आपका बच्चा भी अगर मोटा होता जा रहा है, तो ये मील प्लान कर सकता है आपकी मदद

बच्चे सेहतमंद ही अच्छे लगते हैं। पर अगर उनका वज़न सेहत से आगे बढ़कर मोटापे की तरफ जा रहा है, तो आपको उनके आहार और लाइफस्टाइल दोनों में बदलाव करने की जरूरत है।

Bahcho ko obesity se bachayec
बच्चों को मोटापे की परेशानियों से बचाएं। चित्र:शटरस्टॉक
Vidhi Chawla Published on: 7 November 2021, 08:00 am IST
  • 105

माता पिता अपने बच्चे को सही वजन ( weight )  हासिल करने और उस वजन को बनाए रखने में मदद करने में अहम भूमिका निभाते हैं। आप एक अभिभावक के रूप में अपने बच्चे के लिए बहुत कुछ कर सकते हैं। अपने बच्चे के वजन के प्रति सक्रिय रहना और उसे पौष्टिक खाना खिलाना बहुत महत्वपूर्ण है। आप अपने बच्चे और अपने पूरे परिवार को स्वस्थ रखने की आदत डालने के लिए बहुत अहम भूमिका निभा सकते हैं। इसके लिए आपको बिल्कुल भी परेशान होने की आवश्यकता नहीं है।

जिन बच्चों का शुरू से ही वजन ज्यादा होता है, बड़े होते-होते उनका वजन और बढ़ने की संभावनाएं होती हैं। इस बात को सभी जानते हैं कि ज्यादा वजन कई प्रकार की बीमारियां लेकर आता है। जिसमें दिल की बीमारी और कैंसर ( Cancer ) का नाम सबसे बड़ा है। आज हम आपको ऐसा डाइट प्लान( diet Plan) और टिप्स बताएंगे जिसकी सहायता से आप अपने बच्चों में हेल्दी हैबिट्स (Healthy habits)  डेवलप कर सकेंगे।

चलिए जानते हैं क्या है बच्चों में हेल्दी हैबिट ( Healthy habits ) डिवेलप करने के तरीके

1. पूरे परिवार की हेल्दी खाने की आदत  

कोई भी आदत घर से ही शुरू होती है। अगर पूरा परिवार हेल्दी खाना खाने की आदत में है,  तो बच्चे के मोटापे को रोकने और उसका इलाज करने में काफी आसानी होगी। बच्चा देख देख कर कुछ आदतों में अपने आप को ढालेगा। उदाहरण के तौर पर यदि कोई बच्चा अपने माता-पिता को फल और हरी सब्जियां खाते हुए देखेगा, तो उसकी हेल्दी डाइट तय करने में समस्याएं नहीं होंगी।

Bachcho ke liye healthy diet
बच्चों में हेल्दी डाइट की आदत डालें। चित्र:शटरस्टॉक

2. अपने बच्चों के साथ चर्चा करें कि सेहत के लिए क्या अच्छा है और क्या नहीं 

अपने बच्चों के साथ इस बारे में बात करें कि वह कैसे फिजिकल एक्टिविटीज के साथ-साथ अच्छा और सेहतमंद खाना खाने से अपने शरीर को मजबूत और फिट रख सकते हैं। 

3. बच्चों से रोजाना एक घंटा कराएं फिजिकल एक्टिविटी 

बच्चों को आउटडोर गेम्स खेलने के लिए प्रेरित करना चाहिए। अगर बच्चा मोबाइल, लैपटॉप या फिर कंप्यूटर में जुटा रहता है, तो उसको इन सब चीजों से कुछ समय के लिए दूर रखने का प्रयास करना चाहिए।

4. बच्चों को दें बेहतर नींद 

किसी भी बच्चे के लिए नींद पूरी होना बहुत आवश्यक है। हालांकि नींद और वजन के बीच संबंध को समझने के लिए शोध चल रहे हैं। अब तक किए गए अध्ययनों में कहा गया है कि बच्चों और बड़ों में अधिक वजन को नींद की कमी से जोड़ा जा सकता है।

मोटापे से लड़ने के लिए कैसे डाले बच्चों में ईटिंग हैबिट

हाई-कैलोरी, हाई-फैट, हाई-शुगर, और हाई-सॉल्ट फूड्स, ड्रिंक्स और स्नैक्स का सेवन कम करने के अलावा, आप अपने बच्चों को नीचे दिए गए विकल्पों पर भी गौर करवाएं। इससे आपका बच्चा हेल्दी खाने के लिए प्रेरित होगा- 

Bachcho ke saath vyayam kare
अपने बच्चों के साथ नियमित व्यायाम करें। चित्र : शटरस्टॉक
  • फल, सब्जियां और साबुत अनाज जैसे ब्राउन राइस
  • हाई फैट वाले मांस के बजाय, लीन मीट, समुद्री भोजन, सेम और मटर, सोया और अंडे चुनें
  • फुल क्रीम मिल्क के बजाएं, लो फैट मिल्क, या दूध के किसी ऐसे प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें जिसमें विटामिन डी और कैल्शियम शामिल हो।
  • मिल्क शेक या आइसक्रीम के बजाय, लो फैट वाली चीज़ खिलाएं।
  • हर कीमत पर सोडा या शुगर युक्त कोल्ड ड्रिंक पीने से अपने बच्चे को रोकें।

यहां है बच्चों के डाइट प्लान का सैंपल

  • सुबह-सुबह: गुनगुना पानी, 5 भीगे हुए बादाम
  • नाश्ता : वेज पोहा/ओट्स, चीला/सब्जी, इडली/रागी चीला + दूध + 2 अंडा
  • लंच से पहले एक फल
  • लंच : सलाद + 1 या 2 चपाती + कोई भी दाल/चिकन/पनीर +दही
  • रात का खाना 8 बजे तक : सलाद + चपाती + वेज ओट्स या सैंडविच
  • रात के खाने के बाद (आधे घंटे के बाद): चिया सीड वाटर या लेमन सीड वाटर

कैलोरी या भोजन योजना दिन-प्रतिदिन बदल सकते हैं।

यह भी पढ़ें:यहां हैं वे 4 एक्सरसाइज जो आपके हिप्स को मजबूत बना सकती हैं, जानिए करने का तरीका

  • 105
लेखक के बारे में
Vidhi Chawla Vidhi Chawla

Vidhi Chawla is a dietitian and the owner of Fisico Diet Clinic.

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory