वैलनेस
स्टोर

क्या आपका पॉश्चर भी हो सकता है बैली फैट बढ़ने का कारण, तो जवाब है हां

Published on:17 July 2021, 09:00am IST
मोटे होना और मोटे दिखना दोनों ही आपकी उपस्थिति पर नकारात्मक प्रभाव डालते हैं। साथ ही खराब पॉश्चर आपके पेट और बैक में अतिरिक्त फैट जमा करने में योगदान करता है।
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 84 Likes
खराब पॉश्चर आपके पेट की चर्बी बढ़ाने में योगदान करता है। चित्र : शटरस्टॉक

वज़न घटाने की कोशिश कर रही हैं? क्या आपने भी सारी डाइट और एक्सरसाइज आज़मा ली हैं! मगर फिर भी आपका बेली फैट कम होने का नाम ही नहीं लेता है? अगर हां.. तो हो सकता है कि इसके लिए आपकी एक आदत ज़िम्मेदार हो। अगर आपका बॉडी पॉश्चर ख़राब है, तो यह भी आपके बैली फैट को प्रभावित कर सकता है। चलिए पता करते हैं-

हम में से अधिकांश लोग ख़राब पॉश्चर में बैठते हैं। ऐसी कई चीजें हैं, जिनकी वजह से हमारा पॉश्चर ख़राब हो जाता है जैसे – देर तक कंप्यूटरों पर काम करना, स्मार्टफोन और टैबलेट आदि का देर तक इस्तेमाल करना, आलस्य और अनियमित दिनचर्या। अत्यधिक बैठने और झुकने से हमें सामान्य पोस्टुरल विकारों का विकास हो सकता है, जिनमें शामिल हैं:

एंटीरियर पेल्विक टिल्ट
पोस्टुरल किफोसिस
फॉरवर्ड हेड पॉश्चर

यहां हैं ख़राब बॉडी पॉश्चर के कुछ नुकसान

जब आपका बॉडी पॉश्चर ख़राब होता है, तो यह एंटीरियर पेल्विक टिल्ट का कारण बन सकता है। इस स्थिति में आपका पेट हमेशा बाहर की तरफ निकला हुआ दिखाई देता है। जबकि आपके कंधे आगे की ओर झुके हुए दिखेंगे।

ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आपके कूल्हे ख़राब पॉश्चर की वजह से बाहर की तरफ निकले हुए नज़र आते हैं, जिससे आपके बैली फैट का भ्रम पैदा होता है।

खराब पॉश्चर से कई स्वास्थ्य समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं। चित्र : शटरस्टॉक

यह आमतौर पर तब होता है जब हमारे ग्लूट्स, हैमस्ट्रिंग या पेट की मांसपेशियां कमजोर होती हैं। ख़राब बॉडी पॉश्चर न सिर्फ आपको बड़े पेट का भ्रम कराता है, बल्कि पूरे शरीर में दर्द और जकड़न का अनुभव होता है।

पॉश्चर को सही करने और बैली फैट को कम करने के लिए अपनाएं ये टिप्स –

पेट कम करने की दिशा में पहला कदम सीधे होकर बैठना है। यह वास्तव में कुछ अलग प्रभाव डालता है। सबसे पहले, स्लाउचिंग पेट की चर्बी को बढ़ाता है। इसलिए बस बैठने से आप स्लिमर दिखेंगे।

दूसरा, उचित आसन आपकी पीठ की ताकत में सुधार करने में मदद करता है, जो निश्चित रूप से उचित मुद्रा को लंबे समय तक बनाए रखना आसान बनाता है।

खराब पॉश्चर से कमर दर्द होता है, जिससे पेट की एक्सरसाइज मुश्किल हो जाती है। अच्छी मुद्रा होने से आपके लिए अपने पेट की मांसपेशियों की एक्सरसाइज करना और पेट कम करना आसान हो जाएगा।

अंत में, एक अच्छा सीधा पॉश्चर पूरे शरीर में रक्त के प्रवाह को बढ़ाता है। विशेष रूप से पैरों और पीठ के निचले हिस्से में, जो दोनों पेट के कई व्यायामों में शामिल होते हैं।

इसलिए, यदि आप अपना पेट कम करने की कोशिश कर रही हैं, तो पहला कदम यह है कि जितनी बार संभव हो सके सीधे बैठें और खड़े हों।

यह भी पढ़ें : बैली फैट कम करना है, तो सिट अप्स कीजिए, हम बता रहे हैं इसके ढेर सारे फायदे

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।