हिप्स पर जमी जिद्दी चर्बी को कम कर सकती है स्पॉट रनिंग, जानिए इसे करने का सही तरीका

महिलाओं के लिए कूल्हों की चर्बी (hip fat) कम करना काफी चुनौतीपूर्ण हो सकता है। यहां के जिद्दी फैट को बर्न होने में समय लगता है। पर क्या आप जानती हैं कि स्पॉट रनिंग इसे कम करने में आपकी मदद कर सकती है! बस आपको इसे करने का सही तरीका पता होना चाहिए।
टोंड हिप्स पाने के लिए करें एक्सरसाइज। चित्र:शटरस्टॉक
अदिति तिवारी Updated on: 28 October 2021, 16:37 pm IST
ऐप खोलें

क्या आप कूल्हों की चर्बी और बड़े साइज के कारण अपनी फेवरिट ड्रेस या जीन्स नहीं पहन पाती हैं? यह दुखद हो सकता है। शरीर के यह हिस्सा अगर शेप में न हो तो आपका कॉन्फिडेन्स लेवल कम हो सकता है। इसके लिए हेल्दी लो कैलोरी डाइट (healthy low calorie diet) के साथ एक्सरसाइज करना बहुत जरूरी है। पर कौन सी, जानना चाहती हैं? तो इसका जवाब है स्पॉट रनिंग (Spot Running)। हिप्स पर जमे फैट को कम करने के लिए यहां जानिए स्पॉट रनिंग करने का सही तरीका और इसके फायदे। 

जी हां, स्पॉट रनिंग (spot running) आपके हिप्स (Hips) पर जमी चर्बी को कम करने में आपकी मदद कर सकती है। जानिए क्या है यह फैट बर्निंग एक्सरसाइज (fat burning exercise) और क्या है इसे करने का सही तरीका। 

सबसे पहले जानिए क्या है स्पॉट रनिंग 

स्पॉट रनिंग एक एरोबिक एक्सरसाइज (aerobic exercise) है, जिसके लिए आपको लगातार सक्रिय रहने की जरूरत है। अपनी मांसपेशियों को लगातार हिलाने और सिकोड़ने की वजह से फैट बर्निंग में मदद मिलती है। इससे  मांसपेशियों की ताकत (muscle power) और लचीलेपन में सुधार होता है।

स्पॉट रनिंग एक एरोबिक एक्सरसाइज है। चित्र:शटरस्टॉक

एक ही जगह पर खड़े होकर दौड़ने यानी स्पॉट रनिंग से आपके निचले शरीर को टोंड करने में मदद मिलती है। यह आपकी कोर मसल्स को मजबूत बनाने में भी मददगार है। साथ ही एक ही जगह दौड़ने (स्पॉट running) से आपके घुटनों के दर्द को कम करने में मदद मिल सकती है, साथ ही वे मजबूत और स्वस्थ भी हो सकते हैं।

क्या कहते हैं शोध?

2015 के शोध में पाया गया कि स्पॉट रनिंग से पेट की मांसपेशियों को मजबूत करने और चलने की मुद्रा में सुधार करने में मदद मिलती है। एक ही जगह पर दौड़ने से आपकी हृदय गति बढ़ जाती है, रक्त शर्करा के स्तर में सुधार होता है और कैलोरी तथा वसा जलती है। यह वजन घटाने और कूल्हों पर जमी जिद्दी चर्बी को कम करने की बेहतरीन एक्सरसाइज है। 

यह भी पढ़ें – आपकी सेक्स लाइफ में बाधा डाल सकती है पेट और कमर पर जमा चर्बी, जानिए कैसे

बेहतर परिणाम के लिए यहां है स्पॉट रनिंग करने का सही तरीका 

  • स्पॉट रनिंग की सबसे अच्छी बात यह है कि आप इसे घर या बाहर कहीं भी कर सकती हैं। 
  • आपको बस एक जगह खड़े होना है और उसी जगह पर दौड़ने का अभ्यास करना है।
  • हमेशा धीमी गति से शुरू करें या शुरू करने से पहले कुछ वार्म-अप व्यायाम (warm up exercise) करके अपने शरीर को गर्म करें। 
  • कुछ मिनटों के लिए पैदल (walking) या जॉगिंग (jogging) करके और कुछ स्ट्रेच करके कूल-डाउन होने पर समाप्त करें। 
  • स्पॉट रनिंग के समय, अपनी बाहों को आगे-पीछे करने के लिए अपने ऊपरी शरीर की ताकत का उपयोग करें। अपने पैरों की तीव्रता को बढ़ाएं।
ट्रेडमिल की सहायता से भी आप स्पॉट रनिंग कर सकते हैं। चित्र:शटरस्टॉक

इस तरह करें स्पॉट रनिंग 

  • एक ही समय में अपने दाहिने हाथ और बाएं पैर को ऊपर उठाएं।
  • अपने घुटने को अपने कूल्हों जितना ऊंचा उठाएं।
  • फिर विपरीत पैर पर स्विच करें। 
  • जल्दी से अपने दाहिने पैर को कूल्हे की ऊंचाई तक उठाएं।
  • इसी समय, अपने दाहिने हाथ को पीछे और अपने बाएं हाथ को आगे और ऊपर ले जाएं।
  • इन मूवमेंट को जारी रखें।

आप सेट स्पॉट रनिंग के साथ अन्य कार्डियो एक्सरसाइज को भी जोड़ सकते हैं। 10 मिनट के अंतराल से शुरुआत करें। प्रत्येक सेट के टाइम को 15 से 20 मिनट तक बढ़ाकर धीरे-धीरे अवधि और तीव्रता दोनों में सुधार करें। 

तो लेडीज, अपनी फैट बर्निंग वर्कआउट (fat burning workout) में स्पॉट रनिंग को शामिल करें और कूल्हों की जिद्दी चर्बी से राहत पाएं। 

यह भी पढ़ें: शरीर में जकड़न महसूस कर रही हैं? इन 7 योगासनों की मदद से बढ़ाएं अपना लचीलापन

लेखक के बारे में
अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
Next Story