क्वारंटीन में बढ़े हुए वजन को घटाने के लिए मैंने हर रोज सीढ़ियां चढ़ी और देखिए इसका असर

लॉकडाउन के दौरान मुझे एहसास हुआ कि बढ़े हुए वजन को कम करने के लिए असल में जिम और फैंसी उपकरणों की जरूरत नहीं होती। रोजमर्रा के काम भी अपना असर दिखाते हैं।
sidhiyan chadhna ek behtar vyam hai
सीढ़ि‍यां चढ़ना एक बेहतरीन एक्‍सरसाइज है। चित्र: शटरस्‍टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Updated: 10 Dec 2020, 14:00 pm IST
  • 78

कई सालों पहले, मैंने पॉप स्टार, मैडोना के बारे में पढ़ा था। वे बता रहीं थीं कि दुनिया भर में भ्रमण करते समय वे होटल में सीढ़ियों का ही उपयोग करती थी। संभवत: यह उनका तरीका था खुद को फि‍ट रखने का ऐसे समय में, जब उन्‍हें वर्कआउट के लिए पूरा समय नहीं मिल पाता था। 

लगभग एक दशक बाद, मैडोना की सलाह मेरे लिए एकदम सहीजुगाड़़ साबित हुई है। हालांकि, इस बार, समय की कमी मुख्‍य कारण नहीं थी। वास्तव में, कोविड -19 महामारी के कारण जब जिम बंद हो गए थे। तब मुझे यह घर पर वर्कआउट करने का एकमात्र तरीका लगा। 

आप हैरान हैं कि मैंने ‘Stairing’ यानी सीढ़ियां चढ़ना क्यों शुरू किया ?

निश्चित रूप से, फिटनेस ब्लॉगर्स, प्रशिक्षकों और कोच की कोई कमी नहीं है, जो ऑनलाइन मुफ्त में या पेड वर्कआउट सेशन करवा रहे हैं। YouTube पर ज़ंबा/नृत्य/बॉलीवुड वर्कआउट की भी काफी सारी क्‍लासेस हैं जो वाकई काम करती हैं। 

लेकिन इसके लिए काफी धैर्य की जरूरत होती है। सबसे पहले वह वीडियो ढूंढना और फि‍र  टीवी स्क्रीन के सामने खड़े होकर पूरे 40 मिनट तक वर्कआउट सेशन को फॉलो करना जब त‍क कि वह खत्‍म न हो जाए, इसके लिए बहुत ज्‍यादा धैर्य और इच्‍छा शक्ति की जरूरत होती है। कसम से ये मेरे वश का नहीं है। 

हालांकि, मेरी चिन के साथ ही मेरा पेट भी बाहर लटकने लगा था। इसका श्रेय उन कुकिंग एक्‍सपेरीमेंट्स को जाता है, जो मैंने क्‍वारंटीन के दौरान किए। खासतौर से वह स्‍नैकिंग जो हम कभी-कभी खुद को बोर होने से बचाने के लिए शुरू कर देते थे। जाहिर है, इस बढ़े हुए वजन से छुटकारा पाने के लिए मुझे कुछ तो करना ही था। 

शुरू करें सीढ़ियां चढ़ना 

फिटनेस-फ्रीक लिफ्ट की बजाए सीढ़ियों से चढ़ने की वकालत करते हैं। लेकिन मेरे जैसे लोग, जिन्हें सचमुच अपनी कमर के बढ़ते हुए आकार को नियंत्रित करने की जरूरत है, उन्‍हें इसी तरह का कोई हाई इंटेसिटी वर्कआउट करना चाहिए। 

कम से कम यही मैंने किया। अपने घर की तीन मंजिला इमारत में तेजी से सीढ़ियां चढ़तेे हुुुए  ऊपर गई और फि‍र नीचे आई। दो मिनट के ब्रेक के बाद , ता‍कि सांस ले सकूं, फि‍र से वही करनाा शुरू किया। जब तक कि मैंने इसके कई राउंड पूरे नहीं कर लिए।

पहले दिन, मैंने इसके तीन राउंड किए और सप्ताह के अंत तक, मैंने 10 से 15 मिनट के भीतर सात राउंड पूरे किए। 

अब, यदि आप पहले से ही इतनी छोटी अवधि में चढ़ाई करने के लिए मेरी सहनशक्ति की सराहना कर रहे हैं, तो मैं यह स्वीकार करना चाहती हूं कि यह वास्तव में मेरा लालच था जिसने मुझे अपनी क्षमता को बढ़ाने के लिए प्रेरित किया।  10 मिनट सीढ़ी चढ़ने के तीन दिनों के बाद, मैंने देखा कि मेरा पेट कुछ कम होने लगा है।

अब, आप चाहें तो इसका श्रेय मेरी शरीर की प्रकृति को दे सकते हैं, जिसमें मैंने अपर बॉडी से फैट जल्‍दी लूज किया। पर वास्‍तव में सच्‍चाई यह है कि क्‍वारंटीन के निष्क्रिय से दिनों में मुझे यह बेहतर वर्कआउट लगा। जिससे मुझे खुद को फि‍ट रखने में मदद मिली। पर इसके साथ ही निश्चित रूप से मैंने अपनी डाइट पर भी ध्‍यान दिया। जिससे स्‍टेयरिंग का इफैक्‍ट ज्‍यादा दिखा।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें

वजन कम करने का आसान, शॉर्ट और इफैक्टिव तरीका, विज्ञान भी करता है इसका समर्थन

लेडीज, अगर आपको लगता है, मैं सीढ़ियां चढ़ने की बहुत ज्‍यादा वकालत कर रही हूं तो आपको कोरियन जर्नल ऑफ स्पोर्ट्स मेडिसिन में प्रकाशित इस अध्‍ययन पर भी ध्‍यान देना चाहिए। जिसमें कहा गया है कि सीढ़ी चढ़ने से हमें वजन घटाने में मदद मिलती है।

intuitive eating
सीढ़ि‍यां चढ़ना, साइकिल चलाना और ट्रेडमिल की तुलना में अधिक कैलोरी बर्न कर सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

तथ्य यह है कि इसे हाई स्‍पीड में करने पर आप गहरी सांस लेते हैं। इसका मतलब है कि यह आपके हार्ट पंप को किसी भी अन्य कार्डियो व्यायाम से ज्‍यादा सक्रिय बना देता है। और इस तरह आप ज्‍यादा कैलोरी बर्न कर पाती हैं। 

कहने की जरूरत नहीं कि सीढ़ियां  चढ़ने से आपके हृदय स्वास्थ्य को भी लाभ होता है। इसके अतिरिक्त, पसीना आने और ब्‍लड सर्कुलेशन में सुधार होने से आपकी स्किन भी ग्‍लो करने लगती है। इस वर्कआउट के दौरान आपके पैर और पैर की मांसपेशियों का भी अच्‍छा उपयोग होता है। जिससे वे टोन-अप हो जाती हैंं। इससे आपका निचले शरीर को भी मजबूती मिलती है।

लेकिन, यह ध्यान रहे 

सीढ़ियां चढ़ना काफी मजेदार खेल है और इसके फायदे भी हैं। पर अगर आपके घुटने में किसी तरह की चोट या समस्या है तो आपको इसे से बचना चाहिए। वरना इससेे घुटने पर अतिरिक्त दबाव पड़ता है जो नुकसानदायक है। 

इसके अलावा, आपको सीढ़ियों पर चढ़ते समय सही पोश्‍चर का भी ध्‍यान रखना है। जिसमें आपको बिल्‍कुल सीधे रहना है। तो अगर आप अभी आप इसकी शुरूआत कर रहीं हैं, तो हो सकता है कि आपकी स्‍पीड कम हो। पर धीरे-धीरे शुरूआत करना ही आपके लिए बेहतर होगा। 

  • 78
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख