अब टाइम है बेली फैट घटाने का, न कि छिपाने का! घर बैठे करें ये 4 एक्सरसाइज और पाएं परफेक्ट फि‍गर

अगर आप भी फोटो खिंचवाते वक्त पेट को खींचकर अंदर करने की कोशिश करती हैं, तो हम बता रहे हैं ऐसी 4 ईजी एक्सरसाइज जिनसे आपका पेट भी हो जाएगा बिल्कुल फ्लैट।
बैली फैट घटाना इतना भी मुश्किल नहीं। चित्र: शटरस्‍टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Updated: 10 Dec 2020, 13:50 pm IST
  • 79

हम जानते हैं कि आप जिद्दी बेली फैट बर्न करना चाहती हैं, लेकिन सही एक्सरसाइज न पता होने के कारण सफल नहीं हो पा रहींं। तो चलिए हम आपको बताते हैं 4 आसान एक्सरसाइज जिसे आप दिन में 30 मिनट करके ही पा सकती हैं फ्लैट बेली।

1. प्लैंक

प्लैंक एक फुल बॉडी वर्कआउट है, जो आपकी बैक, चेस्ट, शोल्डर और कोर पर फोकस करता है। सबसे अच्छी बात ये है कि आपको चार अलग-अलग तरह की एक्सरसाइज नहीं करनी पड़ती, क्योंकि प्लैंक सभी मसल्स की टोनिंग के लिए कारगर है।

यह ध्‍यान रहे कि आपका पोस्‍चर बिल्‍कुल सही होना चाहिए। चित्र: शटरस्‍टाॅॅक

बस ध्यान रहे कि आपका पोस्चर सही हो, वरना पूरा लाभ नहीं मिल सकेगा। पीठ बिल्कुल मोड़ें नहीं। कम से कम एक मिनट तक प्लैंक दिन में 5 बार करें। अगर उससे ज्यादा देर तक होल्ड कर सकते हैं तो और भी अच्छा।

2. ब्रिज

ब्रिज पोज़ कोर मसल्स के लिए कमाल की एक्सरसाइज है। इसके लिये बस पीठ के बल लेटें, घुटने मोड़ें और हाथों को ज़मीन पर सन्तुलन के लिए रखें। लोअर बॉडी को ऊपर उठाएं और एक मिनट तक होल्ड करें। यह पांच बार रिपीट करें। यह पोज़ कोर के साथ-साथ थाइज और ग्लूट्स को भी टारगेट करता है।

3. V- अप

V-अप कोर के लिए बहुत अच्छे एक्सरसाइज है। यह पूरे एब्डॉमिनल एरिया को टारगेट करती है और बॉडी को शेप में लाने में सहायक होती है। कम से कम 10 रेप्स 5 बार करें।

माउंटेन क्‍लाइम्‍बर्स पेट की चर्बी गलाने वाली सुपर सिंपल एक्‍सरसाइज है। चित्र : शटरस्‍टॉक

4. माउंटेन क्लाइंबर

माउंटेन क्लाइंबर कोर एक्सरसाइज और कार्डियो का परफेक्ट मिक्स है। यह लोअर एब्डोमेन के लिए बेहतरीन है। दोनों पैरों से 25-25 सेट के चार रेपेटीशन करें, इतना वर्कऑउट आपकी बेली फैट को छूमंतर कर देगा।

एक्सरसाइज करते वक्त इन ज़रूरी बातों का भी ख़याल रखें।

1. सांस पर दें ध्यान

अगर आप एक्सरसाइज करते वक्त सही तरह से सांस नही ले रहे हैं, तो एक्सरसाइज का सिर्फ आधा लाभ ही मिलेगा। ध्यान रहे फोर्स लगाते वक्त सांस बाहर छोड़ें और रिलैक्स करते वक्त सांस अंदर लें। होल्ड करने के दौरान गहरी सांस लें और उस पर फोकस करें।

एक्‍सरसाइज के दौराना दर्द होना ठीक नहीं। चित्र : शटरस्टॉक

2. दर्द होना ठीक नहीं

अगर आपको लगता है कि एक्सरसाइज का मतलब है दर्द, तो आप एकदम गलत हैं। थोड़ा दर्द होना लाजमी है, लेकिन अगर दर्द बर्दाश्त के बाहर है तो इसका मतलब है कि आप एक्सरसाइज गलत कर रहीं हैं।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें

3. टाइम का रखें ख्याल

एक्सरसाइज करते वक्त स्टॉपवॉच अपने पास रखें। समय का ध्यान रहेगा, तो आप अपनी प्रोग्रेस देख पाएंगी।

बस इन 4 एक्सरसाइज को दिन का आधा घंटा दें, और देखें आपकी फ्लैट बेली का सपना कैसे सच होता है।

  • 79
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख