और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

क्या सच में च्युइंगगम चबाने से कम हो सकता है वजन? हमने ढूंढी इस प्रचलित धारणा की सच्‍चाई

Updated on: 10 December 2020, 13:41pm IST
च्युइंग चबाने को व्यर्थ से लेकर असरदार तक सब कुछ कहा जाता है, लेकिन साइंस क्या कहता है? आइये जानते हैं।
विदुषी शुक्‍ला
  • 79 Likes
क्या सच में च्युइंगगम चबाने से कम हो सकता है वजन?चित्र: शटरस्टॉक

क्या च्युइंगगम से गाल कम होते हैं? क्या यह वजन कम कर सकता है? अगर आपके मन में भी यह सवाल है कि क्या च्युइंगगम वाकई वजन कम करने में कारगर है, तो आपके सवाल का जवाब हम दे रहे हैं।

च्युइंगगम चबाने पर आपके साथ यह होता है-

1. च्युइंगगम चबाने से आपको भूख कम लगती है

च्युइंगगम चबाने पर आपको भूख कम लगती है, पेट भरा महसूस होता है और बार-बार कुछ खाने की क्रेविंग नहीं होती। जर्नल ‘फ्रंटियर्स ऑफ साइकोलॉजी’ में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार च्युइंगगम चबाने से दिमाग को यह एहसास होता है कि आपका पेट भरा हुआ है।

इस स्टडी में प्रतिभागियों को खाने से 30 मिनट पहले च्युइंगगम चबाने को कहा गया। इसमें च्युइंगगम चबाने से ज्यादा देर तक पेट भरा रहा।
इससे हम यह मान सकते है कि च्युइंगगम चबाने से आप कम खाते हैं।

शोध में पाया गया है कि च्युइंग गम चबाने से आप कम खाती हैं। चित्र- शटरस्टॉक।

2. आप कम कैलोरी लेंगे

एप्लाइड फिजियोलॉजी जर्नल में प्रकाशित 2015 की एक स्टडी में पाया गया कि जिन लोगों ने लंच के बाद 20 मिनट च्युइंगगम चबाई, उन्होंने अगली मील में 68 कैलोरी कम खाई। 68 कैलोरी का अर्थ हुआ दो बड़े चम्मच पीनट बटर।

इसी तरह पबमेड में प्रकाशित एक अन्य स्टडी के अनुसार किसी मील के बाद च्युइंग गम चबाने से आप अगली मील 10 प्रतिशत कम लेते हैं।
लेकिन इनमें से कोई भी स्टडी यह दावा नहीं करती कि इस कैलोरी में आये अंतर का आपके वजन पर उल्लेखनीय फर्क पड़ता है या नहीं।

3. वजन पर कोई खास असर नहीं पड़ता

कई ऐसी स्टडी हैं, जिनका मानना है कि च्युइंगगम चबाने से हम सामान्य से थोड़ी अधिक कैलोरी बर्न करते हैं क्योंकि हम लगातार मुंह चला रहे होते हैं। लेकिन इस कैलोरी बर्न का हमारे वजन पर लम्बे समय में कोई असर नहीं दिखता। च्युइंगगम हमारे फिटनेस में कोई योगदान नहीं देती जिसके कारण इससे आये वेट लॉस का स्वास्थ्य पर बहुत असर नहीं पड़ता।

क्या च्युइंग गम चबाने से गाल कम होते हैं।
क्या च्युइंग गम चबाने से गाल कम होते हैं।चित्र- शटरस्टॉक

4. शुगर-फ्री च्युइंगगम है बेहतर

चीनी युक्त या फ्लेवर्ड च्युइंगगम के मुकाबले बिना शुगर की च्युइंगगम बेहतर विकल्प है।
हर 2 ग्राम सामान्य च्युइंगगम में शुगर-फ्री च्युइंगगम से 2 कैलोरी ज्यादा होती हैं।
बस एक दिन में आपको च्युइंगगम 20 ग्राम से अधिक नहीं खानी चाहिए, जो लगभग 12 से 16 च्युइंगगम हुए।

क्या है अंतिम निर्णय?

च्युइंगगम आपकी क्रेविंग कम करता है, भूख कम लगती है और आपका पेट लम्बे समय तक भरा रहता है। लेकिन यह वेट लॉस का भरोसेमंद तरीका नहीं हो सकता।

च्युइंगगम चेहरे की मांसपेशियों को मूवमेंट में रखती है, जिससे आपके चेहरे की एक्सरसाइज हो जाती है। लेकिन यह चेहरे का फैट कम करती हो, इस पर कोई वैज्ञानिक तथ्य मौजूद नहीं हैं।
च्युइंगगम खाती हैं तो शुगर फ्री च्युइंगगम चुनें। सिर्फ वजन कम करने के उद्देश्य से च्युइंगगम न खरीद कर लाएं।

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।