Cycling vs Swimming : वेट लॉस के लिए क्या है ज्यादा बेहतर साइकल चलाना या तैरना? आइए जानते हैं

कुछ घंटे लगातार साइकलिंग करने से कैलोरी बर्न होती है। वहीं स्विमिंग से गर्मी के मौसम में पानी में कुछ देर तक रहने से बॉडी टेमपरेचर नॉर्मल बना रहता है। जानते हैं वेटलॉस के लिए कौन सा विकल्प है बेहतर।
knock knees ke liye Cycling ke fayde
दिनभर में 30 मिनट की साइकलिंग आपके लिए मददगार साबित हो सकती है। चित्र:शटरस्टॉक
ज्योति सोही Updated: 23 Oct 2023, 09:28 am IST
  • 141

आमतौर पर लोग वज़न घटाने के लिए साइकलिंग या स्वीमिंग को विकल्प के तौर पर चुनते हैं। बचपन से हम लोग साइकलिंग करते हैं, जो कुछ घंटे लगातार करने से कैलोरी को बर्न करने का काम करती है। वहीं स्विमिंग एक ऐसा विकल्प है, जिसमें हमारी पूरी बॉडी हिलती डुलती है और वज़न को घटाना और भी आसान हो जाता है। इसके अलावा गर्मी के मौसम में पानी में कुछ देर तक रहने से बॉडी टेमपरेचर भी नॉर्मल बना रहता है। आज के दौर में तैराकी बेहद डिमांड में हैं। बच्चों से लेकर युवा तक हर कोई इस ओर बढ़ रहा है। जानते हैं कि साइकलिंग और स्विमिंग में से कौन सा विकल्प है बेहतर (cycling vs swimming for weight loss)

सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड वेलनेस के मुताबिक हर सप्ताह ढ़ाई घण्टे की गई साइकलिंग और स्विमिंग से डायबिटीज़, हृदय रोग और क्रानिक इलनेस जैसी समस्याओं को दूर किया जा सकता है। इसके अलावा ये ज्वाइंट और मसल्स पेन का भी सर्वोत्तम इलाज है। ब्रिटिश जर्नल ऑफ स्पोर्टस मेडिसिन के मुताबिक 80,000 युवाओं पर की गई एक स्टडी के अुनसार पाया गया कि जो लोग नियमित तौर पर स्विमिंग करते हैं, उनमें हार्ट डिजीज़ का खतरा 41 फीसदी कम हो जाता है। वहीं एक अन्य स्टडी के हिसाब से साइकलिंग करने वाले लोगों में अर्ली डेथ का जोखिम 10 फीसदी तक घट जाता है ।

साइकल चलाना या तैरना किस तरह से है आपकी सेहत के लिए फायदेमंद

1. मेंटल हेल्थ को करे इंप्रूव

स्विमिंग- सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड वेलनेस के मुताबिक पानी हमारे दिलो दिमाग को शांति प्रदान करता है। अधिकतर लोग अपने माइंड को रिलैक्स रखने के लिए समुद्र के नज़दीक जाते है। ऐसे में कुछ देर की जाने वाली स्मिंग आपको एनर्जी प्रोवाइड करवाती है। इससे आप तनाव की स्थिति से बाहर आ जाते हैं और मूड सि्ंवग की समस्या भी दूर हो जाती है।

साईकलिंग- बीएमजे जर्नल की एक स्टडी के मुताबिक साइकिल चलाने वाले लोग अन्य ट्रांसपोर्ट मोडस चलाने वाले यात्रियों के मुकाबले कम तनावग्रस्त रहते हैं। ऐसा पाया गया है कि प्रत्येक सप्ताह चार से पांच दिन साइकिल चलाने वाले लेग कम साइकिल चलाने वालों की तुलना में कम तनावग्रस्त होते हैं।

Aaj se hi shuruaat kare
दिन में कम से कम 30 मिनट साइकल चलाने से हृदय और मांसपेशियों की सहनशक्ति बढ़ सकती है। चित्र:शटरस्टॉक

2. अर्थराइटिस में फायदा पहुंचाए

स्विमिंग- वेब एमडी के मुताबिक वे लोग जो अर्थराइटिस का शिकार है, तैराकी उनके लिए फायदेमंद है। इस एरोबिक एक्सरसाइज़ को कारने से ज्वाइंटस पर दबाव नहीं बनता है, जिससे दर्द की संभावना खत्म हो जाती है। साथ ही जोड़ों में रहने वाला दर्द भी धीरे धीरे समाप्त हेने लगता है। अगर आपको कमर या पीठ में भी दर्द की शिकायत है, तो स्विमिंग उसमें भी एक कारगर साबित होता है। वार्म वॉटर एक्सरसाइज़ करने से भी ओस्टियोपिरोसिस का खतरा कम हो जाता है।

साईकलिंग- अगर आप गठिया के मरीज़ है, तो साईकलिंग करने से आपको दर्द का अनुभव हो सकता है। ज्यादा देर तक साइकिल चलाने से उंगलियों के ज्वाइंटस सुन होने लगते हैं और दर्द महसूस करते हैं।

swimming benefit
स्विमिंग से मेंटल हेल्थ बूस्ट अप होता है। चित्र:शटरस्टॉक

3. कैलोरी करे बर्न

तैराकी की मदद से आप बहुत जल्द कैलोरीज़ को बर्न कर सकते हैं। मेडिकल न्यूज टुडे के मुताबिक स्विमिंग करने से आप एक घंटे में 500 कैलोरीज़ तक बर्न कर सकते हैं। गर्मी के मौसम में स्विमिंग करने से आपका शरीर भी ठण्डा रहता है और आप अन्य प्रकार के रोगों से भी मुक्त हो जाते हैं।

साईकलिंग- साइकलिंग एक प्रकार की एक्सरसाइज़ है, जो वेटलॉस में मददगार साबित होती है। हार्वर्ड हेल्थ के मुताबिक 155 पाउंड यानि 70 किलोग्राम वज़न का व्यक्ति 30 मिनट तक साइकलिंग करने से करीबन 252 कैलोरी बर्न होता है।

तैराकी और साइकलिंग दोनों की चीजें अपने अपने स्थान पर खास महत्व रखती है। तैराकी आप किसी भी उम्र में सीख सकते हैं। वहीं साइकलिंग अगर आप बड़ी उम्र में सीखने का प्रयास करते हैं, तो चोटिल होने का खतरा रहता है। वे लोग जो बचपन से इसका पूर्ण रूप से अभयास कर रहे हैं। उनके लिए ये खुद को एक्टिव और फिट रखने का आसान माध्यम है।

ये भी पढ़ें- Vegan Milk : भीगे हुए काजू का दूध कर सकता है आपकी सेहत के लिए कमाल, यहां जानिए इसके फायदे

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें

  • 141
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख