जानिए वजन घटाने के लिए क्यों जरूरी हैं हिप ओपनिंग एक्सरसाइज

Published on: 11 November 2021, 12:23 pm IST

जब आपके हिप्स टाइट होते हैं तो ये कमर पर लोड बढ़ाते हैं, जिसका असर स्टेमिना पर पड़ता है। इसलिए वेट लॉस करने की योजना है, तो पहले हिप ओपनिंग एक्सरसाइज के बारे में भी जान लें।

वेट लॉस करने की योजना है, तो करें हिप ओपनिंग एक्सरसाइज। चित्र : शटरस्टॉक

कोरोना महामारी के बाद से ज़्यादातर लोग अपने घरों में कैद हैं। यूं तो अब लॉकडाउन खुल चुका है और लोगों नें ऑफिस जाना भी शुरू कर दिया है। मगर कुछ लोग अभी भी घर से काम कर रहे हैं। वर्क फ्रम होम हम सभी के लिए बेहद सुविधाजनक तरीका है। लेकिन इसने हम सभी की जीवनशैली को गतिहीन बना दिया है।

पूरा दिन बैठकर लैपटॉप पर काम करने की वजह से हमारे पैर, पीठ और कूल्हे अकड़ सकते हैं। शायद आपने यह भी महसूस किया होगा कि आप में पहले जैसा स्टेमिना (Stamina) नहीं रहा। मगर कुछ आसान हिप ओपनिंग एक्सरसाइज़ की मदद से आप अपना लचीलापन और गतिशीलता (Flexibility) वापस ला सकती हैं। साथ ही, वजन भी कम कर सकती हैं, क्योंकि पैरों, जांघों और कूल्हों की चर्बी सबसे जिद्दी होती हैं।

इसलिए, आज इस लेख में हम आपको बताएंगे कुछ बेहतरीन हिप ओपेनिंग एक्सरसाइज (Hip Opening Exercise) और वज़न घटाने के लिए उनके फायदे। मगर उससे पहले जान लेते हैं इस एक्सरसाइज के बारे में –

Toned hips ke liye hip opening exercise
टोंड हिप्स पाने के लिए करें हिप ओपनिंग एक्सरसाइज। चित्र:शटरस्टॉक

क्या है हिप ओपनिंग एक्सरसाइज (Hip Opening Exercise)?

जैसा कि इस एक्सरसाइज के नाम से पता चलता है यह हिप ओपनर है। यानी कूल्हों को खोलती हैं। इनसे संबंधी समस्याओं को दूर करती है और उन्हें ठीक करने में मदद करती है। यदि आपके कूल्हों की मांसपेशियां कमजोर हैं, तो आपको उठने-बैठने में तकलीफ हो सकती हैं।

साथ ही, आपका पॉस्चर भी खराब हो जाएगा। इसके अलावा यह वज़न घटाने में मदद करती हैं क्योंकि इसे करने से पैरों और कूल्हों की मांसपेशियां टोन होती हैं।

जानिए क्यों जरूरी है वर्कआउट में हिम ओपनिंग एक्सरसाइज शामिल करना

शरीर के संतुलन में सुधार होता है
ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाती हैं
चोट के जोखिम को कम करती हैं
गतिशीलता बढ़ाए और पैरों को टोन करे
पैरों और कूल्हों की मांसपेशियों को टोन करे

ये 3 हिप ओपनिंग एक्सरसाइज कर सकती है वेट लॉस में आपकी मदद

1. स्टैंडिंग लंज स्ट्रेच (Standing Lunge Stretch)

अपने पैरों को कंधे की चौड़ाई के बराबर अलग रखकर खड़े हो जाएं। अपने एब्स को इंगेज करें और अपने कंधों को नीचे करें।
अब अपना दाहिना पैर आगे बढ़ाएं।
अपने शरीर को तब तक नीचे रखें, जब तक कि आपकी दाहिनी जांघ फर्श के समानांतर न हो जाए। अपनी दाहिनी पिंडली को थोड़ा आगे झुकाएं।
अपने कूल्हों पर थोड़ा आगे झुकें, अपनी पीठ को सीधा रखें। 15 से 30 सेकंड के लिए इस पोज को होल्ड करें। 2 से 4 रेप्स के एक सेट से शुरू करें।
खड़े होने के लिए अपने दाहिने पैर को पुश करें और दूसरे पैर से दोहराएं।

लंजेज आपके घुटनों का फर्म करते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

2. स्पाइडरमेन स्ट्रेच (Spiderman Stretch)

अपने हाथों और पैरों की उंगलियों को ज़मीन पर रखें और पुश-अप स्थिति में शुरू करें।
फिर दाहिने घुटने को अपनी दाहिनी कोहनी के पास रखें।
अब अपने कूल्हों को नीचे करें। 30 सेकंड के लिए होल्ड करें।
पुश-अप स्थिति में लौटें।

3. साइड एंगल पोज (Side Angle Pose)

अपने पैरों को 3 या 4 फीट अलग रखें।
फिर बाएं पैर को बाहर की ओर और अपने दाहिने पैर को 45 डिग्री पर घुमाएं।
अपने बाएं घुटने को 90 डिग्री तक मोड़ें। अपनी बाहों को कंधे की ऊंचाई तक उठाएं।
अपने बाएं हाथ को फर्श पर और अपने दाहिने हाथ को अपने सिर के ऊपर फैलाएं।
अपने धड़ को आगे की ओर करें। 3 से 5 सांसों तक होल्ड करें।
रिलीज करें और अपनी बाहों को कंधे की ऊंचाई पर लौटाएं। दोनों पैरों को आगे की ओर इंगित करें।
फिर दाईं ओर दोहराएं।

तो लेडीज अपनी हिप ओपनिंग एक्सरसाइज से अपने हिप मसल्स को स्ट्रेच और मजबूत करें।

यह भी पढ़ें : इस मौसम हेल्दी वेट लॉस करना चाहती हैं, तो शलजम बन सकती है आपकी दोस्त

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें