बिना जिम जाए भी कर सकती हैं फैट बर्न, बस याद रखें डेली रुटीन की ये 5 बातें

क्या आप भी आपने शरीर में जगह-जगह जमा हुई जिद्दी चर्बी से परेशान हैं? एक्सरसाइज करके भी थक चुकी हैं, तो जानिए उन तरीकों के बारे में जो आपको हेल्दी तरीके से फैट बर्न करने में मदद करते हैं।
weight loss ke liye madadgar hai zero oil cooking
खाने में तेल की मात्रा न होने से वेटगेन की समस्या दूर हो जाती है और शरीर में हेल्दी वेट मेंटेन रहता है। चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Published: 22 Aug 2023, 08:00 am IST
  • 146
मेडिकली रिव्यूड

भागदौड़ से भरी जिंदगी में कभी-कभी फिटनेस के लिए भी समय निकालना मुश्किल हो जाता है। हालांकि कुछ लोग अपनी फिटनेस के लिए रेगुलर जिम जाते हैं। पर ऑफिस जाने वाले ज्यादातर लोग सुबह की जल्दबाज़ी में जिम जाने का भी समय नहीं निकाल पाते। इसके कारण आपके महिलाओं के शरीर के कई हिस्सों में जिद्दी चर्बी जमा हो जाती है। मगर परेशान न हों, क्योंकि यहां हम उन उपायों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें फॉलो कर आप बिना जिम जाए भी फैट बर्न (tips to burn fat) कर सकती हैं।

शरीर के कई क्षेत्रों से जिद्दी चर्बी को कैसे खत्म करें

1 संतुलित आहार का सेवन करें

जिद्दी चर्बी को हटाने या खत्म करने का सबसे पहला तरीका है कि आपको एक संतुलित आहार का ही सेवन करना है। बहुत अधिक तले हुए, मसालेदार खाने और प्रोसेस्ड फूड से आपको बचना बहुत जरूरी है। शरीर में चर्बी को बढ़ाने के लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार डीप फ्राइड फूड ही होता है।

आपको एक संतुलित आहार में लीन प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, स्वस्थ वसा और प्रचुर मात्रा में फल और सब्जियां शामिल करनी चाहिए। प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ, मीठे स्नैक्स और अत्यधिक मात्रा में अस्वास्थ्यकर वसा से बचें या सीमित करें।

Weight loss mei faydemand quinoa khichdi
अपनी डाइट में फाइबर के सेवन को बढ़ाने से भी आपको शरीर में चर्बी को कम करने में मदद मिल सकती है। चित्र : एडॉबीस्टॉक

2 फाइबर के सेवन को बढ़ाएं

अपनी डाइट में फाइबर के सेवन को बढ़ाने से भी आपको शरीर में चर्बी को कम करने में मदद मिल सकती है। अधिक मात्रा में आहार में फाइबर को शामिल करने से वजन को कम करने में मदद मिलती है। फाइबर आपके पाचन तंत्र में धीरे पचता है और आपको लंबे समय तक भूख नहीं लगती है। जिससे आप कुछ भी अधिक और अनहेल्दी खाने के बचते है।

फल, सब्जियां, साबुत अनाज, मेवे, बीज और फलियां पौष्टिक और उच्च फाइबर वाले खाद्य पदार्थों के उदाहरण है इनका सेवन आप अपने फाइबर को बढ़ाने वाली डाइट में कर सकते है।

3 शरीर को दें पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन

चर्बी को कम करने के लिए आपको हल्की एक्सरसाइज के साथ प्रोटीन का सेवन करना चाहिए। यह आपको किसी भी तरह की क्रेविंग से बचाता है और आपकी भूख को भी कंट्रोल करता है।

यह वजन को कम रखने और शरीर से फालतू चर्बी को कम करती है। एक अध्ययन में पाया गया कि सुबह नाश्ते में उच्च प्रोटीन वाला आहार खाने से लंबे समय तक पेट भरा हुआ महसूस हुआ। प्रोटीन से भरपूर आहार लेने से भूख बढ़ाने वाले हार्मोन घ्रेलिन का स्तर कम हो सकता है।

weight kaam krne ke liye kya karein
वजन घटाने की यात्रा शुरू करना चुनौतीपूर्ण हो सकता है। चित्र : एडॉबीस्टॉक

4 पर्याप्त मात्रा में पानी पीकर हाइड्रेटेड रहें

जब भी शरीर की जिद्दी चर्बी खत्म करने की बात आती है, तो आपको नियमित रूप से पानी के सेवन से खुद को हाइड्रेट रखना बहुत जरूरी होता है। कई अध्ययनों में यह सामने आया है कि यदि आप खाने के साथ पानी पीते हैं, तो इससे आपका पेट जल्दी भरता है और आपके आहार की कुल मात्रा और सेवन की जा रही कैलोरी की संख्या में भी कमी आती है।

याद रखें की हाइड्रेट रहने के लिए सॉफ्ट ड्रिंक, रेडीमेड जूस का सेवन न करें क्योंकि इसमें शुगर की मात्रा काफी अधिक होती है। जो आपकी कैलोरी को कम करने की जगह और अधिक बढ़ा सकती है। इसकी जगह आपको चाय या बिना चीनी वाले पेय पदार्थों का सेवन करना चाहिए।

5 डिनर का टाइम निश्चित करें

वेट बढ़ने और फैट जमा होने का एक बड़ा कारण रात देर तक खाना खाना भी है। ज्यादातर लोग बिजी होने के कारण रात आठ, नौ या कभी-कभी दस बजे के बाद डिनर करते हैं। जिससे आपके शरीर को उसे पचाने का पर्याप्त समय नहीं मिल पाता। नतीजतन इस आहार से शरीर को पोषण मिलने की बजाए वह जगह-जगह फैट के रूप में जमा होने लगता है। इसलिए अगर आप फैट बर्न करना चाहती हैं, तो सबसे पहले अपने डिनर का समय निश्चित करें। यह आपके सोने से कम से कम दो घंटे पहले होना चाहिए।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें

ये भी पढ़े- गर्दन में दर्द है? तो जानिए इसके अलग-अलग कारण और क्विक रिलीफ टिप्स

  • 146
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख