Skipping rope : रस्सी कूदना है पूरे शरीर का व्यायाम, पर इस दौरान रखें इन 5 बातों का ध्यान

वजन कम करने के लिए वैसे तो बहुत एक्सरसाइज है लेकिन एक जो बहुत आसान है सभी को पसंद है वो है रस्सी कूदना।
skipping ke fayede
रस्सी कूदना एक्स्ट्रा कैलोरी बर्न करने में आपकी मदद करता है। चित्र- अडोबी स्टॉक
संध्या सिंह Published: 18 Jul 2023, 08:00 am IST
  • 147

मानसून चल रहा है ऐसे में रोज बारिश हो रही है। जिसके कारण रनिंग,जॉगिंग, वॉक और जिम के सारे प्लान धुल गए हैं। हालांकि यह सुहावना मौसम अच्छा तो लगता है, पर इस दौरान फिटनेस मेंटेन करना एक चुनौती हो जाता है। मगर चिंता न करें, क्योंकि ऐसे बहुत सारे व्यायाम हैं, जिन्हें आप घर पर ही कर सकती हैं। इनमें सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाले व्यायाम है रस्सी कूदना (Skipping Rope)। बिना जिम जाए फिटनेस मेंटेन करने वाला सबसे यह अच्छा व्यायाम है। रस्सी कूदना न केवल एक्स्ट्रा कैलोरी बर्न करने में आपकी मदद करता है, बल्कि यह हार्ट हेल्थ के लिए भी फायदेमंद है। इसे और इफेक्टिव बनाने में ये 5 चीजें आपके लिए मददगार साबित हो सकती है।

रस्सी कूदने से पूरे शरीर की कसरत होती है, यह आपके ऊपर और नीचे दोनों ही बॉडी को ठीक करने में मदद करता है। जिन लोगों का जीवन सक्रिय नही है और एक ही कीम में व्यस्त रहते है उनके लिए भी ये कसरत काफी अच्छी है क्योंकि इसमें कम जगह और रस्सी की आवश्यकता होती है। इसे आप आराम से घर पर एक या दो सत्र में निपटा सकते है। रस्सी कूदने के फायदों के बारे में जानकारी डॉ. ज़ेबा रहमान ने अपने इंस्टाग्राम फिजियोजेनिक्स में दी है। डॉ. ज़ेबा फीजियो थेरेपी की डॉक्टर है।

skipping aap ghar pr aram se kr sakte hai
इसे आप आराम से घर पर एक या दो सत्र में निपटा सकते है।

जानिए आपके लिए क्यों फायदेमंद है रस्सी कूदना (Skipping rope benefits)

1 कार्डियोवैस्कुलर फिटनेस (cardiovascular fitness)

डॉ. ज़ेबा के अनुसार स्किपिंग एक बेहतरीन कार्डियोवैस्कुलर व्यायाम है जो आपके दिल को पंप करता है और आपकी हृदय गति को बढ़ाता है, जिससे कार्डियोवैस्कुलर स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद मिलती है। नियमित रूप से स्किपिंग करने से समय के साथ आपकी स्टैमीना में वृद्धि हो सकती है।

2 पूरे शरीर की कसरत (full body exercise)

स्किपिंग में आपके पैर, कोर, हाथ और कंधे सहित कई मांसपेशी समूह शामिल होते हैं। यह एक अच्छा फूल बॉडी वर्कआउट है जो विभिन्न मांसपेशी समूहों को टोन और मजबूत करने में मदद कर सकती है।

3 वजन को संतुलित करने में मदद करता है (weight management)

रस्सी कूदने से बड़ी संख्या में कैलोरी बर्न हो सकती है, जिससे संतुलित आहार के साथ रस्सी कूदने से यह वजन घटाने और वजन प्रबंधन के लिए एक प्रभावी उपकरण बन जाता है।

4 मानसिक स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद (mental health)

व्यायाम के किसी भी रूप की तरह, स्किपिंग से एंडोर्फिन, “फील-गुड” हार्मोन जारी हो सकता है, जो तनाव को कम कर सकता है और मूड में सुधार कर सकता है।

rassi koodne ke nuksaan
रस्सी कूदते समय इन बातों का रखें खास ख्याल। चित्र : शटरस्टॉक

रस्सी कूदते समय आपको किन बातों का ध्यान रखना चाहिए (skipping rope tips for beginners)

1 नंगे पैर न कूदें

अमूमन लोग रस्सी कूदते समय इस सबसे जरूरी बिंदु को इग्नोर कर देते हैं। उन्हें लगता है कि यह होम वर्कआउट है, तो इसे नंगे पैर किया जा सकता है। जबिक नंग पैर रस्सी कूदना आपको न केवल जल्दी थका सकता है, बल्कि पैर में चोट लगने का जोखिम भी बढ़ा देता है। अपने जोड़ों पर प्रभाव को कम करने और कूदने के दौरान स्टेबल रहने के लिए अच्छी कुशनिंग वाले और अच्छी तरह से फिट एथलेटिक जूते पहनें।

2 सही सहत का चुनाव करें

रस्सी कूदने के लिए समतल और बिना फिसलन वाली सतह चुनें। कंक्रीट या कठोर सतहों से बचें। ये आपके जोड़ों पर कठोर हो सकती हैं। जिससे घुटनों में चोट लगने का जोखिम बढ़ जाता है।यदि संभव हो तो रबर के फर्श, घास या लकड़ी के फर्श जैसी सतहों का चयन करें।

3 वार्म-अप है जरूरी

रस्सी कूदने की दिनचर्या शुरू करने से पहले हमेशा वार्मअप करें। अपनी मांसपेशियों में रक्त के प्रवाह को बढ़ाने और उन्हें कसरत के लिए तैयार करने के लिए जॉगिंग या जंपिंग जैक जैसे हल्के एरोबिक व्यायाम करें।

4 धीरे-धीरे शुरू करें

यदि आप स्किपिंग में नए हैं, तो धीरे-धीरे शुरू करें और धीरे-धीरे अपने सत्र की तीव्रता और समय बढ़ाएं। अपने शरीर को व्यायाम के अनुकूल होने का समय दें। शुरूआत में आप 25 स्टेप्स के दाे राउंड कर सकती हैं। अपनी क्षमता के अनुसार इन्हें धीरे-धीरे बढ़ाएं। प्रोफेशनल्स को देखकर उन्हें काॅपी करने से पहले हमेशा ध्यान रखें कि यह क्षमता उन्होंने एक लंबे अभ्यास के बाद हासिल की है।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें
rassi koodne ke fayde
रस्सी कूदना आपकी हार्ट हेल्थ के लिए फायदेमंद है। चित्र : शटरस्टॉक

5 बहुत ऊंची छलांग न लगाएं

अपने घुटनों को थोड़ा मोड़कर रखें, अपने पैरों की उंगलियों पर कूदें और रस्सी को मोड़ने के लिए अपनी कलाइयों का उपयोग करें। बहुत ऊंची छलांग लगाने से बचें, क्योंकि इससे आपके जोड़ों पर प्रभाव बढ़ सकता है।

ध्यान रखें

यदि आपको स्किपिंग के दौरान दर्द, चक्कर आना या असुविधा महसूस होती है, तो तुरंत रुकें। आवश्यकतानुसार ब्रेक लें और अपने आप को बहुत ज्यादा कष्ट न दें, जितना हो सकता है उतना ही करें।

  • 147
लेखक के बारे में

दिल्ली यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट संध्या सिंह महिलाओं की सेहत, फिटनेस, ब्यूटी और जीवनशैली मुद्दों की अध्येता हैं। विभिन्न विशेषज्ञों और शोध संस्थानों से संपर्क कर वे  शोधपूर्ण-तथ्यात्मक सामग्री पाठकों के लिए मुहैया करवा रहीं हैं। संध्या बॉडी पॉजिटिविटी और महिला अधिकारों की समर्थक हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख