Weight loss : वेट लॉस के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद हैं अर्ली मॉर्निंग एक्सरसाइज करना, यहां जानिए कारण

Morning Exercise benefits : वेट लॉस के लिए एक्सरसाइज जरूरी है। हालिया शोध बताते हैं कि यदि सुबह एक्सरसाइज किया जाए, तो यह वजन घटाने में अधिक कारगर हो सकता है। जानते हैं क्या है एक्सपर्ट की राय?
regular exercise piles ko door karte hain.
सुबह एक्सरसाइज करने से वेट लॉस में मदद मिल सकती है। चित्र- अडोबी स्टॉक
स्मिता सिंह Updated: 6 Dec 2023, 11:35 am IST
  • 126
मेडिकली रिव्यूड

आम तौर पर हम एक्सरसाइज के लिए सुबह के समय का चुनाव करते हैं। समय के अभाव में हम दिन के किसी और पहर में भी व्यायाम कर लेते हैं। कभी-कभी वेट लॉस की सनक होने पर शाम या रात को इसके लिए भी समय निकाल लेते हैं। शोध बताते हैं कि सुबह का समय व्यायाम करने के लिए सबसे अच्छा समय है। यदि इस समय एक्सरसाइज किया जाये, तो यह वजन घटाने में मदद (early morning exercise for weight loss) कर सकता है। जानते हैं शोध और एक्सपर्ट (research on morning exercise) क्या कहते हैं?

 क्या कहता है शोध (early morning exercise for weight loss)

ओबेसिटी जर्नल में प्रकाशित एक शोध निष्कर्ष के अनुसार, सुबह एक्सरसाइज करने से वेट लॉस में मदद मिल सकती है। सुबह में 7 बजे से 9 बजे के बीच की गई एक्टिविटी सबसे अधिक कारगर होती है। अगर खाने से पहले सुबह एक्सरसाइज करने का चुनाव किया जाता है, तो दिन के अन्य समय में किये गये व्यायाम की तुलना में संभावित रूप से अधिक वजन कम हो सकता है। हांगकांग पॉलिटेक्निक विश्वविद्यालय में दो साल तक लगातार सर्वे किया गया। इसमें कम से कम 20 वर्ष की आयु वाले 5,200 से अधिक वयस्कों के व्यायाम, खाने और जीवनशैली की आदतों पर स्टडी की गई।

घट गया बॉडी मास इंडेक्स (Effect on Body Mass Index)

अध्ययन में शामिल लोगों ने अपनी गतिविधि के स्तर को मापने के लिए एक्सेलेरोमीटर पहना था। डेटा के अनुसार,जिन लोगों ने सुबह मध्यम से जोरदार व्यायाम किया, उनका बॉडी मास इंडेक्स (BMI) उन लोगों की तुलना में कम देखा गया, जिन्होंने दोपहर या शाम को व्यायाम किया था। जिन लोगों ने सुबह मध्यम से तीव्र व्यायाम किया, बाद में उनकी उम्र दिन में बाद में व्यायाम करने वालों की तुलना में भी एक दशक से अधिक पाई गई।

wall exercise se karein body tone
सुबह एक्सरसाइज करने से बॉडी मास इंडेक्स पर प्रभाव पड़ता है। चित्र- अडोबी स्टॉक

मॉलिक्यूलर क्लॉक हो सकते हैं जिम्मेदार (molecular clock for weight loss)

सुबह व्यायाम करने के पक्ष में कई कारण हो सकते हैं। यदि कोई व्यक्ति सुबह सबसे पहले व्यायाम करता है, तो उनके हर दिन ऐसा करने की अधिक संभावना होने लगती है। शरीर का बायोलोजिकल या मॉलिक्यूलर क्लॉक भी एक कारण हो सकता है। इससे सुबह का एक्सरसाइज वजन घटाने में मदद कर सकता है। शरीर की प्रत्येक कोशिका में विशेष रूप से मांसपेशियों में एक मॉलिक्यूलर क्लॉक होती है, जो कुछ शारीरिक कार्यों को प्रेरित करती है। इसमें दिन के अलग-अलग समय में शरीर में फैट के मेटाबोलिज्म के तरीके भी शामिल हैं।

एक्सरसाइज इस घड़ी को रीसेट कर सकता है। इसे अपनी सामान्य लय में वापस ला सकता है। इससे मेटाबोलिक हेल्थ को लाभ मिल सकता है।

फैट जलाने में मिलती है मदद (active metabolism for weight loss)

सुबह व्यायाम करना, विशेष रूप से खाने से पहले, शरीर को वसा जलाने में भी मदद कर सकता है। सोते समय व्यक्ति फ़ास्ट कर रहा होता है। नाश्ता करने से पहले व्यायाम करने से शरीर को कार्बोहाइड्रेट के बजाय वसा जलाने में मदद मिल सकती है। व्यायाम का लाभ वर्कआउट खत्म होने के कई घंटों बाद तक भी रहता है। शरीर पर जोर डालने वाले एक्सरसाइज करने के बाद हमारा मेटाबोलिज्म बेसलाइन पर नहीं लौटता है, बल्कि यह थोड़ा अधिक एक्टिव हो जाता है। इससे दिन के ज्यादातर समय हाई मेटाबोलिक रेट (early morning exercise for weight loss) होता है।

subah exrcise karne se fat loss hota hai.
सुबह व्यायाम करना, विशेष रूप से खाने से पहले, शरीर को वसा जलाने में भी मदद कर सकता है। चित्र- अडोबी स्टॉक

आहार पर ध्यान देना भी है जरूरी (Healthy food for weight loss)

शोधकर्ता बताते हैं कि वेट लॉस के लिए वर्कआउट करने के साथ-साथ स्वस्थ आहार लेना भी जरूरी है। हेल्दी लाइफस्टाइल सबसे जरूरी है, क्योंकि फैट खोने के साथ-साथ हेल्दी मसल्स बनाए रखना भी जरूरी है। यदि सुबह का व्यायाम किसी व्यक्ति के शेड्यूल में फिट नहीं बैठता है, तो बहुत अधिक परेशान नहीं होना चाहिए। नियमित रूप से एक्सरसाइज करने वाले लोगों के लिए सुबह का सबसे अच्छा है। यदि कोई व्यक्ति अनियमित रूप से एक्सरसाइज करता है, तो उसे सुबह एक्सरसाइज (early morning exercise for weight loss) नियमित रूप से करने की आदत डालनी चाहिए।

यह भी पढ़ें :- Toe Exercises : पैर के अंगूठे में स्टिफनेस आ गई है, तो इन 4 एक्सरसाइज से बढ़ाएं फ्लेक्सिबिलिटी

  • 126
लेखक के बारे में

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।...और पढ़ें

अगला लेख