वैलनेस
स्टोर

जंक फूड की एडिक्शन छोड़ना चाहती हैं, तो ये टिप्स करेंगे आपकी मदद

Published on:24 July 2021, 10:30am IST
मोटापा, एजिंग और डिप्रेशन भी, जंक फूड की ओवर डोज आपकी सेहत को कई समस्याएं दे सकती है। यह जानते हुए भी अगर आप इसकी एडिक्शन से उबर नहीं पा रहीं, तो ये टिप्स आप ही के लिए हैं।
मोनिका अग्रवाल
  • 96 Likes
जंक फूड की एडिक्शन छोड़ने के लिए आपको दृढ़ इच्छाशक्ति की जरूरत होगी। चित्र: शटरस्टॉक
जंक फूड की एडिक्शन छोड़ने के लिए आपको दृढ़ इच्छाशक्ति की जरूरत होगी। चित्र: शटरस्टॉक

जंक फूड स्वाद में जितना मजेदार लगता है, यह सेहत के लिए उतना ही खतरनाक होता है। इसके बावजूद हम इन्हें लगातार खाते हैं। वीकेंड पर तो और भी ज्यादा। वैसे भी इनकी आदत लगने के बाद जंक फूड छोड़ना बहुत ही मुश्किल होता है। आप खुद न चाहते हुए भी इनकी तरफ खिंचीं चली जाती हैं। जंक फूड आपकी सेहत के लिए ही नहीं बल्कि आपके लुक्स के लिए भी हानिकारक हैं। तो अगर आप इन्हें छोड़ना चाहती हैं, तो हम आपकी मदद कर सकते हैं। 

क्या कहते हैं एक्सपर्ट

कोलंबिया एशिया हॉस्पिटल में आहार विशेषज्ञ, शालिनी गार्विन ब्लिस के मुताबिक अधिक जंक फूड खाने से आपकी शेप खराब होने लगती है। बढ़ता हुआ मोटापा और कई बीमारियों को निमंत्रण देता है। इसके बाद सीखने और मैमोरी संबंधी समस्याएं, भूख और पाचन में कमी, मानसिक अवसाद आदि भी हो सकते हैं। अगर आप जंक फूड छोड़ना चाहती हैं, लेकिन छोड़ नहीं पा रही हैं तो इन टिप्स को अपनाएं।

जंक फूड एडिक्शन छोड़ने के लिए अपनाएं ये तरीके 

फैट और मीठे की अधिकता के कारण देश भर में मोटापा बढ़ा है।चित्र : शटरस्टॉक
फैट और मीठे की अधिकता के कारण देश भर में मोटापा बढ़ा है।चित्र : शटरस्टॉक

1 बदलाव लाने का दृढ़ निश्चय कर लें

इसका मतलब यह होता है कि अपनी पुरानी जिंदगी जीने का रूटीन छोड़ कर अपनी जिंदगी में कुछ नया और बेहतर लाने के लिए निर्णय करें। जब तक आप अपने मन को दृढ़ नहीं बनाएंगी और एक मजबूत इरादा नहीं रखेंगी, तब तक कोई भी टिप आपको खाने से नहीं रोक सकती।

इसलिए अगर आप वजन कम करना चाहती हैं या अपनी खाने की हैबिट में बदलाव चाहती हैं तो आपको एक दृढ़ निश्चय करना ही होगा।

यह भी पढ़ें-बच्चे के बार-बार बीमार पड़ने की वजह कहीं इंडोर एलर्जी तो नहीं? जानिए इसके बारे में सब कुछ

2 अपनी क्रेविंग के कारणों को समझें 

आपको सबसे पहले यह जान लेना चाहिए की वह कौन सी चीजें हैं जो आपकी क्रेविंग को ट्रिगर कर रही है। इन फैक्टर्स को बदलने की कोशिश करें। जैसे उदाहरण के तौर पर अगर आपको स्ट्रेस के समय कुछ मीठा खाने का मन करता है, तो आप इसकी बजाए एक वॉक पर जाने की आदत बनाने की कोशिश करें और अपने मन को भटकाने की कोशिश करें।

3 एक मील प्लान बनाएं

जब आप खाने में बदलाव लाने की कोशिश कर रही हैं, तो आपको अपनी मील तैयार कर लेनी चाहिए। मील प्लानिंग से आप समय-समय पर हेल्दी चीजें खाती रहेंगी, जिससे आपको बाहर की चीजों की याद नहीं आएगी और आपकी क्रेविंग भी कम होंगी।

4 अपना ध्यान हटाने की कोशिश करें 

आप एक आदत को तब तक नहीं बदल सकती हैं, जब तक आप उसके लिए कोई विकल्प नहीं खोज लेतीं। अगर आपकी खाना खाने के बाद कुछ डेजर्ट या चॉकलेट आइस क्रीम खाने की आदत है, तो आप इस आदत को हर्बल चाय के साथ रिप्लेस कर सकती हैं। 

अपने लिए कुछ हेल्दी विकल्प तैयार रखें। चित्र: शटरस्टॉक
अपने लिए कुछ हेल्दी विकल्प तैयार रखें। चित्र: शटरस्टॉक

अगर आप बोर होने की वजह से कुछ खाने का मंगवा रही हैं, तो इसकी बजाए अपने अगले हफ्ते के शेड्यूल की प्लानिंग करना शुरू कर दें।

यह भी पढ़ें-इस मानसून अपनी त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए अपनाएं यह आसान स्किन केयर रूटीन

5 अपने लक्ष्य को एक पेज पर लिखें 

अगर आपका हेल्दी लाइफस्टाइल बनाने का या वजन कम करने का एक फिक्स लक्ष्य है, तो उसे एक पेज पर लिख लें और उसे जब भी आपका बाहर की चीज खाने का मन करे तब पढ़ लें।

6 जंक फूड को घर पर स्टोर न करें

जिन जंक फूड की शौकीन हैं, अगर आप उन चीजों को घर में रखेंगी तो बोर होने पर या खाली समय मिलने पर आप उन्हें खा सकती हैं। लेकिन अगर आपके घर में कुछ खाने की चीज होगी ही नहीं तो आप उन्हें नहीं खा सकतीं। इसलिए अन हेल्दी चीजों को अपने घर में न रखें।

इन सभी टिप्स का पालन करने के साथ साथ आपने खुद के साथ थोड़ी सख्ती भी बरतें क्योंकि अगर एक बार जंक फूड  खाने की आदत छूट गई तो आप आराम से अपना लक्ष्य पा सकती हैं ।

मोनिका अग्रवाल मोनिका अग्रवाल

स्वतंत्र लेखिका-पत्रकार मोनिका अग्रवाल ब्यूटी, फिटनेस और स्वास्थ्य संबंधी विषयों पर लगातार काम कर रहीं हैं। अपने खाली समय में बैडमिंटन खेलना और साहित्य पढ़ना पसंद करती हैं।