पिलाटीज़ करते समय आपको चोट भी लग सकती है, जानिए इस दौरान आपको क्या करना है और क्या नहीं

Published on: 29 July 2022, 08:00 am IST

पिलाटीज एक बेहतरीन एक्सरसाइज है और इन दिनों तेजी से लोकप्रिय हो रही है। पर किसी और को देखकर इसे बिना जाने समझे फॉलो करना आपके लिए नुकसानदेह भी हो सकता है।

Shareer ko lacheela banata hai
ये शरीर को लचीला बनाता है। चित्र:शटरस्टॉक

किसी भी प्रकार के व्यायाम या शारीरिक गतिविधि की शुरूआत करना काफी मुश्किल हो सकता है। ऐसे में लोग अक्सर इस उलझन में रहते हैं कि क्या करें और क्या न करें। ज़्यादातर जल्दी वज़न कम करने के चक्कर में ट्रेनर के सिखाये हुये सभी मूव्स बहुत जल्दी करने लगते हैं। वह शायद सोचते हैं कि इससे उनका वज़न जल्दी से कम जाएगा।

मगर पिलाटीज़ के साथ ऐसा नहीं होता है। पिलाटीज़ शरीर को टोन करने, लचीलापन हासिल करने, आपकी कोर की मांसपेशियों को मजबूत करने और यहां तक कि वजन कम करने के लिए फायदेमंद है। लेकिन हर दूसरे अभ्यास की तरह, पिलाज भी करने से पहले इन बातों का ख्याल रखना है ज़रूरी।

पिलाटीज के दौरान भूल कर भी न दोहराएं ये बातें

1. जल्दी में न रहें

यदि आप सोच रही हैं कि पिलाटीज़ करने से आपको जल्दी बदलाव देखने को मिलेंगे तो ऐसा नहीं होने वाला है। यहां तक कि जब आप एक्सरसाइज़ कर रही हैं, तब भी किसी तरह की हड़बड़ी में न रहें। नहीं तो आपको चोट लग सकती है, या मांसपेशियों में ज़्यादा खिंचाव आ सकता है।

2. सांस लेना न भूलें

पिलाटीज़ में कोर मसल्स की काफी ज़रूरत पड़ती है। ऐसे में यदि आप इन्स्ट्रक्टर की बताई हुई ब्रीदिंग तकनीक का ध्यान नहीं रख रही हैं तो आपको चोट लग सकती है। क्योंकि सांस पिलाटीज़ में एक एहम भूमिका निभाती है। इसलिए अपनी सांस न रोकें और सही तरह से सांस लेना सीखें।

pilates ke fayde
योग और पिलेट्स दोनों के ही अपने अलग फायदे हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

3. बहुत जल्दी किसी बदलाव की अपेक्षा न करें

पिलेट्स आपको कोर ताकत, लचीलापन, मजबूत मांसपेशियों को हासिल करने में मदद करता है और इस प्रक्रिया में, आप अपना वजन भी कम कर सकते हैं, लेकिन सब कुछ होने में अपना समय लगता है। अपने शरीर में नाटकीय परिवर्तन की अपेक्षा न करें। वजन घटाना आपका लक्ष्य हो सकता है, लेकिन आपको इस पर पूरी तरह ध्यान केंद्रित नहीं करना चाहिए। बदलाव पहले आपकी मांसपेशियों में दिखाई देंगे और फिर धीरे-धीरे आपका वजन कम होगा।

पिलाटीज़ के दौरान इन चीजों का रखें ध्यान

1. अपना फॉर्म चेक करें

यह किसी भी प्रकार का व्यायाम करने का प्रमुख नियम है। आपको अपना फॉर्म बरकरार रखना होगा। यदि आपके शरीर की मुद्रा सही नहीं है, तो आपको कोई लाभ नहीं मिलेगा। इसलिए सुनिश्चित करें कि आपके शरीर की मुद्रा सही है।

2. सही कपड़े पहनें

फिटेड कपड़े जैसे लेगिंग्स या कैप्रीस पहनें जो आपके ट्रेनर को आपके बॉडी पॉस्चर को देखने में मदद करेगा। इससे आप पिलातीज के दौरान खुद को कम्फर्टेबल महसूस करेंगी। साथ ही, इससे आपको बेहतर तरीके से व्यायाम करने में मदद मिलेगी।

pilates
पिलाटीज़ के लिए सही कपड़े पहनें। चित्र ; शटरस्टॉक

3. तकलीफ होने पर ट्रेनर को बताएं

यदि आपको पिलाटीज़ के दौरान किसी भी तरह की तकलीफ महसूस हो रही है, तो तुरंत अपनी ट्रेनर को बताएं। नहीं तो आपको काफी चोट लग सकती हैं। इसके अलावा, ज़्यादा जल्दी – जल्दी कोई मूव करने की कोशिश न करें। यह भी आपके लिए घातक साबित हो सकता है।

यह भी पढ़ें : इमोशनल ईटिंग हो सकती है वज़न बढ़ने का कारण, जानिए इसे कैसे कंट्रोल करना है 

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें