वज़न घटाने के लिए क्या ज़्यादा ज़रूरी है डाइट या एक्सरसाइज? एक्सपर्ट दे रही हैं सही सलाह

Published on: 22 February 2022, 09:30 am IST

जब वज़न घटाने की बात आती है, तो ज़्यादातर लोग जिम जाना चुनते हैं बजाय डाइट पर ध्यान देने के। ऐसे में जानिए वेट लॉस के लिए क्या ज़्यादा ज़रूरी है।

diet ya exercise
वज़न घटाने के लिए क्या ज़्यादा ज़रूरी है डाइट या एक्सरसाइज। चित्र : शटरस्टॉक

जब भी वज़न कम करने की बात आती है तो सबसे पहले दिमाग में क्या आता है? कौन से जिम की मैम्बरशिप ली जाए? या कौन सा डाइट प्लान अपनाया जाए? ऐसे में दोनों सवाल आपके मन में आ सकते हैं। मगर ऐसा अक्सर देखा गया है कि लोग सबसे पहले जिम जाना शुरू कर देते हैं और खानपान का ख्याल नहीं रखते हैं।

लेकिन आपने कुछ लोग ऐसे भी देखे होंगे जो डाइट प्लान तैयार करके फॉलो करने लगते हैं और आलस की वजह से एक्सरसाइज़ करना बिलकुल भी पसंद नहीं करते हैं। मगर क्या डाइट और एक्सरसाइज़ में से किसी एक चीज़ को फॉलो करना सही है? क्या सिर्फ डाइट से वज़न घटाया जा सकता है? क्या वेट लॉस के लिए सिर्फ एक्सरसाइज़ ज़रूरी है?

यदि आपके मन में भी ऐसे ही सवाल आते हैं कि वज़न घटाने के लिए क्या ज़रूरी है वेट लॉस या एक्सरसाइज? तो यह लेख आपके लिए है। आज इस लेख के माध्यम में हम यह समझेंगे कि वेट लॉस जर्नी में दोनों का कितना महत्व है।

kya aapko sirf dieting karni chahiye
क्या आपको सिर्फ डाइटिंग करनी चाहिए। चित्र : शटरस्टॉक

वज़न घटाने में कितनी महत्वपूर्ण है डाइट

आप एक अच्छा डाइट प्लान फॉलो करके अपने कैलोरी इंटेक को रेगुलेट कर सकती हैं। शायद यही कारण है कि 80/20 रूल लोकप्रिय हो गया है, क्योंकि इसमें कहा गया है कि वजन घटाना 80% आहार और 20% व्यायाम का परिणाम है।

उदाहरण के लिए, यदि आप 500 कैलोरी की दैनिक कैलोरी की कमी का लक्ष्य रखते हैं, तो आप कम कैलोरी वाले व्यंजन, छोटे हिस्से के आकार और कम स्नैक्स खाकर 400 कम कैलोरी (80%) का उपभोग कर सकते हैं। फिर, आपको व्यायाम से केवल 100 कैलोरी (20%) जलाने की जरूरत है।

यहां तक कि सेलेब्रिटी न्यूट्रीशनइस्ट रुजुता दिवेकर भी मानती हैं कि खानपान पर नज़र रखने से हर तरह के वज़न को कंट्रोल किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : जानिए क्या है सेलेब्रिटी न्यूट्रीशनइस्ट रुजुता दिवेकर की वेट लॉस पर सलाह 

वज़न घटाने में कितनी महत्वपूर्ण है एक्सरसाइज

ऐसे कई तरीके हैं जिनसे व्यायाम वजन घटाने में मदद करता है।

वेट ट्रेनिंग मांसपेशियों को बनाए रखने में मदद करती है, जो समय के साथ आपकी चयापचय दर को बढ़ा सकता है जिससे आपका शरीर आराम से भी अधिक कैलोरी जलाता है। इसके अलावा, एक अच्छा वेट ट्रेनिंग सेशन आपकी चयापचय दर को 72 घंटे तक बढ़ा सकता है।

शारीरिक गतिविधि भी है ज़रूरी। चित्र:शटरस्टॉक

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के अनुसार एरोबिक व्यायाम जैसे चलना, टहलना, या साइकिल चलाना – विशेष रूप से कम से मध्यम तीव्रता पर 30 मिनट या उससे अधिक समय तक – एक सत्र में महत्वपूर्ण संख्या में कैलोरी जला सकता है और कैलोरी की कमी को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है।

रुजुता दिवेकर की मानें तो नियमित व्यायाम भी आपके भूख हार्मोन को नियंत्रित करके भूख को प्रबंधित करने में मदद कर सकता है। यह अधिक खाने और अधिक स्नैकिंग को रोकने में मदद कर सकता है।

मगर दोनों में से वज़न कम करने के लिए क्या है बेहतर

जबकि वजन घटाने के लिए आहार और व्यायाम दोनों महत्वपूर्ण हैं, व्यायाम के माध्यम से अधिक कैलोरी जलाने की तुलना में अपने आहार को संशोधित करके अपने कैलोरी सेवन को प्रबंधित करना आम तौर पर आसान होता है।

हालांकि यह प्रबंधित करना आसान हो सकता है कि आप कितनी कैलोरी का उपभोग करती हैं, नियमित व्यायाम मांसपेशियों को बनाए रखने और अतिरिक्त कैलोरी जलाने में मदद करता है। इसलिए, रुजुता के अनुसार भी वजन घटाने के लिए आहार और व्यायाम दोनों महत्वपूर्ण हैं, और दोनों के संयोजन से परिणाम अनुकूल होंगे।

यह भी पढ़ें : विदेशों में भी हैं इन 9 शुद्ध देसी फूड्स के दीवाने, जानिए क्यों खास हैं ये व्यंजन

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें