कोज़ी कार्डियो है आपके हार्ट के लिए एक हेल्दी व्यायाम, जानिए ये क्या है और कैसे किया जाता है

कोजी कार्डियो सक्रिय रहने का एक आरामदायक तरीका है। इसमें आप अपने पसंदीदा व्यायामों को उन चीजों के साथ जोड़ देते है जिन एक्टिविटी में आपको मजा आता है।
cardio ke liye steps
इमसल्स की स्टिफनसे को दूर करने के लिए वर्कआउट रूटीन में वॉर्मअप के बाद कार्डियो एक्सरसाइज़ की जाती है। चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Published: 31 Mar 2024, 12:30 pm IST
  • 143

सोशल मीडिया पर आए दिन कई नए नए तरह के फिटनेस ट्रेंड देखने को मिलते है। उन्हीं में से एक है कोजी कार्डियो। ये व्यायाम का एक रूप है जो आपके शरीर पर बहुत अधिक क्रुर हुए बिना आपके फिट रहने का मौका देता है। इसमें आपको अधिक कठोर होने के बजाय अधिक आराम मिलेगा। वजन उठाने की बजाय से अधिक वाइब्स का मजा लेने का मौका मिलेगा। इसमें कार्डियो में आपकी सेल्फ केयर को ज्यादा प्राथमिकता दी जाती है।

लेकिन कई बार सवाल ये उठता है कि फिटनेस के लिए तो कठोर होना बहुत थकान के साथ वर्कआउट करने की जरूरत होती है। तो क्या ये आराम के साथ किया जाने वाला कार्डियो आपकी फिटनेस के लिए अच्छा है भी या नहीं। तो चलिए जानते है इस कार्डियो के बारे में कुछ बातें।

कोज़ी कार्डियो क्या है (What is cozy cardio)

कोजी कार्डियो सक्रिय रहने का एक आरामदायक तरीका है। इसमें आप अपने पसंदीदा व्यायामों को उन चीजों के साथ जोड़ देते है जिन एक्टिविटी में आपको मजा आता है। जैसे अपने दोस्तों के साथ एक लंबी वॉक पर जाना या कुछ लक्ष्यों को निर्धारित करके उन्हें पूरा करना जैसे काम के बीच में ब्रेक लेकर एक 5 मिनट की वॉक करना।

Jaante hain water pushup ke fayde
कोजी कार्डियो, जैसे चलना, तैरना या साइकिल चलाना जैसी हल्की एक्टिविटी होती है। चित्र- अडोबी स्टॉक

अधिकांश व्यायाम रिपिटेशन गिनने या भारी वजन उठान पर निर्भर करते हैं, लेकिन कोजी कार्डियो का इस बात पर जोर देता है कि आप कैसा महसूस करते हैं। यह एक ऐसी जगह बनाने पर जोर देता है जहां आप अधिक आरामदायक और आत्मविश्वास महसूस करते हैं।

कोजी कार्डियो हाई इंटेनसिटी वाले वर्कआउट से दूर है और इसके बजाय चलना, स्थिर साइकलिंग, योग या पिलेट्स जैसी आरामदायक और कोमल गतिविधियों को शामिल करता है।

क्या कोजी कार्डियो हार्ट के लिए फायदेमंद है?

कोजी कार्डियो, जैसे चलना, तैरना या साइकिल चलाना जैसी हल्की एक्टिविटी, हृदय स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हो सकती हैं। ये कम प्रभाव वाले व्यायाम है, जो की सर्किलेशन में सुधार, हृदय की मांसपेशियों को मजबूत और ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करते हैं। कोजी कार्डियो तनाव और एंग्जाइटी को कम करने में भी मदद करता है, जो हृदय रोग के लिए जोखिम कारक माने जाते हैं।

इन मनोरंजक एक्टिविटी को अपने रूटीन में शामिल करके, आप हृदय की कार्यप्रणाली को बढ़ा सकते हैं, सहनशक्ति बढ़ा सकते हैं और पूरे स्वास्थ्य को मजबूती दे सकते हैं।

कोजी का कार्डियो के कई और फायदे (Other benefits of cozy cardio)

गतिहीन जीवन जीने वालों के लिए

कोजी कार्डियो को अपने रूटीन में शामिल करने पर विचार करने का एक सबसे बड़ा कारण यह है कि यह आपके शरीर को सक्रिय रखने का एक आसान तरीका है, यहां तक कि ऐसे समय में भी जब आपको इमोशनल ब्रेक की आवश्यकता होती है।

आज के आधुनिक स्वास्थ्य जोखिमों में गतिहीनता का बहुत बड़ा योगदान है। चलने-फिरने की कमी और अधिक समय तक बैठे रहने को अवसाद, खराब मेंटल हेल्थ और भी बहुत चीजें हो सकती है। कोजी कार्डियो आपके गतिहीन जीवन को सक्रिय करने का आसान तरीका है।

सभी फिटनेस स्तर के लोगों के लिए

कोजी कार्डियो का लाभ यह है कि इसे सभी फिटनेस स्तर के लोग कर सकते हैं। कोजी कार्डियो के अधिकांश तरीके काफी कम प्रभाव वाले हैं, जिसमें चलना सबसे पंसद किया जाने वाला तरीका है।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें
cozy cardio ke fayde
कार्डियो का लाभ यह है कि इसे सभी फिटनेस स्तर के लोग कर सकते हैं। चित्र- अडॉबीस्टॉक

कोजी कार्डियो उन लोगों के लिए उपयुक्त है जो अधिक ज़ोरदार एक्टिविटी के लिए तैयार नहीं हैं, जैसे कि वे जो अभी अपनी फिटनेस यात्रा शुरू कर रहे हैं या वे लोग जो पिछली चोटों के कारण उच्च प्रभाव वाली एक्सरसाइज नहीं कर सकते हैं।

फिटनेस के साथ बेहतर रिश्ता बनाने के लिए

कोजी कार्डियो का एक और फायदा यह है कि ये फिटनेस और एक्टिविटी के साथ आपके रिश्ते को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है।

हम सभी जानते हैं कि शारीरिक गतिविधि हमारे स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है, लेकिन फिर भी जिम और इंटेंस एक्सरसाइज डराने वाली हो सकती है। वे वास्तव में शरीर पर भी कठोर हो सकते हैं। लेकिन “आरामदायक कार्डियो” के पीछे का पूरा विचार यह है कि आप प्रक्रिया का आनंद लेते हुए अपने शरीर में मूवमेंट कर सकते हैं।

ये भी पढ़े- नियमित योगाभ्यास ग्रोथ हॉर्मोन कर सकता है बूस्ट, बच्चों की हाइट नहीं बढ़ रही, तो उन्हें कराएं ये 3 योगासन

  • 143
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख