आपके खड़े होने का गलत अंदाज भी दे सकता है आपको कई परेशानियां, जानिए क्या है सही तरीका

Published on: 6 March 2022, 15:30 pm IST

गलत तरीके से खड़ा होना या बैठना न केवल आपके लुक को खराब कर सकता है, बल्कि भविष्य में ये कई मांसपेशियों और हड्डी संबंधी समस्याओं को भी जन्म दे सकता है।

Bad posture ke effects
ख़राब बॉडी पॉश्चर के है कई नुकसान। चित्र : शटरस्टॉक

आपका पॉश्चर आपके बारे में काफी कुछ बताता है। अच्छे पोस्चर वाले लोग ज्यादा कॉन्फिडेंट नजर आते हैं। कहीं आप भी उन लोगों में से तो नहीं है जो कि गलत तरीके से खड़े होते हैं? अगर ऐसा है तो जल्द से जल्द संभल जाइए क्योंकि यह गलत तरीका आगे जाकर आपको काफी भारी पड़ सकता है। गलत पॉश्चर से होने होने वाली समस्याओं के बारे में अधिक समझने के लिए हमने लखनऊ खरगापुर स्थित आनवी फिजियोथैरेपी सेंटर के फिजियोथैरेपिस्ट डॉ नवनीत श्रीवास्तव से संपर्क किया। 

जानिए क्या कहते हैं हमारे एक्सपर्ट

डॉ नवनीत श्रीवास्तव बताते हैं,गलत पॉश्चर आपके शरीर की पूरी बनावट को बिगाड़ सकता है। लेकिन इसी के साथ इसका बुरा असर आपकी पर्सनॉलिटी पर भी पड़ता है। गलत ढंग से बैठना या खड़े होना परेशानियों का कारण बन सकता है।

galat posture personality kharab kar deta hai
गलत बॉडी पोस्चर पर्सनैलिटी को खराब कर सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

वे आगे कहते हैं,”गलत पॉश्चर कई बीमारियों को बुलावा देता है। ऐसा करने से स्लिप डिस्क, खराब ब्लड सर्कुलेशन,कमरदर्द, पीठदर्द, सीने में दबाव जैसी कई परेशानियों के जकड़न में आप आ सकती हैं। गलत पॉश्चर में बैठने और खड़े होने की वजह से कई लोगों का तो पेट भी निकल आता है।”

जानिए क्या है सही पॉश्चर के लाभ

  1. लंबे समय तक एक ही पॉश्चर में बैठना लोगों के लिए मुश्किल हो जाता है लेकिन जो लोग सही तरीके से बैठते हैं उनके लिए फायदेमंद रहता है। सही पॉश्चर में बैठने से लोगों को पीठ के दर्द से छुटकारा मिलता है। यही नहीं इसी के साथ-साथ सिर दर्द से भी छुटकारा पाने के लिए सही पोस्चर जरूरी होता है।
  2. सही तरीके से बैठने और खड़े रहने वाले लोग हमेशा ही अधिक ऊर्जावान महसूस करते हैं। बैठते समय सीधी रीढ़ से पीठ की मांसपेशियां अधिक अलाइन्ड होती हैं जोकि उन्हें अधिक गतिशीलता देता है। 
  3. अच्छे पॉश्चर की मदद से सांस लेना भी आसान हो जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि इसकी मदद से फेफड़े सही तरीके से फूल पाते हैं।
  4. सही तरीके से बैठना और खड़ा रहना आपके शरीर में रक्त संचार को तेज करता है जिसकी मदद से बुढ़ापा भी आप से दूर रहता है।

समझिए क्या है खड़े होने का सही अंदाज 

डॉ श्रीवास्तव कहते हैं, इस चीज का ध्यान रखना बहुत अहम है कि जब भी आप खड़े हो तो आपके शरीर का भार आपकी एड़ी के बजाय आप के पंजे पर हो। सुनिश्चित करें कि खड़े होते समय अपनी गर्दन और पीठ को सीधा रखें। अगर आप टेढ़े या फिर झुक कर खड़े होंगे तो आप को आगे जाकर पीठ दर्द की शिकायत हो सकती है। 

यह जरूर कोशिश करें कि आपके शरीर का भार आपके दोनों ही पैरों पर पड़े जिससे जोड़ों से जुड़ी हुई कोई भी परेशानी आगे जाकर आपको ना हो। 

बैठने के सही तरीके के बारे में भी जानना जरूरी

आजकल वर्क फ्रॉम होम के चलन की वजह से लोग बैठकर काम करते हैं। डॉ श्रीवास्तव सलाह देते हैं की अधिक देर तक बैठने के लिए बिना सपोर्ट वाली चीज पर न बैठे। कुर्सी या दीवार का सहारा देते हुए सीधा बैठें न कि झुककर। कंधों को हमेशा सीधा रखें ताकि आपकी रीढ़ की हड्डी भी सीधी रहे। लेडीज़ इस बात का भी ध्यान रखें की आपके घर में मौजूद पुरुष अपनी पीछे की जेब में पर्स न रखें अन्यथा कि उनका पॉश्चर बिगाड़ सकता है।

bad posture kara dard ki samsya de sakta hai
खराब पॉश्चर हमें कमर दर्द की समस्या दे सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

कैसे करें गलत पॉश्चर को ठीक

जो लोग गलत पोस्चर की समस्या से जूझ रहे हैं उनके लिए योग में कई तरीके हैं जो कि फायदेमंद साबित हो सकते हैं। ऐसे कई योगासन और एक्सरसाइज है जो कि आपके बैठने और खड़े होने के तरीके को ठीक कर सकते हैं।

1.बाल मुद्रा 

ये आसन बॉडी पॉश्चर को सुधारने में काफी ज्यादा मददगार है। इसे करने से आपकी रीढ़ की हड्डी में खिंचाव बढ़ता है जिससे ग्लूट्स, हैमस्ट्रिंग, गर्दन और कंधे सही पॉश्चर में आते हैं।

2.पश्चिम नमस्कारासन 

रिवर्स प्रार्थना मुद्रा करना भी आपके कंधों को आराम पहुंचा सकता है। यह ऊपरी शरीर को मजबूत करने वाली मुद्रा है। यह आपके शोल्डर के पोस्चर को ठीक करने के साथ पेट को कम करने में भी सहायक है। 

3.भुजंगासन

Bhujangasana ke fayade
भुजंगासन आपकी मुद्रा में सुधार कर सकता है। चित्र: निष्‍ठा बिजलानी

योगा में भुजंगासन करने से एक नहीं बल्कि कई लाभ मिलते हैं। भुजंगासन आपकी पीठ, कमर और कंधों के लिए एक अत्यधिक लाभदायक योग है। इसकी मदद से आप के शरीर में रक्त संचार तेजी से होता है और साथ ही साथ आपकी मांसपेशियां भी खिंचती है ।

4.मार्जर्यासन

मार्जर्यासन करना सभिंके लिए फायदेमंद है। यह रीढ़ की हड्डी को और लचीला बनाता है और साथ ही कंधों और कलाई की क्षमता को भी बढ़ाता है। यही वजह है की इसे पॉश्चर सुधारने के लिए बेहतरीन माना जाता है।

यह भी पढ़े : जल्दी वजन कम करने के चक्कर में कहीं गलती तो नहीं कर रहीं? ये चीजें कर सकती हैं बैकफायर

अक्षांश कुलश्रेष्ठ अक्षांश कुलश्रेष्ठ

सेहत, तंदुरुस्ती और सौंदर्य के लिए कुछ नई जानकारियों की खोज में

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें