जी हां, मैदा है आपका वजन बढ़ाने के लिए जिम्मेदार, आज ही से छोड़ दें मैदा युक्त ये खाद्य पदार्थ

Published on: 6 February 2022, 08:00 am IST

ज्यादातर टेस्ट बड्स को सक्रिय करने वाले खाद्य पदार्थ मैदा से बने होते हैं। ये आपकी क्रेविंग को बढ़ाता है, लेकिन उतनी ही तेजी से यह आपके वजन को भी बढ़ा सकता है।

Aise khane ka parhej kare
अधिक खाने की आदत बन सकती है मोटापे का कारन। चित्र:शटरस्टॉक

ब्रेड से लेकर बिस्कुट तक, आप रोजाना अधिकांश खाद्य पदार्थों के माध्यम से मैदे का सेवन करती हैं। लेकिन सावधान! क्योंकि ये हो सकता है आपके बढ़ते वजन का कारण। मैदा विभिन्न चीज़े जैसे ब्रेड, बिस्कुट, मिठाई और अन्य रोजमर्रा के खाद्य पदार्थों को तैयार करने के लिए सबसे अधिक इस्तेमाल की जाने वाली सामग्री में से एक है। मैदा आपके लिए हेल्दी है या नहीं, इस पर बहुत बहस होती है। मगर सबसे ज्यादा खतरनाक है इसका मोटापा बढ़ाना। कई अध्ययनों में यह सामने आया है कि मोटापा अपने साथ कई और बीमारियां लेकर आता है। और अगर आप नियमित रूप से मैदे से बने आहार का सेवन करती हैं, तो यह दिनों दिन आपका वजन बढ़ा सकता है।

पहले जानिए क्यों स्वास्थ्य के लिए खतरनाक है मैदा से बने उत्पादों का सेवन

1. ब्लड शुगर लेवल बढ़ाता है (Increases blood sugar level)

मैदा में उच्च ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है, जिसका अर्थ है कि जब आप मैदे से बनी कोई चीज खाते हैं, तो आपके शरीर में बहुत अधिक मात्रा में चीनी निकलती है। यह सीधे आपके रक्तप्रवाह में जाती है और शरीर के रक्त शर्करा के स्तर को बढ़ाती है। मधुमेह रोगियों के लिए मैदा स्पष्ट रूप से स्वस्थ नहीं है। नियमित रूप से मैदे का सेवन करने से आपको मधुमेह होने का खतरा हो सकता है।

Blood sugar level uncontrollable hone lagta hai
ब्लड शुगर लेवल अनियंत्रित होने लगता है। चित्र:शटरस्टॉक

2. वजन बढ़ाते हैं मैदा से बने खाद्य पदार्थ (Causes obesity)

हमारे सभी पसंदीदा जंक फूड, पिज्जा से लेकर केक तक मैदा का उपयोग करके तैयार किए जाते हैं। यह वास्तव में शरीर के लिए अस्वास्थ्यकर होता है। यही एक कारण है कि पोषण विशेषज्ञ वजन घटाने के लिए जंक फूड से पूरी तरह परहेज करने की सलाह देते हैं। सेलिब्रिटी डायटीशियन रुजुता दिवेकर का मंत्र है, “जितना पैकेट खुलेगा, उतना पेट फूलेगा।” यानी बिस्कुट, कुकीज, ब्राउनीज जितनी भी चीजें पैकेट बंद बाजार में मिलती हैं, वे सभी आपको पेट पर चर्बी, गैस और पाचन संबंधी समस्याएं दे सकती हैं। जी हां, ब्रेड और नूडल्स भी मैदा से बने पैकेट बंद फूड हैं।

मैदा आपके शरीर की चयापचय दर को धीमा कर देता है। जब आप अधिक मैदे का सेवन करते हैं, तो आपका शरीर वसा को जलाना बंद कर देता है। वह इसके बजाय फैट को जमा करना शुरू कर देता है। यह अंततः वजन बढ़ने की ओर जाता है।

3. पाचन तंत्र के लिए खराब है मैदा (Affects digestive system)

क्या आप जानती हैं कि मैदा में बिल्कुल भी फाइबर नहीं होता? फाइबर स्वस्थ और मजबूत पाचन तंत्र के लिए आवश्यक है। हालांकि, मैदा जैसे खाद्य पदार्थों का सेवन करना जिनमें कार्ब्स की मात्रा अधिक होती है, आपके पाचन के लिए बहुत अच्छे नहीं होते हैं।

जब आप मैदा का सेवन करते हैं, तो यह आपकी आंतों में गोंद की तरह चिपक जाता है और इससे छुटकारा पाना मुश्किल हो जाता है। इसके अलावा, मैदा आपके पेट में अच्छे बैक्टीरिया की वृद्धि नहीं करता है, जिससे पाचन स्वास्थ्य में समस्याएं हो सकती हैं।

Yah digestion ko prabhavit karta hai
यह पाचन को प्रभावित करता है। चित्र : शटरस्टॉक

4. हड्डियों को कमजोर करता है (Weakens bones)

ऑल पर्पस आटा यानी मैदा अम्लीय प्रकृति का होता है। जब आप इसका अधिक मात्रा में सेवन करते हैं, तो हड्डियों का घनत्व कम हो जाता है। मैदे में उच्च मात्रा में एसिड की उपस्थिति से गठिया और सूजन जैसी हड्डियों से संबंधित कई समस्याएं हो सकती हैं।

5. खराब कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है (Increases bad cholesterol)

खराब कोलेस्ट्रॉल का स्तर होना आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। मैदा खाने से शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ने लगता है, जिससे हृदय रोग भी हो सकता है।

6. आपको भूखा रखता है (Keeps you hungry)

केक, बर्गर, कुकीज, ब्राउनीज, नूडल्स जब आप मैदे से बनी किसी भी चीज का सेवन करते हैं तो आपको ज्यादा भूख लगती है। आप मिठाई और अधिक जंक फूड के लिए तरसते हैं और बहुत अधिक कैलोरी का सेवन करते हैं। जो आपके शरीर के लिए हानिकारक हैं और मोटापे का कारण बन सकते हैं।

इसलिए मैदा से बने इन खाद्य पदार्थों को आज ही से छोड़ दें

सफेद आटा या भारत में लोकप्रिय रूप से मैदा के रूप में जाना जाने वाला आटा है। यह मूल रूप से गेहूं का आटा है जिसे प्रोसेस और रासायनिक रूप से रिफाइन किया जाता है। इस प्रक्रिया के दौरान, गेहूं के आटे से कीमती फाइबर, बी विटामिन और आयरन छीन लिया जाता है।

Junk food khane se bache
जंक फूड खाने से बचें। चित्र:शटरस्टॉक

जो लोग नियमित रूप से मैदा या सफेद आटे का सेवन करते हैं, उनमें वजन बढ़ने, मोटापा, टाइप 2 मधुमेह, इंसुलिन प्रतिरोध और उच्च कोलेस्ट्रॉल का खतरा बढ़ जाता है।

आप वास्तव में सफेद आटे का सेवन कर रहे होंगे, यह जाने बिना कि ये खाद्य पदार्थ मैदा से बने होते हैं। इसलिए लेडीज, इन फूड आइटम से परहेज करें।

  1. पिज्जा और पास्ता
  2. नान और तंदूरी रोटी
  3. केक और कुकीज़
  4. बर्गर बन्स
  5. समोसा
  6. नूडल्स

एक स्वस्थ और पौष्टिक आहार चुनें और अपने स्वास्थ्य पर पूर्ण नियंत्रण रखने के लिए नियमित रूप से ब्लड टेस्ट करवाएं।

यह भी पढ़ें: डियर लेडीज, वेट लॉस में भी मददगार है पीली सरसों, जानिए कैसे करना है इनका इस्तेमाल

अदिति तिवारी अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें