देर कभी नहीं होती, वेट लॉस जर्नी शुरू करनी हैं, तो इन 5 लो इंटेंसिटी एक्सरसाइज से करें शुरुआत

Updated on: 24 June 2022, 19:27 pm IST

खुद को फिट और स्वस्थ रखना हम सभी की जिम्मेदारी है। बिना यह सोचे कि आपका वजन कितना बढ़ गया है या आपको रुटीन कैसा है, आप वेट लॉस जर्नी की शुरूआत कर सकती हैं।

Weight loss exercise.
वेट लॉस जर्नी शुरू करनी हैं, तो इन 5 लो इंटेंसिटी एक्सरसाइज से करें शुरुआत। चित्र:शटरस्टॉक

शारीरिक रूप से सक्रिय रहना कितना महत्वपूर्ण है, यह तो आप सभी जानते होंगे। वहीं जितने भी लोग फिजिकली एक्टिव रहना पसंद करते हैं, उनमें से ज्यादातर लोग मानसिक और शारीरिक दोनों ही रूप से स्वस्थ होते हैं, साथ ही उन्हें किसी तरह की स्वास्थ्य समस्या होने की संभावना भी बहुत कम होती है। यदि आप वजन बढ़ने की समस्या से परेशान हैं, तो खानपान को नियंत्रित करने से ज्यादा महत्वपूर्ण है खुद को सक्रिय रखना।

अधिक वजन होने के कारण शुरुआत में आपको हाई इंटेंसिटी वाले एक्सरसाइज करने में परेशानी आ सकती है। साथ ही आपका शरीर हाई लेवल की गतिविधियों में भाग लेने में सक्षम न रहे। इसलिए फिटनेस को शुरू करते वक्त लो इंटेंसिटी वाले व्यायाम का अभ्यास करने का प्रयास करें।

यह काफी ज्यादा इफेक्टिव साबित होगा, परंतु तब जब आप इसे नियमित रूप से फॉलो करेंगी। इसलिए आज हम लेकर आए हैं, कुछ ऐसे लो इंटेंसिटी एक्सरसाइज जो इफेक्टिव होने के साथ ही स्वास्थ्य समस्याओं से भी दूर रहने में मदद करेंगे।

जानिए शुरुआत में कितनी एक्सरसाइज करनी चाहिए

एक अध्ययन की मानें, तो उचित परिणाम के लिए हर सप्ताह कम से कम 150 मिनट तक एक्सरसाइज करनी चाहिए। यदि आप ओवरवेट है, तो शुरुआत में यह आपके लिए थोड़ा मुश्किल हो सकता है, परंतु धीरे-धीरे यह आपकी दिनचर्या का एक अहम हिस्सा बन जाएगा। अगर आपका शरीर एक बार में ज्यादा देर तक एक्सरसाइज करने में सक्षम नहीं है, तो खुद पर दबाव न बनाएं क्योंकि इसका एक सबसे अच्छा विकल्प है, समय को 2 से 3 हिस्सों में बांट लेना। एक बार में एक्सरसाइज करना और समय को छोटे-छोटे हिस्सों में बांटकर एक्सरसाइज करना, दोनों ही एक समान प्रभावी होते हैं।

शुरुआत में क्षमता अनुसार ही मेहनत करने का प्रयास करें, अन्यथा आपकी सेहत नकारात्मक रूप से प्रभावित हो सकती है। उचित परिणाम के लिए एक्सरसाइज करने का एक समय निर्धारित करें और नियमित रूप से उसी समय पर वर्कआउट करने की कोशिश करे।

Badhte vajan me kren low intensity exercise.
बढ़ते वजन पर ध्यान देना बहुत ज़रूरी है। चित्र: शटरस्टॉक

इन एक्सरसाइजे के साथ करें अपनी फिटनेस की शुरुआत

1. वॉक

यदि आप एक्सरसाइज शुरू करना चाहती हैं, तो आपके लिए सबसे प्रभावी रहेगा वॉक। इसे आप आसानी से अपनी दिनचर्या में शामिल कर सकती हैं। वहीं इसे करने में ज्यादा मेहनत नहीं लगती और न ही अधिक थकान होती है। इसके बावजूद यह आपके वजन को कम करने में मददगार साबित हो सकता है।

वॉकिंग ब्लड सर्कुलेशन को बूस्ट करता है और मेटाबॉलिज्म को भी बढ़ाता है। साथ ही यह लंग्स की कैपेसिटी को भी बढ़ता है और शरीर के अन्य फंक्शंस को एक्टिव करता है। इस वजह से वजन में तेजी से गिरावट देखने को मिलती है। यह बहुत जल्दी कैलोरीज को बर्न करता है। जितनी ज्यादा तेज आप वॉक करेंगी, उतनी ही ज्यादा कैलोरीज बर्न कर पाएंगी।

2. बेसिक स्क्वाट्स

स्क्वाट्स के साथ पर्सनल फिटनेस की शुरुआत कर सकती हैं। स्क्वाट्स खासकर पैरों की मांसपेशियों के लिए फायदेमंद होता है, साथ ही यह शरीर के हर हिस्से पर प्रभाव डालता है। स्क्वाट्स करने से कैलोरीज तेजी से बर्न होती हैं। इस एक्सरसाइज को करते वक्त पीछे से बॉडी को नीचे की ओर झुकाते हैं, और फिर धीरे-धीरे खड़े होना है।

वहीं कुछ लोग हांथों में वजन उठाकर स्क्वाट्स करते हैं, परंतु शुरुआत में ऐसा करने से बचें। यह ब्लड फ्लो और मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है, जिसकी वजह से वेट लूज करने में मदद मिलती है। यदि आपको ऐसा करने में परेशानी हो रही है, तो पूरी तरह पीछे की ओर न बैठें, धीरे-धीरे शुरुआत करें और क्षमता अनुसार ही इसे करने की कोशिश करें।

Ghar par kare squats exercise
घर पर करें ये आसान स्क्वॉट एक्सरसाइज । चित्र : शटरस्टॉक

3. ब्रिज एक्सरसाइज

ब्रिज एक्सरसाइज के दौरान शरीर की पोजीशन पुल के समान नजर आती है। इस एक्सरसाइज को कटुस्पादासन भी कहते हैं। फिटनेस की शुरुआत करने के लिए यह एक्सरसाइज आपके लिए बेहतर है। वजन कम करने में मददगार होने के साथ ही, यह कई और रूपों से आपके लिए फायदेमंद हो सकता है।

एक्सपर्ट की मानें तो ब्रिज एक्सरसाइज करने से कमर की मांसपेशियां मजबूत होती हैं। साथ ही पीठ दर्द की समस्या से पीड़ित लोगों के लिए यह एक उचित विकल्प है। इसके साथ ही यदि आप तनाव से ग्रसित हैं, तो यह मानसिक तथा शारीरिक दोनों ही रूप से तनावमुक्त रहने में आपको मदद मिलेगी। ब्रिज एक्सरसाइज को कब्ज तथा एसिडिटी जैसी समस्याओं में भी कारगर माना जाता है।

4. डांस

फिटनेस की शुरुआत करने के लिए डांसिंग सबसे बेहतर विकल्प है। इसे आप आसानी से अपनी दिनचर्या में शामिल कर सकती हैं। साथ ही यह आपके मूड को भी संतुलित रखेगा। म्यूजिक और डांसिंग हैप्पी हार्मोन्स रिलीज करते हैं, जो एनर्जी लेवल को बूस्ट करने में मददगार हो सकता है।

वहीं डांसिंग मेटाबॉलिज्म बढ़ाती है, और बॉडी के हर एक पार्ट्स पर सामान्य रूप से प्रभाव डालती है। यदि इसे नियमित रूप से आजमाएं तो कुछ दिनों में ही आपको इसका परिणाम नजर आने लगेगा।

fleetness ki shuruaat dance ke sath kren.
फिटनेस की शुरुआत करने के लिए डांसिंग सबसे बेहतर विकल्प है।

5. योग

योग लो इंटेंसिटी एक्सरसाइज है, पर यदि इसे अनुशासित तरीके से फॉलो करें तो यह वजन कम करने के लिए अधिक प्रभावी होता है। योग के अभयास से शरीर के सभी फंक्शनस संतुलित रहते हैं। शुरुआत में हल्के योग का अभ्यास करें, क्योंकि एक बार में अधिक परिश्रम करने से कोई खास फायदा नजर नहीं आएगा।

यदि आप ओवरवेट है तो हाई इंटेंसिटी वर्कआउट करते वक़्त चोट लगने की संभावना बनी रहती है, इसलिए नियमित रूप से साधारण योग का अभ्यास भी आपको एक बेहतर परिणाम तक पहुंचा सकता है। यह शरीर को लचीला और मजबूत बनाता है, साथ ही मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी काफी फायदेमंद रहेगा।

यह भी पढ़ें : बारिश के सुहावने मौसम में न करें आंखों को इग्नोर, एक्सपर्ट बता रहे हैं 5 आई केयर टिप्स

अंजलि कुमारी अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी- नई दिल्ली में जर्नलिज़्म की छात्रा अंजलि फूड, ब्लॉगिंग, ट्रैवल और आध्यात्मिक किताबों में रुचि रखती हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें