वैलनेस
स्टोर

5 ऐसे पेय जो आपके स्वास्थ्य के लिए हैं सबसे ज्‍यादा हानिकारक, जानिये क्या कहते हैं विशेषज्ञ

Published on:14 February 2021, 13:30pm IST
अगर आप एक हेल्दी डाइट फॉलो कर रहीं हैं तब भी बाज़ार में उपलब्ध ये ड्रिंक्स आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकती हैं।
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 82 Likes
ये पेय पदार्थ भूल कर भी न पिएँ. चित्र : शटरस्टॉक

रेस्टोरेंट में मिलने वाली वो महंगी कॉफ़ी और कॉकटेल्स स्‍वाद में जितनी अच्छी होती है, स्वास्थ्य के लिए उतनी ही हानिकारक साबित हो सकती हैं। सिर्फ यही नहीं रोजाना आप ऐसे कितनी ही ड्रिंक्स का सेवन करती हैं यह सोचकर कि यह आपको पूरे दिन ऊर्जा देंगी। लेकिन इनमें मौजूद हार्मफुल केमिकल्स और प्रीजर्वेटिव आपके स्वास्थ पर बुरा प्रभाव डाल सकते हैं।

क्‍या कहते हैं शोध

शोध में सामने आया है कि ये ड्रिंक्स कई बीमारियों को न्यौता दे सकती हैं। इसलिए, यदि आप बेहतर स्वास्थ्य की दिशा में सक्रिय कदम उठाना चाहती हैं, तो इस लेख को पढ़ें और इन ड्रिंक्स को पीने से पहले दो बार ज़रूर सोचें।

1 डिब्बा बंद जूस या प्रोसेस्ड जूस

हालांकि डिब्बा बंद जूस पर 100% शुद्ध लिखा होता है। जबकि टेट्रा पैक्‍ड जूस के बारे में एक्सपर्ट्स का मानना है कि यह एक लिक्विड जंक फ़ूड से ज्यादा कुछ भी नहीं। “द वेगन इनसाइडर के साथ पोषण विशेषज्ञ, मैलेरी एन का कहना है कि “पैक्ड जूस पीना कई बिमारियों को बुलावा दे सकता है जैसे: ह्रदय रोग और मधुमेह”।

डिब्बा बंद जूस का इस्तेमाल बिलकुल न करें. चित्र : शटरस्टॉक
डिब्बा बंद जूस का इस्तेमाल बिलकुल न करें. चित्र : शटरस्टॉक

एक कप जूस में लगभग 20 से 23 ग्राम चीनी होती है। यानि 95.83% जो अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन (American Heart Association AHA) द्वारा महिलाओं के लिए हानिकारक बताई गयी है।

2. रेगुलर सोडा

क्या आप रोजाना बाज़ार से नींबू सोडा बनवाकर पीने के आदी हैं? अगर हां… तो संभल जाइए!
अमेरिकन जर्नल ऑफ क्लिनिकल न्यूट्रिशन में प्रकाशित 2013 के एक मेटा-विश्लेषण के अनुसार, एक दिन में सिर्फ एक मीठा सोडा का सेवन वजन बढ़ाने में योगदान देता है और वयस्कों और बच्चों दोनों में बीएमआई यानि Body Mass Index को बढ़ा सकता है।

Graciously Nourished के RD केल्सी लॉरेंज़ का कहना है कि, “सोडा आपकी डेंटल हेल्‍थ पर कहर बरपा सकता है। “सोडा में मौजूद एसिड आपके दांतों के इनेमल को तोड़ने का कारण बन सकता है। जिससे आपके दांत संवेदनशील हो सकते हैं। एसिड के अलावा, अतिरिक्त चीनी बैक्टीरिया के लिए घर बनाती है, जिससे कैविटी और खराब सांस का खतरा बढ़ जाता है।”

3. डाइट कोक

आपको लगता होगा कि रेगुलर कोक की जगह डाइट कोक एक अच्छा विल्कप है, लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। बल्कि यह आपके स्वास्थ्य के लिए और भी ज्यादा हानिकारक साबित हो सकता है। क्योंकि डाइट कोक में और भी ज्यादा प्रीजर्वेटिव का इस्तेमाल किया जाता है। जिसकी वजह से यह वजन बढ़ाने और स्वास्थ्य समस्याओं को बढ़ावा दे सकती हैं।

आम कोक के बजाये डाइट कोक और भी ज्यादा हानिकारक होते हैं. चित्र : शटरस्टॉक
आम कोक के बजाये डाइट कोक और भी ज्यादा हानिकारक होते हैं. चित्र : शटरस्टॉक

येल जर्नल ऑफ बायोलॉजी एंड मेडिसिन (Yale Journal of Biology and Medicine) में प्रकाशित शोध की 2010 की समीक्षा में पाया गया है कि डाइट कोक का सेवन न केवल वजन बढ़ाने के साथ जुड़ा था, बल्कि वास्तव में किसी व्यक्ति के दांतों को भी खराब कर सकता है।

ऑनलाइन पोषण कार्यक्रम जी-प्लान (G-Plans) के सह-संस्थापक और प्रमाणित पोषण विशेषज्ञ फिलिप गोगलिया कहते हैं, “कई मामलों में, डाइट कोक का सेवन, cravings को उत्तेजित करता है, और वास्तव में ओवरईटिंग को बढ़ावा दे सकता है।”

4. स्पोर्ट्स ड्रिंक्स

लोग जिम में वर्कआउट करने से पहले या बाद में कई तरह के स्पोर्ट्स ड्रिंक्स पीते हैं, जैसे प्रोटीन शेक्स, आदि। गोगलिया कहते हैं, “उनमें से कई में सोडियम और चीनी की अधिक मात्रा होती हैं और कुछ में कैफीन भी होता है, जो पाचन तंत्र गड़बड़ा देता है। साथ ही वे आपके वजन का कारण बन सकते हैं।”

2018 में जर्नल ओबेसिटी (Obesity) में प्रकाशित एक शोध में 7559 वयस्कों में स्पोर्ट्स ड्रिंक्स का लगातार सेवन करने से लड़कियों में 0.3kg वजन बढ़ा तो वही 0.33kg वज़न लड़कों में देखा गया बजाय उनके जो ऐसी ड्रिंक्स का सेवन नहीं कर रहें है।

एनर्जी ड्रिंक या सोड़ा पीने को आदत ना बनाएं, यह खतरनाक हो सकता है। चित्र- शटर स्टॉक।
एनर्जी ड्रिंक या सोड़ा पीने को आदत ना बनाएं, यह खतरनाक हो सकता है। चित्र- शटर स्टॉक।

5. एनर्जी ड्रिंक्स

बाज़ार में मिलने वाले एनर्जी ड्रिंक्स को आप कम अल्कोहल की मात्रा की वजह से खरीदते हैं, लेकिन यह आपकी ग़लतफहमी हो सकती है| इसमें “कैफीन और चीनी होती है जिसके संयोजन से सेरोटोनिन प्रतिक्रिया में वृद्धि होती है, जो Adrenaline Rush की वजह से बॉडी में ऊर्जा लाने का सिर्फ आभास करवाते हैं।

हा , कैफीन आपकी ऊर्जा के स्तर को थोड़े समय के लिए बढ़ाता है, लेकिन ये संयोजन बिलकुल नशे के समान ही हैं।”

जर्नल डिप्रेशन एंड एंग्‍जायटी ( Journal Depression & Anxiety) में प्रकाशित 2020 के एक शोध लेख के अनुसार, युवा वयस्क पुरुष रोगियों में तनाव, अवसाद और चिंता सहित “मानसिक स्वास्थ्य के लक्षणों के लिए एनर्जी ड्रिंक्स भी ज़िम्मेदार हैं।

यह भी पढ़ें : वेट लॉस के लिए इस बार गोलो डाइट कर रही है ट्रेंड, जानिए क्‍या है ये और कैसे करती है काम

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।