वेट लॉस के लिए परफेक्ट ब्रेकफास्ट है नाचनी या रागी की रोटी, जानिए इसके फायदे

हेल्दी वेट लॉस में सुबह का नाश्ता सबसे महत्वपूर्ण भोजन है। पर आपको इसके लिए हेल्दी और पौष्टिक आहार ही चुनना चाहिए। ऐसा ही परफेक्ट ऑप्शन है नाचनी या रागी की रोटी। आइए जानते हैं यह कैसे आपकी वेट लॉस जर्नी को आसान बना सकती है।
रागी या नाचनी आपके वेट लॉस के लिए है फायदेमंद। चित्र: शटरस्टॉक
अदिति तिवारी Published on: 14 September 2021, 08:00 am IST
ऐप खोलें

लेडीज, वेट लॉस के लिए नियमित एक्सरसाइज के साथ ही हेल्दी डाइट की भी जरूरत होती है। एक ऐसा आहार जिसमें सभी पोषक तत्व हों और जो आपके शरीर पर फैट का बोझ न बढ़ाए। पर इसके लिए आपको  फैंसी फूड्स से कार्ट भरने की जरूरत नहीं है। हमारे ट्रेडिशनल फूड में ही कुछ ऐसे विकल्प मौजूद हैं, जो आपकी डाइट और फिटनेस दोनों के लिए परफेक्ट हैं। जी हां, ऐसा ही एक हेल्दी ऑप्शन है नाचनी या रागी की रोटी। तो आइए जानते हैं कि नाचनी की रोटी क्या है और यह कैसे वेट लॉस में आपके लिए मददगार साबित हो सकती है। 

क्या है नाचनी या रागी ?

अपने आहार को व्यापक और पौष्टिक बनाने के लिए आपको अपने आहार में रागी या नाचनी को जरूर शामिल करना चाहिए। रागी या नाचनी वास्तव में एक फ़ाइबर युक्त भारतीय अनाज है, जो चावल, गेहूं या जौ जैसे अन्य रोजाना खाए जाने वाले भोजन के विकल्प के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। 

इसमें अमीनो एसिड (amino acid)  जैसे आइसोल्यूसीन (isoleucine) , ट्रिप्टोफैन (tryptophane ), वेलिन (valine), मेथियोनीन (methionine) और थ्रेओनीन (threonine) जैसे तत्व मौजूद हैं, जो शाकाहारी और वीगन (vegan) खाने के लिए श्रेष्ठ हैं। 

रागी आपके लिए है पौष्टिक आहार। चित्र : शटरस्टॉक

यहां हैं रागी या नाचनी की रोटी खाने के फायदे? 

 1. एक कम्प्लीट ब्रेकफास्ट है नाचनी की रोटी : 

रागी में विटामिन सी, विटामिन ई, बी-कॉम्प्लेक्स विटामिन, आयरन, कैल्शियम, एंटीऑक्सीडेंट, प्रोटीन, फाइबर, पर्याप्त कैलोरी और गुड फैट जैसे प्रमुख पोषक तत्व शामिल हैं।

रात में गहरी नींद के बाद, पेट और आंतें सुबह पाचन के चरम पर होती है। इसलिए, नाश्ते के लिए रागी-आधारित खाद्य पदार्थ जैसे रागी उपमा या रागी पराठे खाने से पाचन स्वस्थ रहता है। रागी में पाए जाने वाले पोषक तत्व आपके शरीर को तंदुरुस्त बनाते हैं। यह ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करते है। इससे अन्य अंग जैसे हृदय, मस्तिष्क,  जिगर, गुर्दे और फेफड़ों में रक्त का प्रवाह बना रहता है।

2. जरूरी अमीनो एसिड प्रदान करती है : 

रागी कुछ प्रमुख अमीनो एसिड से बना होता है, जो आपकी त्वचा और बालों को स्वस्थ रखता है। यह सल्फर-आधारित अमीनो एसिड, वेलिन और आइसोल्यूसीन प्रदान करता है, जो दांतों और मसूड़ों की बीमारी से मुंह की रक्षा करने के लिए कारगर है। यह घायल मांसपेशियों की भी मरम्मत करता है।

3. ग्लूटेन फ्री डाइट है:

कुछ लोग की गेहूं जैसे अनाज में मौजूद ग्लूटेन के प्रति संवेदनशील होते हैं। जिससे उन्हें पाचन संबंधी समस्याएं होने लगती हैं। रागी, कार्बनिक रूप से ग्लूटेन फ्री होने के कारण, गेहूं का एक अच्छा विकल्प है। चपाती, डोसा और मिठाई तैयार करने के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। 

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि रागी का सेवन करने का सबसे अच्छा समय सुबह का होता है। फाइबर युक्त होने के कारण यह पाचन प्रक्रिया को ठीक रखती है। आमतौर पर रात में रागी खाना ठीक नहीं होता है, खासकर उन लोगों के लिए जिनका पाचन कमजोर है। 

रागी रखे आपके ब्लड शुगर को नियंत्रित। चित्र: शटरस्‍टॉक

4. हड्डियों को मजबूत बनाती है:

रागी प्राकृतिक कैल्शियम का शानदार स्रोत होने के कारण बढ़ते बच्चों की हड्डियों को मजबूत करता है। यह वृद्ध लोगों में बोन डेन्सिटी को पुनर्स्थापित करता है, जिससे ऑस्टियोपोरोसिस (osteoporosis) के लक्षणों को कम करने में सहायता मिलती है। युवाओं की बोन हेल्थ के लिए भी यह पौष्टिक आहार है। जो किड्नी की बीमारियों से भी राहत दिलाता है। 

5. ब्लड शुगर नियंत्रित रखती है : 

कैलोरी और कार्बोहाइड्रेट में उच्च होने के कारण, इसमें फाइटेट्स, टैनिन, पॉलीफेनोल्स शामिल होते हैं, जो पाचन प्रक्रिया को धीमा कर देते हैं। यह मधुमेह वाले लोगों में शुगर के स्तर को कम करता है। इसके अलावा, इसकी समृद्ध फाइबर सामग्री के कारण, रागी वजन घटाने में तेजी लाने और मधुमेह और मोटापे जैसी अन्य जीवन शैली की बीमारियों के प्रबंधन के लिए पसंद किया जाता है। 

6. एनीमिया का करे इलाज: 

आयरन की कमी से होने वाला एनीमिया हर साल अनगिनत भारतीय पुरुषों, महिलाओं और बच्चों को प्रभावित करता है, जिससे अत्यधिक थकान और काम करने का स्तर कम होता है। रागी आयरन का एक पावरहाउस है, जो रक्त में कम हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाने में काम करता है। 

यह एनीमिया से ग्रस्त लोगों के लिए वरदान के रूप में कार्य करता है। इस प्रकार यह एनीमिया का प्रभावी ढंग से इलाज करता है।

यह भी पढ़े: हेयर फॉल ने परेशान कर दिया है, तो इन 5 जरूरी फूड्स को करें अपनी डाइट में शामिल

लेखक के बारे में
अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी

हेल्थशॉट्स कम्युनिटी का हिस्सा बनें

ज्वॉइन करें
Next Story