वैलनेस
स्टोर

क्या वज़न घटाने के लिए आपको फॉलो करनी चाहिए लिक्विड डाइट? आइए जानने की कोशिश करते हैं

Published on:14 March 2021, 13:30pm IST
वजन कम करने और बॉडी डिटॉक्‍स के लिए लिक्विड डाइट ली जा सकती है पर क्‍या इसे मुख्‍य भोजन के तौर पर इस्‍तेमाल करना सही है?
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 82 Likes
जानिए वेट लॉस के लिए लिक्विड डाइट है कितनी कारगर. चित्र : शटरस्टॉक

हम में से बहुत से लोग मोटापे की समस्या से ग्रस्त हैं और अपना वज़न कम करना चाहते हैं। इसके अलावा हेल्दी रहने और आकर्षक दिखने के लिए भी अतिरिक्‍त वजन कम करना जरूरी है। पर क्‍या इसके लिए लिक्विड डाइट बेहतर विकल्‍प है!

ये नया नहीं, पर सबसे ज्‍यादा लोकप्रिय ट्रेंड है। जब बात वजन घटाने की आती है आप खाना छोड़कर सूप और जूस लेने लगती हैं। जबकि पोषण विशेषज्ञ कार्ब्‍स और प्रोटीन को न छोड़ने की सलाह देते हैं। ऐसे में आपके लिए क्या सही है और क्या गलत इसका पता होना बेहद ज़रूरी है। हेल्थ शॉट्स के इस लेख में हम आपकी इसी परेशानी को दूर करेंगे और बताएंगे कि लिक्विड डाइट आपकी सेहत पर कितना और कैसा असर डालती है।

सबसे पहले जानते हैं कि क्‍या होती है लिक्विड डाइट

1.मील रिप्लेसमेंट

मील रिप्लेसमेंट डाइट में शेक शामिल होते हैं, जिनका सेवन भोजन के स्थान पर किया जाता है। ये शेक अक्सर लो कैलोरी होते हैं और अन्य भोजन की तुलना में और आपकी एक से अधिक मील्स को रिप्लेस कर सकते हैं।

उन्हें आपके शरीर में सभी पोषक तत्वों को शामिल करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। जिसमें मैक्रोन्यूट्रिएंट्स (प्रोटीन, कार्ब्स और वसा) और माइक्रोन्यूट्रिएंट्स (विटामिन और खनिज) शामिल हैं। कुछ लोग इन मील रिप्लेसमेंट का सेवन महीनों तक करते हैं।

लिउइड डाइट में हेल्दी शेक शामिल होते हैं. चित्र : शटरस्टॉक
लिउइड डाइट में हेल्दी शेक शामिल होते हैं. चित्र : शटरस्टॉक

2.डिटॉक्स डाइट

दूसरी तरह की लिक्विड डाइट में डिटॉक्स डाइट भी आती है। जिसमें, कई तरह के जूस और ड्रिंक्स शामिल होते हैं, जो आपकी बॉडी से विषाक्त पदार्थों को दूर करते हैं। इसके अलावा इस डाइट प्लान में लंबे वक्त तक वॉटर फास्टिंग शामिल है। मील रिप्लेसमेंट डाइट की तुलना में ये फल-सब्जियों और अन्य प्राकृतिक अवयवों के साथ डाइट प्लान किया जाता है।

3.मेडिकली प्रेसक्राइब्ड लिक्विड डाइट

क्लियर लिक्विड और फुल लिक्विड डाइट इसके कुछ उदाहरण हैं, जो स्वास्थ्य को देखते हुए लिए जाते हैं। जैसा कि नाम से ही पता चलता है कि क्लियर लिक्विड और फुल लिक्विड डाइट में पानी, एप्पल जूस, चाय, कॉफ़ी, स्पोर्ट्स ड्रिंक्स जैसी चीजें शामिल हैं। ये डाइट ज़्यादातर किसी ऑपरेशन के बाद प्रेसक्राइब्ड की जाती हैं।

क्या वज़न कम करने के लिए लिक्विड डाइट एक सही और स्वस्थ विकल्प है?

लिक्विड डाइट अन्य डाइट की तुलना में लो कैलोरी होती हैं और एक मील रिप्लेसमेंट डाइट में तकरीबन 500 से 1500 तक कैलोरीज होती हैं।

नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इनफार्मेशन के एक वेट लॉस अध्ययन में 24 मोटे लोगों ने 30 दिन तक लिक्विड डाइट का सेवन किया और मील रिप्लेसमेंट अपनाकर प्रतिदिन सिर्फ 700 कैलोरीज ही कंज्यूम की, बिना किसी ठोस खाद्य पदार्थ के। अगले 150 दिनों में, ठोस खाद्य पदार्थों को धीरे-धीरे फिर से शुरू किया गया। दैनिक कैलोरी का सेवन धीरे-धीरे 700 से 1,200 कैलोरी तक बढ़ गया।

लिक्विड डाइट आपका वज़न घटने में मददगार साबित हो सकती है । चित्र शटरस्टॉक।
लिक्विड डाइट आपका वज़न घटने में मददगार साबित हो सकती है । चित्र शटरस्टॉक।

यह अध्ययन वजन घटाने और शरीर की वसा को 33% से घटाकर 26% करने के लिए प्रभावी था।

अध्ययन से पता चलता है कि लो-कैलोरी लिक्विड डाइट (1,200-1,500 कैलोरी प्रतिदिन) वजन घटाने में मददगार साबित हो सकती हैं। लेकिन, जितनी कम कैलोरी वाली डाइट होगी रिस्क उतना ही ज्यादा होगा। जैसे कि कुछ व्यक्तियों में पित्ताशय की वृद्धि का जोखिम पाया गया।

तो क्‍या है अंतिम निर्णय

लिक्विड डाइट लो कैलोरी होने के कारण वज़न घटाने में सक्षम है, लेकिन इसके अपने जोखिम हो सकते हैं। इसलिए आप चाहें तो दिन में एक दो मील्स की जगह इन लिक्विड डाइट शेक को दे सकती हैं। पर पूरी तरह लिक्विड डाइट पर जाने की सलाह हम आपको नहीं देंगे।

यह भी पढ़ें : दिन में कितने घंटे साइकिल चलाना आपकी सेहत के लिए है फायदेमंद? जानिये क्या कहता है अध्ययन

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।