वैलनेस
स्टोर

यहां हैं वे 5 एक्‍सरसाइज जो आपको स्लिम और आपकी मसल्‍स को टाइट बना सकती हैं

Updated on: 10 December 2020, 13:40pm IST
क्या आप अपनी मसल्स को प्राकृतिक तरीके से टाइट करना चाहती हैं? ये 5 तरह के व्‍यायाम कम समय में आपके लक्ष्य को प्राप्त करने में आपकी मदद करेंगे।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 73 Likes
मांसपेशियों की मरम्‍मत के लिए ग्‍लूकोज के स्‍तर को नियंत्रण में रखें। चित्र: शटरस्‍टॉक

अगर आपको लगता है कि केवल कार्डियो करने से आपके मसल्स टाइट और टोंड हो जाएंगे, तो आप गलत हैं। अगर आप अच्छा शरीर चाहती हैं, तो आप मसल को टाइट करने वाली कसरतों को नहीं छोड़ सकती, क्योंकि ये आपके मसल्स के लिए बहुत जरूरी हैं।

इससे बहुत फर्क नहीं पड़ता कि आपका फिटनेस गोल क्या है- वजन कम करना, वजन बढ़ाना या मसल्स को मजबूत करना। बिना मसल्स को टोन और टाइट किए आप इनमें से कुछ भी हासिल नहीं कर सकती।

ये मसल्स को टाइट करने वाली कसरत वजन कम करने में भी मदद करती हैं, क्योंकि मसल्स के टाइट होने से शरीर में फैट की मात्रा भी कम होती है। ये आपके मसल्स को मजबूत बनाता है, जिससे चोटिल होने का खतरा भी कम हो जाता है।

तो अब आप जानते हैं कि अपने मसल्स को टाइट करना कितना फायदेमंद है। अब बिना और समय नष्‍ट किए, आइये 5 ऐसी एक्‍सरसाइज सीखें, जो आपकी मसल्स टाइट करने में आपकी मदद करेगें।

1. पुशअप्स

आइये सबसे ऊपर से शुरू करें। अगर सीने में ढीलापन, लटकता कंधा या पीठ आपकी परेशानी हैं तो पुशअप आपकी मदद करेगा।

पुशअप्स से आपके सीने की मांशपेशियां खुलती हैं और आपके शरीर को ऊपर उठाती हैं। ये कसरत आपके पोस्चर को भी सही करती है और आपको ज्यादा कॉंफिडेंट बनाती है। ये आपकी अपर बैक को भी बेहतर शेप देती है।

2. डेडलिफ्ट

हम इसे ‘चमत्कारी’ लिफ्ट बुलाना पसंद करेंगे। वैसे तो ये एक पीठ की कसरत है मगर यदि इसे सही तरीके से किया जाए तो यह आपके पूरे शरीर पर काम करता है। जब आप एक डिप करते हैं तो आपका पूरा शरीर खिंच जाता है और जब आप लिफ्ट करते हैं, तो आगे की तरफ वैसा ही होता है।

इसलिए अगर आप रोज सिर्फ डेडलिफ्ट भी करते हैं, तो भी आप अपनी मांसपेशियों को मजबूत रख सकते हैं।

3. कोर वैक्यूम

हम सब फ्लैट पेट के सपने देखते हैं मगर क्रंचेजस पेट को फ्लैट करने के लिए काफी नहीं है। उसके लिए आपको कोर वैक्यूम कसरतों की मदद लेनी पड़ेगी। इन कसरतों में आपको अपने पेट को अंदर की और खींचना होता है और उसी अवस्था में कुछ सेकंड रहना होता है। इससे आपके एब्डोमिनल मसल्स में सबसे ज़्यादा सिकुड़न होती है। आप कैट काऊ पोज़ या कपालभाति भी ट्राई कर सकती हैं।

कैट/काऊ पोज चित्र : shilpashetty

स्टमक वैक्यूम आपकी भीतर की मांशपेशियों पर काम करता है जिसे हम ट्रांसवर्स मसल्स कहते हैं।

4. सक्वाट एंड होल्ड

नहीं हमारा मतलब सक्वाट होल्ड नहीं है, हमारा मतलब है सक्वाट करें, कुछ देर रुकें, उठें और फिर दोहराएं। ये एक और जैकपौट है। जैसा हम सब को पता है, सक्वाट हमारे नीचे के शरीर को टोन करने के लिए सबसे अच्छी कसरत है। चाहे आप अपने ग्लूट को टोन करना चाहें, काफ को टोन करना चाहें, या फिर हेमस्ट्रिंग्स को। मगर आप अगर इसको होल्ड भी करें तो असर दुगना हो जाएगा।

स्कवॉट्स सिर्फ बट की एक्सरसाइज है,तो हम आपको बता दें कि इसके और भी फायदे हैं। चित्र- शटरस्टॉक।

5. ट्राइसेप्स डिप्स

अब बस आपका हाथ रह गया है। वैसे तो पुशअप्स थोड़ा काम करेंगे ही मगर हमें एक ऐसी कसरत चाहिए जो सिर्फ आपके हाथ पर काम करे। ट्राइसेप्स डिप्स वही कसरत है। इसके नाम पर न जाएं क्योंकि ये ट्राइसेप पर ज्यादा काम करता है मगर वैसे पूरे हाथ पर ही काम करता है।

इन कसरतों को 1 महीने तक रोजाना करें और असर देखें।

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।