन (seated forward bend)

1: दंडासन से शुरू करें। सुनिश्चित करें कि आपके घुटने थोड़े मुड़े हुए हैं जबकि आपके पैर आगे की ओर खिंचे हुए हैं।
2: अपनी बाहों को ऊपर की ओर फैलाएं और अपनी रीढ़ को सीधा रखें।
3: सांस छोड़ते हुए, कूल्हे पर आगे झुकें और अपने ऊपरी शरीर को अपने निचले शरीर पर रखें।
4: अपनी बाहों को नीचे करें और अपने बड़े पैर की उंगलियों को अपनी उंगलियों से पकड़ें। अपने घुटनों को अपनी नाक से छूने की कोशिश करें।

Sirshasana
यह आसान आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। चित्रा : Grand Master Akshar

5. शीर्षासन (headstand)

1: वज्रासन मानकर शुरुआत करें। अपनी कोहनियों को जमीन पर रखें।
2: अपने सिर को अपनी हथेलियों के सामने फर्श पर रखें।
3: आपकी हथेलियां आपके सिर के पिछले हिस्से को सहारा देने का काम करेंगी। अपने पैर की उंगलियों के साथ अपने सिर की ओर चलें जब तक कि आपकी पीठ सीधी न हो जाए।
4: सबसे पहले अपने दाहिने पैर को ऊपर उठाएं और इसे अपने ऊपरी शरीर के साथ संरेखित करें। अपने संतुलन का प्रयोग करें और अपने बाएं पैर को ऊपर उठाएं।
5: अपने पैरों को मिलाएं और अपने पैर की उंगलियों को नीचे करें। जब तक आपसे हो तब तक इस स्थिति में रहें।

सलाह

गर्दन में दर्द, स्पॉन्डिलाइटिस और उच्च रक्तचाप वाले लोगों को इन आसनों का अभ्यास नहीं करना चाहिए।

योग आपके शरीर में ऊर्जा और सहनशक्ति जोड़ता है। यह विषाक्त पदार्थों को हटाता है, और आपको अतिरिक्त वजन कम करने में मदद करता है। यह शांति पैदा करता है और आपकी भावनाओं और मस्तिष्क को संतुलित करता है।

यह भी पढ़ें : पेट और कमर की चर्बी ने कर दिया है लुक खराब, तो हर रोज़ बस 10 मिनट कीजिए ये एक आसन

Grand Master Akshar Grand Master Akshar

Grand Master Akshar is an internationally acclaimed Spiritual yogic master. He is the founder, chairman and course director of Akshar Yoga and president of World Yoga Organisation. He is also the President of the International Siddha Foundation.