बेस्ट एक्सरसाइज है मॉर्निंग वॉक, बस याद रखें इसे करने का सही तरीका

सुबह की सैर हर उम्र के व्यक्तियों के लिए फायदेमंद है। सिर्फ इतना ही नहीं, अगर आप किसी स्वास्थ्य स्थिति से गुजर रहीं हैं, तब भी आप मॉर्निंग वॉक कर सकती हैं।

benefits of walk.
टहलने से वजन घटता है। चित्र: शटरस्टॉक।
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published on: 29 April 2022, 08:00 am IST
  • 120

मॉर्निंग वॉक करना सेहत के लिए बेहतरीन माना जाता है। तेज गति से वॉक यानी ब्रिस्क वॉक (Brisk walk) करना बेहतरीन कार्डियो एक्सरसाइज है। जिसे करने से न सिर्फ आपकी बॉडी टोंड रहेगी, बल्कि आप पूरे दिन तरोताजा भी महसूस करेंगी। मॉर्निंग वॉक (Morning walk) फिट रहने का बहुत सरल और सुविधाजनक तरीका है। मॉर्निंग वॉक को अपनी दिनचर्या में शामिल कर आप सेहतमंद रह सकती हैं।

मॉर्निंग वॉक को एक संपूर्ण फिजिकल एक्टिविटी माना जाता है। शरीर को बीमारी का घर बनाने और दवाइयों का बोझ बढ़ाने से अच्छा है कि प्राकृतिक रूप से शरीर को स्वस्थ रखा जाए। ऐसे में सुबह की सैर के लाभ पाने के लिए दिनचर्या में इस आदत को शामिल करना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है।

सुबह की स्वच्छ हवा में सैर करने से शरीर को प्रचुर मात्रा में ऑक्सीजन मिलती है। लेकिन, क्या आप सैर करने का सही तरीका जानती हैं? न्यूट्रशनिस्ट व योगा एक्सपर्ट बिंदु बजाज के दिए ये टिप्स अपनाकर आप मॉर्निंग वॉक का फायदा बेहतर तरीके से उठा सकती हैं।

करें क्षमता के अनुसार

हर किसी की अपनी शारीरिक क्षमता होती है जिसके अनुसार कोई भी व्यायाम चुना चाहिए. वॉक करने का टाईम और गति अपने क्षमता के अनुसार चुनें न कि किसी से प्रभावित होकर।

गति धीमी

वॉक की शुरुआत और अंत में अपनी गति धीमी रखें। ये न हो की तेज़ी से वॉक शुरू करे और थोड़ी देर में ही थक कर बैठ जाए। वॉक धीरे-धीरे शुरू करें।

morning walk ke samay comfortable shoes pehne.
मॉर्निंग वॉक करते वक़्त आरामदायक जुते पहने। चित्र-शटरस्टॉक।

आरामदायक जूते पहनें

वॉकिंग के समय आपके जूते आरामदायक होने चाहिए, ताकि वॉक करते समय तकलीफ न हो।ध्यान रहे जूते न टाइट होने हों न ज़्यादा ढीलें। वॉक करने के लिए चुने गए ऐसे हों कि उसमें आसानी से पैरों को घुमाया जा सके।

वार्मअप जरूर करें

वॉक से पहले वार्मअप जरूर करें। इससे मांसपेशियों में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है। इससे मांसपेशियों में चोट लगने का खतरा भी कम हो जाता है।

तनाव न रखें

वॉक करते समय किसी प्रकार का मानसिक तनाव न लें। वॉक करते समय हल्की गहरी सांस लेने की आदत डालें और पॉजिटिव बातें सोचे। हो सकें तो मॉर्निंग वॉक के वक्त मोबाईल ऑफ रखें और अकेले वॉक करें।

समय निश्चित करें

अच्छी सेहत के लिए आधे से पौने (30-45 मिनट) घंटे तक वॉक करनी चाहिए। इससे आपकी सेहत तो बनी ही रहेगी साथ ही शरीर भी सुडौल होगा।

वॉक खत्म होने से 5-7 मिनट पहले धीरे-धीरे चलें। इससे आपकी बॉडी को कूल डाउन होने के लिए समय मिलेगा। अपने कंधों को रिलेक्स करें और हल्के से पीछे की ओर ले जाएं। इससे आपके फेफड़ों(lungs) को ज्यादा हवा मिलेगी।

मॉर्निंग वॉक के लिए कुछ और टिप्स (Other Useful Tips for Walking)

सुबह की सैर करने के दौरान कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना भी आवश्यक है। यह बातें कुछ इस प्रकार हैं :

जॉगिंग करते वक्त अपना पोश्चर सीधा रखें, खासकर जब आप बॉडी टोन करने के लिए वॉक कर रही हैं।

वाकिंग के फायदे आपको ऊर्जावान बनाते हैं और इससे शरीर में रक्त का संचार भी सुचारू रूप से बना रहता है। इसलिए कोशिश करें कि सूर्य की पहली किरणों के साथ सुबह की सैर करें। इससे शरीर को पर्याप्त रूप में विटामिन-डी मिलेगा।

अगर शरीर से अतिरिक्त फैट कम करना चाहते हैं, तो सुबह कुछ दूरी तक तेज दौड़ने का अभ्यास करें।

wait loss me helpful hai morning walk.
वज़न कम करने में भी सहायक है ये सुबह की वॉक। चित्र: शटरस्‍टॉक

भोजन के तुरंत बाद व्यायाम न करें।

मॉर्निंग वॉक के दौरान अत्यधिक पानी न पिएं।

मॉर्निंग वॉक की शुरुआत कर रहे हैं, तो पहले कुछ दिन अपनी गति को सामान्य रखें और धीरे-धीरे गति को बढ़ाएं।

सुबह की सैर के लाभ पाने के लिए रोजाना कम से कम 30 मिनट की वॉक करें।

अगर घर में पालतू जानवर हैं, तो सुबह के समय उन्हें साथ लेकर टहलने जा सकते हैं। इससे आपको न सिर्फ एक बेहतरीन कंपनी मिलेगी आपकी वॉक रूटीन भी कभी डिस्टर्ब नहीं होगी।

लिफ्ट का कम इस्तेमाल करके भी सुबह की सैर के लाभ पाए जा सकते हैं। ऐसे में जितना संभव हो सीढ़ियों का ही इस्तेमाल करें।

घर के आस-पास लगने वाले बाजार या दुकान तक पैदल ही जाएं।

सुबह की सैर करते समय हमेशा पैदल चलने वाले रास्ते का ही इस्तेमाल करें। सड़क के बीच में न चलें।

यह भी याद रखें

न्यूट्रशनिस्ट व योगा एक्सपर्ट बिंदु बजाज कहती हैं, “सुबह की सैर किसी भी मौसम में की जा सकती है। इसके लिए बस आपको कुछ खास तैयारी करने की आवश्यकता हो सकती है, जैसे सर्दियों के मौसम में गर्म कपड़े पहनकर ही सुबह की सैर करने जाएं। वहीं बारिश के दिनों में बाहर टहलने की बजाय घर में ही थोड़ा-बहुत टहलना अच्छा विकल्प हो सकता है। हृदय रोगी, हाई बीपी या कोई अन्य कोई समस्या वाले लोगों को वॉक शुरू करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए।”

यह भी पढ़ें:  Covid 4th Wave : कोरोना संक्रमण से एक की मौत, चौथी लहर की ऱफ्तार हुई तेज

  • 120
लेखक के बारे में
टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory