New Year Resolution : आने वाले साल में बैली फैट घटाना है, तो इन 5 चीजों से अभी से कर लें तौबा

पेट पर जमी जिद्दी चर्बी अगर आपको लगातार चिढ़ाती रही है, तो अब इससे निपटने के लिए सही रणनीति बनाने की जरूरत है। तो शुरूआत अपनी खाने की प्लेट से की जाए।
galat khanpan se badhta hai motapa
बढ़ता वजन दिन प्रति दिन सभी के चिंता का विषय बनता जा रहा है। चित्र : एडॉबीस्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 23 Dec 2022, 08:00 am IST
  • 127

मोटापे का पहला संकेत है बेली फैट। मोटापा सबसे पहले आपके पेट पर नजर आता है। वहीं पेट की चर्बी जितनी जल्दी बढ़ती है उतना ही मुश्किल है इससे निजात पाना। खराब लाइफस्टाइल, गलत खानपान और शारीरिक स्थिरता पेट पर चर्बी जमने के सबसे सामान्य कारणों में शामिल हैं। ऐसे में इन चीजों को यदि नियंत्रित न किया जाए तो यह समय के साथ आपकी परेशानी को बढ़ा सकती हैं। आपके पेट के हिस्से के आसपास एक्स्ट्रा चर्बी जमा होने में डाइट का एक सबसे बड़ा रोल होता है। तो अगर आने वाले साल में आप इस जिद्दी बैली फैट (Foods to avoid to lose belly fat) से छुटकारा चाहती हैं, तो अपनी डाइट से इन चीजों को कर दें अभी से आउट।

हेल्थ शॉट्स ने बेली फैट (Belly fat) बढ़ाने वाले फूड्स को लेकर न्यूट्रीफाई बाई पूनम डाइट एंड वैलनेस क्लिनिक एंड अकेडमी की डायरेक्टर पूनम दुनेजा से बातचीत की। उन्होंने बेली फैट बढ़ाने वाले 5 फूड्स के नाम बताए हैं। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में आखिर क्या हैं ये और किस तरह ये बेली फैट बढ़ाते हैं।

इन 5 फूड्स का सेवन बन सकता है बेली फैट का कारण, तो इनसे अभी से कर लें तौबा

1. आइस क्रीम की मिठास बन सकती है बेली फैट का कारण

आइस क्रीम में काफी ज्यादा शुगर मौजूद होता है। जिस वजह से इसका सेवन ब्लड शुगर लेवल को तेजी से बढ़ता है क्योंकि इंसुलिन ट्रिगर हो जाती है। वहीं आइस क्रीम में भरपूर मात्रा में कैलरी पाई जाती हैं। ऐसे में जरूरत से ज्यादा आइसक्रीम खाने से बेली में एक्स्ट्रा फैट जमा होने की संभावना बढ़ जाती है।

ice-cream-hazards
ज्यादा आइसक्रीम खाना हो सकता है सेहत के लिए नुक्सानदायक. चित्र : शटरस्टॉक

2. चीज़ भी है खतरनाक

अधिक मात्रा में चीज़ के सेवन से शरीर में कैलोरी की मात्रा बढ़ जाती है। जिस वजह से वेट गेन की समस्या देखने को मिलती है। वहीं यदि आप शारीरिक रूप से स्थाई रहती हैं और हर रोज चीज खाती हैं, तो आपका शरीर जितनी कैलरी लेता है उससे काफी कम मात्रा में बर्न कर पाता है। जिस वजह से पेट के आसपास एक्स्ट्रा फैट जमा होने की संभावना काफी बढ़ जाती है।

3. नूडल्स से होते हैं कई नुकसान

आमतौर पर बाजार में मिलने वाले नूडल्स मैदे के बने होते हैं और इनमे अधिक मात्रा में फैट और कैलरी पाई जाती है। ऐसे में इनका अधिक सेवन आपके पेट की चर्बी का कारण बन सकता है। वहीं पोषक तत्वों की कमी के कारण यह समग्र सेहत के लिए हानिकारक होती हैं। यदि आपको नूडल्स पसंद हैं तो आटे से बने नूडल्स खरीदे और इसे घर पर हेल्दी वेजिटेबल्स के साथ बनाएं। बाजारू नूडल्स से जितना हो सके उतनी दूरी बनाए रखें।

4. अल्कोहल भी बढ़ाता है बेली फैट

यदि एक सीमित मात्रा में अल्कोहल लिया जाए जैसे कि रेड वाइन, तो यह सेहत ले लिए फायदेमंद होता है और कइ तरह बीमारियों को आपसे दूर रखता है। वहीं इसका अधिक सेवन स्वास्थ को हानि पहुंचाने के साथ साथ मोटापे का कारण बन सकता है।

पब मेड द्वारा की गई स्टडी की मानें तो अधिक मात्रा में अल्कोहल का सेवन बेली फैट और बीएमआई बढ़ने का कारण होता है। अल्कोहल में भी कैलरी की अधिक मात्रा पाई जाती है। साथ ही साथ लगभग सभी अल्कोहल ड्रिंक्स में भरपूर मात्रा में शुगर मौजूद होता है। इसलिए इससे जितना हो सके परहेज रखने की कोशिश करें।

alcohol
एल्कोहल के सेवन से आपकी चर्बी भी अधिक बढ़ सकती है।। चित्र: शटरस्‍टॉक

5. लो फाइबर डाइट भी हैं बेली फैट बढ़ने के कारण

फाइबर से युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन आपको लंबे समय तक संतुष्ट रखता है और बार बार भूख लगने की समस्या नही होती। वहीं यह पाचन क्रिया के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। बात यदि पब मेड के रिसर्च की करें तो हाई फाइव फूड्स बेली फैट रिड्यूस करने में मदद करते है और फाइबर की कमी फैट बढ़ने का कारण हो सकती हैं। ऐसे में शरीर मे फाइबर की मात्रा को बनाये रखने के लिए बीन्स, दाल, सबूत अनाज, वेजिटेबल्स, फ्रूट्स, नट्स को डाइट में शामिल करें।

यह भी पढ़ें : गुलाबी सी सर्दियों को और स्वादिष्ट बनाएं गाजर की इन 2 हेल्दी रेसिपीज के साथ

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें
  • 127
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख