सिर दर्द से लेकर एंग्जाइटी तक, कई गंभीर समस्याएं दे सकती है जरूरत से ज्यादा एक्सरसाइज

Published on: 11 May 2022, 21:00 pm IST

एक तय शेप में आने के लिए अगर आप आजकल दिन रात एक्सरसाइज में जुटी हैं, तो सावधान हो जाइए! इससे आपको स्वास्थ्य संबंधी कई परेशानियां हो सकती हैं।

jyada exercise karne se sir dard axiety badh sakati hai
जरूरत से ज्यादा एक्सरसाइज सिरदर्द, एंजाइटी बढ़ा सकती है। चित्र : शटरस्टॉक

बेस्टी की शादी का कार्ड आते ही हम अपने फेवरिट लहंगे में फिट होने का टारगेट सेट कर लेते हैं। और फिर शुरू हो जाती है फैट टू फिट होने की जी तोड़ कोशिश। फिर चाहें मासंपेशियां दर्द से कराहने लगें या हमें खुद ही सिर दर्द जैसी समस्याओं का सामना करना पड़े। असल में एक्सरसाइज के ओवरडोज के कारण हमें कई सारी हेल्थ प्रॉब्लम्स का सामना करना पड़ सकता है। एक्सपर्ट मानते हैं कि एक्सरसाइज मेडिसिन के समान है। यदि इसे बहुत ज्यादा किया जाए, तो यह हमारी हेल्थ के लिए (too much exercise side effects) खतरनाक भी साबित हो सकता है। यदि आप एक्सरसाइज करने के दौरान या उसके बाद स्वयं को बहुत थका हुआ महसूस करती हैं, तो आपको एक्सरसाइज करना तुरंत रोक देना चाहिए।

ज्यादा एक्सरसाइज के बारे में क्या कहती है स्टडी?

ऑकलैंड यूनिवर्सिटी में एक्सरसाइज करने वाले लोगों पर एक रिसर्च हुई। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन से जुड़े और ऑकलैंड यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर बैरी ए फ्रैंकलिन ने रिसर्च के आधार पर यह निष्कर्ष निकाला कि जिन लोगों ने हफ्ते में पांच दिन सिर्फ 20 मिनट तक एक्सरसाइज किया, वे उन लोगों के स्वास्थ्य की तुलना में बेहतर पाए गए। जिन्होंने सप्ताह के 7 दिन सुबह, शाम लगातार कई घंटों तक एक्सरसाइज की थी। एक्सरसाइज के दौरान इस बात का जरूर ध्यान रखा जाना चाहिए कि आपका ब्लड प्रेशर न बढ़ता हो, हार्ट संबधित कोई दिक्कत न हो। ऐसा होने पर तुरंत डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।

यह भी पढ़ें :- सबके लिए नहीं है मेथी का पानी, यहां जानिए इसके 9 साइड इफेक्ट

कितनी एक्सरसाइज है ज्यादा एक्सरसाइज

कितनी एक्सरसाइज को एक्सरसाइज की ओवरडोज कहा जा सकता है, इस विषय पर हमने बात की वेलनेस एक्सपर्ट डॉ. जितेंद्र खन्ना से। डॉ खन्ना बताते हैं कि सप्ताह में 5 से 6 दिन तक सुबह या शाम 30 से 40 मिनट तक एक्सरसाइज करना पर्याप्त है। इससे ज्यादा एक्सरसाइज को हम एक्सरसाइज की ओवरडोज (Overdose of exercise) कह सकते हैं।

saptah me 5 ya 6 din subah ya sham 30 se 40 minute exercise paryapt hai
सप्ताह में 5 से 6 दिन तक सुबह या शाम 30 से 40 मिनट तक एक्सरसाइज करना पर्याप्त है। चित्र :- शटरस्टॉक

डॉ. खन्ना के अनुसार महिलाएं स्वयं को फिट रखने के लिए बहुत अधिक एक्सरसाइज करने की बजाय सुबह आधे घंटे एक्सरसाइज कर सकती हैं। इसके अलावा, वे वॉकिंग को प्राथमिकता दे सकती हैं। शुरुआत में वे 1.5 से 3 मील प्रति घंटे की रफ्तार से चलें। फिर गति को धीरे-धीरे 4 मील प्रति घंटे तक बढ़ाया जा सकता है। उन्हें यह भी ध्यान रखना होगा कि जमीन समतल हो। बॉडी को आराम भी चाहिए। यह आगे केे एक्सरसाइज सेशन के लिए बहुत जरूरी है।

बहुत अधिक एक्सरसाइज से हो सकती हैं ये स्वास्थ्य समस्याएं

कोई भी काम करने के बाद बहुत ज्यादा थकान का अनुभव
थकान होने पर मन उदास होना या मूड स्विंग या चिड़चिड़ापन
सोने पर मांसपेशियों में दर्द या अंगों में भारीपन महसूस होना
कमर या बट के पास खिंचाव हो जाना
अधिक सर्दी लगना, वजन बहुत अधिक कम होना
हमेशा चिंतित रहना भी एक्सरसाइज के ओवरडोज का परिणाम हो सकता है।

यह भी पढ़ें :- क्या बीमार होने पर भी किया जा सकता है वर्कआउट? हम बता रहे हैं इसका जवाब

इन समस्याओं से कैसे उबरा जा सकता है?

यदि आप बहुत अधिक एक्सरसाइज कर रही हैं और इनमें से कोई भी लक्षण आपमें मौजूद हैं, तो एक्सरसाइज करना कम कर दें। 1 या 2 सप्ताह के लिए पूरी तरह से आराम करें। यदि आप 1 या 2 सप्ताह के आराम के बाद भी थका हुआ महसूस करती हैं, तो तुरंत अपने डॉक्टर से मिलें। आपको एक महीने या उससे अधिक समय तक आराम करने की जरूरत हो सकती है।

kisi prakar ki samasya ho to kuchh din aaram krein
थकान या मांसपेशियों में दर्द होने की शिकायत हो तो कुछ दिन आराम करें। चित्र : शटरस्टॉक

ओवरडोज से बचने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

सबसे पहले तो यह जान लें कि सप्ताह में 5 या 6 दिन तक सुबह 30-40 मिनट एक्सरसाइज करना पर्याप्त है।
यह भी जांचें कि आप जो एक्सरसाइज कर रही हैं, उस स्तर के लिए पर्याप्त कैलोरी ले रही हैं या नहीं।
एक्सरसाइज करते समय पर्याप्त पानी का सेवन करें।
अत्यधिक गर्मी या अत्यधिक ठंड पड़ने पर एक्सरसाइज स्किप करें।
अच्छा महसूस न करने पर या स्ट्रेस में होने पर एक्सरसाइज न करें।
हर रात कम से कम 8 घंटे की साउंड स्लीप लें। तभी एक्सरसाइज आपकी बॉडी को फिट रख सकेगा।

यह भी पढ़ें :- इन सेलेब्स के लिए फायदेमंद साबित हुई इंटरमिटेंट फास्टिंग, देखिए फैट टू फिट जर्नी

स्मिता सिंह स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें