लॉग इन

Kickboxing benefits: तनाव और चिंता को कम कर फिजिकली फिट रखती है किकबॉक्सिंग, और भी हैं फायदे

अगर आप जिम में हजारों रुपए खर्च करती हैं, तो एक बार किकबॉक्सिंग की कुछ क्लासेज लेकर देखें। आप कुछ दिनों में इसे सिख जाएंगी फिर घर पर नियमित रूप से इसका अभ्यास कर सकती हैं।
बॉक्सिंग से आपके दिमाग हो सकते हैं मजबूत। चित्र: शटरस्टॉक
अंजलि कुमारी Updated: 20 May 2024, 12:46 pm IST
ऐप खोलें

आजकल लोग तरह तरह के एक्सरसाइज और फिजिकल एक्टिविटी में पार्टिसिपेट कर रहे हैं। तो आज हमने सोचा क्यों न आपका परिचय किकबॉक्सिंग से करवाया जाए। हो सकता है आपमें से कुछ लोगों ने इसकी प्रैक्टिस की हो पर ज्यादातर लोग इसका अभ्यास नहीं करते। पर यह शरीर के लिए बेहद प्रभावी और फायदेमंद हो सकता है। हालांकि, किकबॉक्सिंग को करते हुए चोट लगने का खतरा अधिक होता है, ऐसे में लोग इन्हे अवॉइड करना उचित समझते हैं।

ऐसा नहीं है की चोट लगने के डर से हम इसमें पार्टिसिपेट नहीं कर सकते। अगर आप जिम में हजारों रुपए खर्च करती हैं, तो एक बार किकबॉक्सिंग की कुछ क्लासेज लेकर देखें। आप कुछ दिनों में इसे सिख जाएंगी फिर घर पर नियमित रूप से इसका अभ्यास कर सकती हैं।

तो क्यों न किकबॉक्सिंग को आजमाया जाए। हेल्थ शॉट्स लेकर आया है, किकबॉक्सिंग के कुछ महत्वपूर्ण फायदों से जुड़ी जानकारी। तो चलिए जानते हैं, आखिर इनके क्या फायदे हैं (Kickboxing benefits)।

यहां जानें किकबॉक्सिंग के फायदे (Kickboxing benefits)

1. फैट बर्न करे

यदि आपने किकबॉक्सिंग क्लास ली है, तो आप समझ सकती हैं कि इसमें शरीर की कितनी ऊर्जा लगती है। इस दौरान आपका शरीर इंटेंस रूप से सक्रीय रहता है, जिससे की अधिक मात्रा में कैलोरी बर्न होती है और आपको वजन कम करने में मदद मिलती है।

वजन कम करने में प्रभावी रूप से कार्य करता है. चित्र : एडॉबीस्टॉक

2. बॉडी में ऊर्जा का संचार बढ़ाये

किकबॉक्सिंग एक पूर्ण शारीरिक व्यायाम है। इसमें शरीर के सभी अंग इन्वॉल्व होते हैं, और बॉडी की मांसपेशियां पूरी तरह से एक्टिवेट हो जाती हैं। परिणामस्वरूप धीरे धीरे शरीर की कार्य क्षमता बढ़ती जाती है और बॉडी में ऊर्जा का स्तर भी बढ़ जाता है।

3. तनाव दूर करे और एकाग्रता में सुधार करे

कोई भी चीज आपको इतनी तेजी से तनावमुक्त करने में मदद नहीं करेगी जितनी तेजी से एक बैग को लात और मुक्का मारने से हो सकता है। यह अभ्यास मार्शल आर्ट का एक रूप है, अर्थात इसमें महारत हासिल करने के लिए बहुत अधिक समर्पण और एकाग्रता की आवश्यकता होती है। किकबॉक्सिंग के दौरान जब आप एकाग्रता के साथ चीजों को समझती हैं, तो इस दौरान आपका फोकस बढ़ जाता है।

यह भी पढ़ें: घर हो या दफ्तर, फ्लैक्सिबिलिटी है सबसे जरूरी, इन 4 एक्सरसाइज से बढ़ाएं शरीर का लचीलापन

4. हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है

इसमें कोई संदेह नहीं है कि किकबॉक्सिंग आपके हार्ट को पंप करती है। आपके शरीर के बाकी हिस्सों की तरह इस एक्टिविटी में हार्ट भी इन्वॉल्व होता है। परिणामस्वरूप, कूदना, लात मारना और मुक्का मारना आपके समग्र सहनशक्ति को बढ़ावा देता है और आपके ह्रदय को स्वस्थ और मजबूत बनाता है।

बॉडी को मजबूत करता है। चित्र: शटरस्टॉक

5. मांसपेशियों और हड्डियों के स्वास्थ्य में सुधार करे

जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है, मसल्स लॉस और हड्डियों के स्वास्थ्य में बदलाव का अनुभव होना शुरू हो जाता है। खासकर यदि आप नियमित व्यायाम नहीं करती हैं, तो उम्र से पहले भी आपको ये समस्याएं प्रभावित कर सकती हैं। लेकिन नियमित रूप से किकबॉक्सिंग का अभ्यास हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है साथ ही मांसपेशियां भी सक्रीय रहती हैं। इस प्रकार उम्र बढ़ने पर भी आप एक्टिव रह सकती हैं।

6. तनाव और चिंता को कम करे

सभी के जीवन में तनाव, चिंता आदि बानी रहती है, ऐसे में किकबॉक्सिंग आपको इन समस्यायों से राहत प्रदान कर सकती है। रिसर्च के अनुसार किकबॉक्सिंग व्यायाम चिंता, अवसाद और क्रोध की भावनाओं को कम कर सकते हैं। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन द्वारा बॉक्सिंग वर्कआउट के प्रभाव की जांच को लेकर एक रिसर्च किया गया, जिसमें वैज्ञानिकों ने पाया कि पार्टिसिपेंट्स ने अपने नकारात्मक भावना, चिंता और अवसाद पर नियंत्रण पाई।

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें

यह भी पढ़ें: घर हो या दफ्तर, फ्लैक्सिबिलिटी है सबसे जरूरी, इन 4 एक्सरसाइज से बढ़ाएं शरीर का लचीलापन

अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख