फॉलो
वैलनेस
स्टोर

क्‍या सर्दियों में ज्यादा प्रोटीन का सेवन भी हो सकता है वजन बढ़ने का कारण? जानिए क्‍या है सच्‍चाई

Published on:3 January 2021, 10:00am IST
जब भी वेट लॉस की बात आती है , तो पोषण विशेषज्ञ आपको प्रोटीन डाइट बढ़ाने की सलाह देते हैं। पर क्‍या ज्‍यादा प्रोटीन का सेवन वजन बढ़ाने के लिए भी जिम्‍मेदार है?
विनीत
  • 86 Likes
वेट लॉस करना चाहती हैं तो प्रोटीन को डाइट में जरूर शामिल करें। चित्र: शटरस्टॉक

जब भी हम वजन कम करने या मसल्स बिल्ड करने की बात करते हैं, तो प्रोटीन को सबसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व माना जाता है। यह स्वास्थ्य के लिए कई तरह से फायदेमंद होता है। यह हमारे पाचनतंत्र को बूस्ट करने में मदद करता है। पर क्‍या इसका सेवन कितना जरूरी है और कब यह आपकी सेहत को पहुंचाने लगता है नुकसान, यह जानना भी बहुत जरूरी है।

प्रोटीन के फायदों को ध्यान में रखते हुए, पोषण विशेषज्ञ इसे अपनी डाइट में शामिल करन की सलाह देते हैं। बेशक प्रोटीन का सेवन हमारे स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन किसी भी चीज की अति स्वास्थ्य के लिए कभी भी फायदेमंद नहीं होती। अक्सर यह देखा गया है कि लोग प्रोटीन का अधिक मात्रा में सेवन करते हैं। लेकिन अधिक मात्रा में प्रोटीन का सेवन करना आपके स्वास्थ्य को फायदा पहुंचाने के बजाए, नुकसान पहुंचा सकता है।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

विशेषज्ञ दैनिक आहार में अनुशंसित स्तर से ऊपर प्रोटीन का सेवन बढ़ाने का सुझाव नहीं देते क्योंकि इससे कई स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। हम आपको अधिक प्रोटीन के सेवन के शरीर पर 5 दुष्‍प्रभावों के बारे में बता रहे हैं।

ज्यादा प्रोटीन आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है। चित्र-शटरस्टॉक

कितना प्रोटीन होगा बहुत ज्यादा?

प्रोटीन के लिए दैनिक अनुशंसित स्तर आयु, लिंग, शारीरिक गतिविधि स्तर, गर्भावस्था और स्तनपान जैसे कारकों पर निर्भर करता है। सामान्यत: एक सामान्य वयस्क को प्रति दिन अपने शरीर के वजन के अनुसार प्रति 1 किलो वजन पर 0.8 ग्राम प्रोटीन खाने की सलाह दी जाती है। यदि कोई व्यक्ति मध्यम से तीव्र शारीरिक स्तर तक सक्रिय रहता है, तो प्रोटीन की मात्रा 1.3 ग्राम से 1.6 ग्राम के बीच हो सकती है।

यह भी पढ़ें: दौड़ते समय हो रही सांस लेने में तकलीफ, तो ये 5 टिप्स राहत पाने में कर सकते हैं आपकी मदद

किसी भी मामले में, प्रोटीन का सेवन प्रति दिन शरीर के वजन के 1.6 ग्राम प्रति किलो से अधिक नहीं होना चाहिए। इस सीमा को पार करने से स्वास्थ्य संबंधी कई जटिलताएं हो सकती हैं।

क्या हो सकते हैं प्रोटीन के अधिक सेवन के दुष्‍प्रभाव

  1. सांसों से दर्गंध आना

अपने कार्ब के सेवन को सीमित करने और प्रोटीन के सेवन को अधिक बढ़ाने से आपकी सांसों में दुर्गंध की समस्या हो सकती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि कार्ब्स की कमी से आपका शरीर मेटाबॉलिक स्टेट केटोसिस में चला जाता है। यह अन्य स्रोतों से ऊर्जा बनाना शुरू करता है, जिससे रसायनों का उत्पादन होता है, जो एक अप्रिय गंध को छोड़ देता है।

  1. कब्ज की समस्या होना

प्रोटीन का सेवन उच्च मात्रा में और कम कार्ब वाले भोजन का मतलब यह है कि आप फाइबर का सेवन भी कम कर रही हैं। यह पोषक तत्व शरीर के माध्यम से गुजरता है जो आपके पाचन तंत्र को साफ और स्वस्थ रखता है और मल त्याग को आसान बनाता है। जबकि फाइबर का सेवन कम करने से पाचन संबंधी समस्याएं और कब्ज हो सकती हैं। यदि आप बहुत अधिक डेयरी उत्पाद खा रहे हैं तो इससे आपको दस्त भी हो सकते हैं।

  1. ब्रेन फॉगिंग की समस्या हो सकती है

अधिक मात्रा में प्रोटीन का सेवन करने वाले लोगों में ब्रेन फॉगिंग या चक्कर आना एक और सामान्य संकेत है। अधिक प्रोटीन खाने के लिए आपको अपने कैलोरी काउंट को बनाए रखने के लिए कार्ब का सेवन कम करना होगा। लाे कार्ब का मतलब है कि आपके मस्तिष्क को कम चीनी मिलती है, जिसके कारण यह वास्तव में सिकुड़ जाता है।

इससे आप फॉगिंग या चक्कर आना महसूस करती हैं। मस्तिष्क के लिए कार्ब ऊर्जा का मुख्य स्रोत है और शरीर में इस पोषक तत्व की कमी आपके एकाग्रता स्तर और मनोदशा को प्रभावित कर सकती है।

  1. डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है

2002 के एक अध्ययन के मुताबिक प्रोटीन का सेवन बढ़ाने से हाइड्रेशन का स्तर कम हो सकता है। डिहाइड्रेशन किडनी के कारण होता है, जिसे प्रोटीन को मेटाबोलाइज करने से प्रोटीन और नाइट्रोजन कचरे की अधिकता को हटाने के लिए अधिक मेहनत करनी पड़ती है। इससे आपको बार-बार पेशाब आने की समस्या हो सकती है, आपको  अधिक प्यास लगती है, साथ ही लंबे समय तक ऐसा रहने पर यह आपकी किडनी पर भी प्रभाव डालता है।

वेट लॉस यात्रा में कुछ चीजें क्लियर कर लेना अच्‍छा होता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
ज्यादा प्रोटीन के सेवन से वजन भी बढ़ सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
  1. वजन बढ़ सकता है

आप प्रोटीन का अधिक सेवन अपने वजन को कम करने के उद्देश्य के लिए करती हैं। लेकिन दुर्भाग्य से प्रोटीन का अधिक सेवन आपके वजन बढ़ने का कारण बन सकता है। हालांकि यह समस्या शॉर्ट टर्म के लिए होगी। आपके द्वारा उपभोग किए जाने वाले अतिरिक्त प्रोटीन को आमतौर पर शरीर में संग्रहीत किया जाता है, जबकि अमीनो एसिड का अधिशेष उत्सर्जित होता है। इससे अस्थायी वजन बढ़ सकता है।

यह भी पढ़ें: लगातार बढ़ रहा है वजन तो इन 5 टिप्स को फॉलो करें, वजन प्रबंधन में मिलेगी मदद

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विनीत विनीत

अपने प्यार में हूं। खाने-पीने,घूमने-फिरने का शौकीन। अगर टाइम है तो बस वर्कआउट के लिए।