फॉलो
वैलनेस
स्टोर

हठ योग या विन्यास योग, एक्‍सपर्ट बता रहे हैं आपके लिए दोनों में से क्‍या है बेहतर विकल्प

Published on:5 January 2021, 09:54am IST
अगर आप इसकी तलाश कर रही हैं कि आपके लिए कौन सा योगाभ्यास बेहतर है, तो चलिए हम आपको हठ योग और विन्यास योग के बारे बारे में बताते हैं। दोनों के ही अपने अलग-अलग फायदे हैं।
Grand Master Akshar
  • 70 Likes
एक्‍सपर्ट बता रहे हैं हठ योग और विन्‍यास योग के बारे में।

हठ योग एक प्राचीन पारंपरिक पद्धति है जिसे सावधानीपूर्वक निरीक्षण और करीबी मार्गदर्शन के साथ सिखाया जाता है। हठ योग हिमालय की एक गोपनीय कला है, जिसके कई गहरे रहस्य हैं। हठ योग में उपयोग की जाने वाली विधियाँ अत्यंत सुरक्षित हैं और निर्देशित पर्यवेक्षण के साथ प्रचलित हैं।

वहीं दूसरी ओर विन्यास योग एक ऐसा अभ्यास है, जहां आप एक मुद्रा से दूसरी मुद्रा में प्रवाहित होते हैं। विन्यास का अर्थ है प्रवाह, या आत्मक जिसका अर्थ है एक के बाद एक आसन। योग में, एक और प्रत्येक आसन में शक्ति, लचीलापन और अंग के कार्यों में सुधार के साथ ही कई स्वास्थ्य संबंधी लाभ शामिल हैं।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

जब कई अलग-अलग आसन एक अनुक्रम के रूप में एक साथ आते हैं, तो यह मूवमेंट का एक गतिशील संयोजन बनाते है जो स्वास्थ्य में सुधार करता है, इम्युनिटी को बढ़ाता है और शरीर के समग्र कल्याण के लिए काम करता है।

दोनों अभ्यासों के बीच समानता यह है कि दोनों एक वैज्ञानिक अभ्यास के दायरे में आते हैं। जिसका अर्थ है कि वे संरेखण और श्वास तकनीक के कुछ बुनियादी नियमों का पालन करते हैं।

हठ और विन्यास योग में क्या अंतर है?

यदि आप एक आध्यात्मिक साधक (spiritual seeker) हैं, जो जीवन के संबंध में कुछ अर्थ खोज रही हैं, और इसकी एक बड़ी तस्वीर तलाश रही हैं। तो ऐसे में हठ योग अभ्यास आपके लिए है।

शरीर का लचीलापन बढ़ाने के लिए दोनों ही फायदेमंद हैं। चित्र :  योग गुरू अक्षर
शरीर का लचीलापन बढ़ाने के लिए दोनों ही फायदेमंद हैं। चित्र : योग गुरू अक्षर

हठ योग दर्शन (philosophy) आपको कई आध्यात्मिक सवालों के जवाब खोजने में मदद करता है, और अस्तित्व और ब्रह्मांड के रहस्यों की गहराई में पहुंचाता है। यदि आपकी तरक्की का विचार ज्ञान का निर्माण करना है और फिर अपनी सफलता पाना है, तो हठ योग आपके लिए है।

लेकिन अगर आप योग को अपनाने के लिए मुद्राओं और मूवमेंट के प्रवाह का आनंद लेने में रुचि रखती हैं तो विन्यास योग की सलाह दी जाती है। विन्यास योग उन लोगों के लिए है जो सत्य की खोज नहीं कर रहे हैं या किसी भी बड़े सवालों के जवाब नहीं तलाश रहे हैं।

विन्यास योग मूवमेंट-संबंधी अभ्यास के लिए बहुत अच्छा है, जिसके जरिए आप वजन घटाने, शरीर में लचीलापन और ताकत के अन्य भौतिक लाभों का आनंद ले सकती हैं। हठ योग के आसन विन्यास के भीतर भी समाहित हैं। विन्यास योग मूवमेंट्स के अनुक्रम में हठ योग के जैसे आसन भी शामिल हैं।

भौतिक बनाम आध्यात्मिक

अंतर यह है कि विन्यास योग विशुद्ध रूप से एक शारीरिक अभ्यास है जबकि हठ योग आपके सभी सवालों का जवाब देता है कि क्या वे सिद्धांत या आपके अभ्यास से संबंधित हैं।

योग आपके तन-मन को स्‍वस्‍थ रखता है। चित्र :  योग गुरू अक्षर
योग आपके तन-मन को स्‍वस्‍थ रखता है। चित्र : योग गुरू अक्षर

हठ योग आपकी मूलभूत शिक्षा हो सकती है और प्राचीन हिमालयी विज्ञान के इस अभ्यास से आपको कई लाभ होंगे। इसके अलावा हठ योग एक कठोर अभ्यास है, जो नियमों का पालन करता है। साथ ही आसनों और श्वास तकनीकों के एक निश्चित अनुक्रम का भी पालन करता है।

हठ योग में कोई लचीलापन नहीं है, लेकिन दूसरी ओर आप अपनी दिनचर्या में सांस लेने के व्यायाम के क्रम पर बिना किसी सीमा के विन्यास योग का अभ्यास कर सकती हैं।

अपनी रुचि, जीवनशैली की आदतों और आप जो सीखना चाहती हैं, उसके आधार पर आप हठ योग या विन्यास योग का चुनाव कर सकती हैं। दोनों आपको शारीरिक, मानसिक, भावनात्मक और आध्यात्मिक रूप से अनेक लाभ प्रदान करते हैं।

यह भी पढ़ें – ध्‍यान केंद्रित करने के लिए शिल्पा शेट्टी कुंद्रा फॉलो करती हैं श्‍वास तकनीक, जानिए इसके फायदे

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Grand Master Akshar Grand Master Akshar

Grand Master Akshar is an internationally acclaimed Spiritual yogic master. He is the founder, chairman and course director of Akshar Yoga and president of World Yoga Organisation. He is also the President of the International Siddha Foundation.