डियर लेडीज, क्या नवंबर-दिसंबर में आपका भी वजन बढ़ जाता है? जानिए इसके लिए जिम्मेदार 4 कारण

Published on: 12 November 2021, 08:00 am IST

सर्दियों का मौसम आते ही आप बढ़ते वजन को लेकर चिंतित हो जाते हैं। लेकिन इस परेशानी को दूर करने के लिए कुछ जरूरी बातों का अभी से ख्याल रखना है जरूरी।

Winter weight gain se bachne ke tips
विंटर वेट गेन से राहत पाने के लिए इन टिप्स को फॉलो करें। चित्र:शटरस्टॉक

कपकपाती ठंड और गरम स्वादिष्ट भोजन! यह कॉम्बो लगभग सबको पसंद होगा। लेकिन सर्दियों के महीनों में वजन बढ़ने की चिंता लगातार लगी रहती है। यह आपके पूरे साल के डाइट और एक्सरसाइज को प्रभावित कर सकता है। लेकिन हम आपकी मेहनत को असफल नहीं हों देंगे, क्योंकि हम बता रहें हैं कुछ जरूरी बातें जिनका आपको सर्दियों में ध्यान रखना चाहिए। 

क्यों सर्दियों में बढ़ जाता है वजन? 

हॉर्मोन के स्तर में बदलाव, त्योहारों और छुट्टियों के बाद का का स्ट्रेस, शारीरिक गतिविधियों में कमी, आदि आपके विंटर वेट गेन (winter weight gain) के मुख्य कारण हैं। दिसम्बर-जनवरी का महीने में आप गाजर का हलवा, हॉट चॉकलेट, मीठा, ऑयली फूड, आदि खाने के लिए तैयार रहते हैं। ये हाई कैलोरी से भरे खाद्य पदार्थ आपके वजन को तुरंत बढ़ा देते हैं। दिवाली, क्रिसमस, न्यू ईयर की पार्टियों में भी अपनी क्रेविंग को रोकना कठिन हो जाता है।

बिंज इटिंग का यह मौसम स्वाभाविक रूप से आपके बढ़ते वजन का कारण बन जाता है। न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन के अनुसार सर्दियों में वजन बढ़ना कोई कल्पना या भ्रम नहीं है। यह वास्तविकता है, जिससे आप सबको बचने की जरूरत है। 

Binge eating hai weight gain ka kaaran
बिंज इटिंग है वेट गेन का कारण। चित्र : शटरस्टॉक

यहां हैं विंटर वेट गेन के कुछ मुख्य कारण 

1. फेस्टिवल और पार्टी का अस्वस्थ भोजन 

दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ अपनी हेल्दी डाइट को फॉलो करना मुश्किल हो जाता है। वो भी जब बात पार्टी या गेट-टुगेदर की हो। ऐसे में ऑयली तथा मीठा और अन्य हाई कैलोरी खाद्य पदार्थों को नजरअंदाज करना संभव नहीं होता। सर्दियों में कैलोरी इंटेक बढ़ जाता है, लेकिन आलस और ठंड के कारण इसे बर्न करना मुश्किल हो जाता है। यह आपके बढ़ते वजन का सबसे बड़ा कारण है। 

2. आलस और शारीरिक गतिविधि में कमी 

लगभग पूरी सर्दी कंबल में बैठकर मूवीज और बिंज वॉचिंग करने के बाद आपका शरीर आलसी हो सकता है। सर्दियों के मौसम में आप आम तौर पर कम सक्रिय होते हैं। जिसके कारण कैलोरी जलने में परेशानी होती है।  2011 के गैलप और हेल्थवेज सर्वेक्षण के अनुसार, दिसंबर में व्यायाम का अभ्यास अपने सबसे निचले स्तर पर आ जाता है। नियोजित व्यायाम के अलावा, सर्दियों के दौरान शारीरिक गतिविधि भी कम हो सकती है।

सर्दी में अधिक आलस के कारण लोग मॉर्निंग वॉक, साइकिल चलाना, एक्सरसाइज, आदि गतिविधियां नहीं कर पाते हैं। यहां तक कि काम के बीच में अपने लंच ब्रेक के दौरान बाहर टहलना अधिक कठिन या कम आकर्षक हो सकता है।

3. काम का तनाव 

सर्दी की छुट्टियों और त्योहारों के बाद काम पर वापस लौटना आपको अचानक बहुत तनाव दे सकता है। उच्च मात्रा में तनाव, नींद की कमी के साथ, शरीर में तनाव हार्मोन जैसे कॉर्टिसोल (cortisol) और एड्रेनालाईन (adrenaline) में वृद्धि का कारण बन सकता है। आपके बढ़ते वजन के पीछे इन हॉर्मोन का महत्वपूर्ण योगदान होता है। ये हार्मोन आंत में वसा की मात्रा में वृद्धि करते हैं, जो आपका शरीर स्टोर करता है।

4. हॉर्मोनल स्तर में बदलाव 

सर्दियों में महिलाओं में एस्ट्रोजन के स्तर में गिरावट और पुरुषों में कम टेस्टोस्टेरोन की संभावना हो सकती है। इस समय आपका  चयापचय भी धीमा होने लगता है, जिससे वजन बढ़ सकता है।

लेकिन केवल यही हॉर्मोन आपके वजन को नहीं बढ़ाते है। शोध से पता चला है कि मेलाटोनिन का स्तर, आपके नींद के चक्र के लिए जिम्मेदार है। साथ ही सर्दियों के दौरान शरीर में 80 प्रतिशत तक भूख में वृद्धि हो जाती है। बाधित नींद भूख को बढ़ा सकती है, जो हाई कैलोरी ​​खाद्य पदार्थों के अधिक सेवन में योगदान दे सकती है। जिससे वजन बढ़ने की संभावना बढ़ सकती है।

Irregular sleep bhi weight gain ka kaaran hai
अनियमित नींद भी बढ़ते वजन का कारण है। चित्र: शटरस्टॉक

पर क्या इसे कंट्रोल किया जा सकता है? जवाब है हां 

सर्दियों में अधिकांश लोगों का वजन काफी तेजी से बढ़ता है। रिसर्च के अनुसार, इस मौसम में खानपान में बदलाव और धूप की कमी के कारण वजन बढ़ना स्वाभाविक है। ऐसे में पेट के जिद्दी फैट को कम करने और वजन को नियंत्रित रखने के लिए इन बातों का ध्यान रखना जरूरी है। 

1. फिटनेस रूटीन का पालन करें 

एक नियमित व्यायाम आपको विंटर ब्लूज से बाहर निकलने में मदद करेगा। कितनी भी ठंड हो, अपने आप को फिटनेस के प्रति जागरूक रखें। यह वजन घटाने के साथ आपके शरीर को गरम भी रखेगा। लगातार व्यायाम करने से आपकी इम्यूनिटी मजबूत होगी और आप मौसमी संक्रमण से लड़ पाएंगे। नियमित फिटनेस शेड्यूल सेट करना सर्दियों में वजन कम करने में मदद करता है। आप वॉकिंग, जॉगिंग, साइकिल चलाना, या जुम्बा और एरोबिक्स जैसी अन्य कार्डियो एक्सरसाइज भी कर सकते हैं।  

2. सर्दियों की हेल्दी फल और सब्जियों का सेवन 

बढ़ते वजन को रोकने के लिए कम कैलोरी वाले खाद्य पदार्थ का सेवन जरूरी है। सर्दियों के मौसम में विभिन्न प्रकार के फल और हरी सब्जियां उपलब्ध होती है। यह आपके दैनिक पोषक तत्वों की जरूरतों को पूरा करता है। हेल्दी होने के साथ आप इसके इस्तेमाल से कई प्रकार के स्वादिष्ट भोजन भी बना सकते है। यह आपके टेस्ट बड्स को भी सक्रिय रखने में मदद करता है। 

इसके अलावा अखरोट, बीज, बींस, अनाज, दाल, अंडा, आदि आपको भरपूर मात्रा में प्रोटीन प्रदान करते हैं। यह प्रोटीन आपके पेट को लंबे समय तक भरा रखता है और मांसपेशियों का निर्माण भी करता है। इनका सेवन मेटाबोलिज़्म को बढ़ाता है और मीठा या जंक फूड की क्रेविंग को भी कम करता है। 

ye foods karen shamil
आहार आपके समग्र स्‍वास्‍थ्‍य को प्रभावित करता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

3. अल्कोहल का सेवन न करें 

सर्दियों में शरीर को गरम रखने के लिए शराब और वाइन का सेवन आम बात है। लेकिन शराब कैलोरी से भरी हुई होती है। चूंकि कई छुट्टियों के समारोहों में शराब पीना शामिल है, इसलिए बिना जाने आप बहुत अधिक कैलोरी का सेवन कर लेते हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि शराब की कैलोरी को कम करने के लिए प्रत्येक ड्रिंक से पहले और बाद में एक गिलास पानी या डाइट सोडा का सेवन करें। 

तो लेडीज, विंटर वेट गेन का तनाव न लें, क्योंकि स्ट्रेस से भी वजन बढ़ता है। इसलिए बिना डरे केवल इन जरूरी बातों का ध्यान रखें। 

यह भी पढ़ें: जानिए वजन घटाने के लिए क्यों जरूरी हैं हिप ओपनिंग एक्सरसाइज

अदिति तिवारी अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें