और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

एक्सरसाइज के लिए टाइम नहीं? तो खड़े होकर कम करें फैट और रहें फिट

Published on:18 September 2021, 08:00am IST
क्या आपकी दिनचर्या इतनी व्यस्त है कि आप एक्सरसाइज के लिए वक्त नहीं निकाल पातीं? तो हम बता रहे है कि कैसे केवल खड़े होकर सफर करना आपको वेट लाॅस में मदद कर सकता है।
अदिति तिवारी
  • 98 Likes
exercise ke liye samay na ho toh khade rehkar kare travel
एक्सर्साइज़ के लिए समय न हो तो खड़े रहकर करें ट्रैवल। चित्र: शटरस्टॉक

सर्वे द्वारा पता चल है कि एक व्यक्ति औसतन 8 घंटे बैठकर काम करता है। अपने काम पर समय पर पहुंचने और कॉर्पोरेट जगत में अपनी जगह बनाने की भाग-दौड़ में अपना स्वास्थ्य दाव पर लगा देते है। इन सब में आपकी शारीरिक गतिविधि शून्य के बराबर होती है और आप विभिन्न प्रकार के रोग से ग्रसित होते है। लेकिन इस जटिल परिस्थिति से बचने के लिए हम बता रहे हैं एक ऐसा उपाय जिसमें आपको एक्सरसाइज के लिए अलग से समय निकालने की आवश्यकता नहीं है। आप अपने ऑफिस आते-जाते समय खड़े होकर सफर कर सकते है।

क्या कहता है शोध? 

यूरोपियन हार्ट जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन से पता चला है कि खड़े रहने से कोलेस्ट्रॉल (cholesterol), रक्त शर्करा (blood sugar) में सुधार हो सकता है और आपके खून में फैट का स्तर कम हो सकता है। 

अध्ययन में लगभग 800 लोगों को शामिल किया गया था, जिन्होंने ऐक्टिविटी मॉनिटर पहने थे। जो ट्रैक करते थे कि वे 7 दिनों में कितनी देर तक सोते हैं, बैठते हैं, खड़े होते हैं, चलते हैं या दौड़ते हैं। उन्होंने पाया कि दिन में दो घंटे खड़े रहने से ब्लड शुगर लेवल 2% और ब्लड फैट 11% कम हो जाता है। यह ब्लड में एचडीएल (HDL), या “गुड” कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को भी बढ़ाता है, जो सभी हृदय स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है।

lambe samay tak baithkar kaam karne se swasthya ko nuksaan hota hai
लंबे समय तक बैठकर काम करने से स्वास्थ्य को नुकसान होता है। चित्र: शटरस्टॉक

जाहिर है, हम सभी जानते हैं कि चलने और दौड़ने का स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है, लेकिन जो बात इस अध्ययन को इतना दिलचस्प बनाती है, वह यह है कि खड़े रहने पर भी कई फायदे होते हैं। इसमें 2-मील दौड़ने या 4-मील चलने की तुलना में बहुत कम ऊर्जा की आवश्यकता होती है।

खड़े होकर सफर करना आपके लिए अच्छा क्यों है? 

शोधकर्ताओं का मानना ​​है कि खड़े होने से आपके पेट, बट और पैरों की मांसपेशियों का व्यायाम होता है जो आपको लंबे समय तक सीधा रखने के लिए आवश्यक हैं। 

मांसपेशियों के व्यायाम से रक्त शर्करा (blood sugar) और खून में फैट के स्तर को नियंत्रित करने में मदद मिलती है, जिससे कोलेस्ट्रॉल (cholesterol) कम हो सकता है।

 शोधकर्ताओं ने कहा कि इससे मधुमेह और हृदय रोग का खतरा कम हो सकता है।

यह स्वास्थ्य लाभ आपके खड़े होकर सफर करने के लिए काफी हैं। तो लेडीज़ अगर आप एक्सरसाइज के लिए टाइम नहीं निकाल पाती हैं, तो खड़े रहकर खुद को फिट रखें। 

तो अब जानिए कि काम के बीच आप बैठने और खड़े होने का संतुलन कैसे बना सकती हैं 

विशेषज्ञ हर 30 मिनट के काम के लिए 20 मिनट बैठने की सलाह देते हैं। 20 मिनट के बाद आपको उठना चाहिए और 8 मिनट तक खड़े रहना चाहिए तथा 2 मिनट तक घूमना चाहिए। यह औसतन पूरे काम में 32 बार खड़े होने और बैठने के बराबर है।

har 20 minute par khade hone se aapka heart rahega healthy
काम के बीच हर 20 मिनट पर खड़े होने से आपका हार्ट रहेगा हेल्दी। चित्र: शटरस्टॉक

हमें पता है कि ऐसा कहना आसान लगता है, लेकिन कुछ सरल तरीके हैं जिनसे आप अपने कार्य दिवस में अधिक खड़े हो सकते हैं:

1. एक स्टैंडिंग डेस्क का उपयोग करें

स्टैंडिंग डेस्क ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करते हैं और आपको एक्स्ट्रा कैलरी बर्न करने में मदद कर सकते हैं। 

2. मल्टीटास्क: 

यदि आप अपना अधिकांश कार्य कॉन्फ़्रेंस कॉल पर बिताते हैं, तो एक ब्लूटूथ या वायरलेस हेडसेट का इस्तेमाल करें। जिसका उपयोग आप एक ही समय में चलने और बात करने के लिए कर सकते हैं।

3. सक्रिय रहें : 

यदि आप जानते हैं कि आप दिन के अधिकांश समय डेस्क पर बैठे रहते हैं , तो जहां और जब भी संभव हो वहां सक्रिय रहें। इसमें आप लिफ्ट के बजाय सीढ़ियों का उपायोग, गाड़ी दूर पार्क करना शामिल कर सकते हैं। आप ऑफिस ब्लॉक के चारों ओर 5 या 10 मिनट की पैदल दूरी तय कर सकते हैं। इससे आप प्रत्येक दिन कुछ एक्स्ट्रा कदम चल सकते है।अपने लंच ब्रेक के हिस्से का भी उपयोग करें।

office housr ke dauraan bhi sirf kursi par na baithe
अपने ऑफिस आवर्स के दौरान भी सिर्फ कुर्सी पर न बैठे रहें, बल्कि छोटे- छोटे काम करने के लिए खुद उठें। चित्र: शटरस्टॉक

 4. टीवी का समय कम करें: 

आप में से अधिकांश लोग टीवी देखने में बहुत अधिक समय व्यतीत करते हैं। टीवी का समय कम करने से आपकी संपूर्ण फिटनेस में सुधार होगा।

5. अपनी गतिविधि को ट्रैक करें

बाजार में बहुत सारे उपकरण हैं जो आपको ट्रैक करते हैं कि आप हर दिन कितने कदम चलते हैं। यह अपने आप को जवाबदेह रखने का एक शानदार तरीका है और यह सुनिश्चित करता है कि आपने एक दिन में 10,000  कदम चलने के लक्ष्य को पूरा करें। 

ये सभी छोटे-छोटे बदलाव आपको और अधिक एक्टिव बना देंगे। चाहे खड़े हों, चल रहे हों या दौड़ रहे हों, आप जितना कम बैठेंगे, आपकी सेहत के लिए उतना ही अच्छा है।

यह भी पढ़ें: पेट और कमर की चर्बी ने कर दिया है लुक खराब, तो हर रोज़ बस 10 मिनट कीजिए ये एक आसन

अदिति तिवारी अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !