Workplace Weight Gain : इन 4 कारणों से ऑफिस जाने वाले लोगों का ज्यादा बढ़ जाता है वजन, जानिए इससे कैसे बचना है

हमें में से ज्यादातर लोग अपने दिन का एक लंबा समय ऑफिस में बिताते हैं, ऐसे में यदि आप वेट लॉस रूटीन एस्टब्लिश करने का सोच रही हैं, तो सबसे पहले वर्कप्लेस फैक्टर्स से इसकी शुरुआत करनी चाहिए।
सभी चित्र देखे office exercise se cortisol level ko kum karein
माइक्रो ब्रेक तनाव को भी कम कर सकते हैं। यहां तक कि वेट लॉस में भी आपकी मदद कर सकते हैं। चित्र : अडोबी स्टॉक
अंजलि कुमारी Published: 31 May 2024, 12:00 pm IST
  • 124

दिन-प्रतिदिन वेट गेन की समस्या आम होती जा रही है। यंग जेनरेशन भी असामान्य रूप से वेट गेन का सामना कर रही है। लोगों का एक लंबा समय यह पता करने में निकल जाता है, कि उनके वेट गेन के पीछे क्या कारण जिम्मेदार हैं! यदि आप भी इन्ही में से एक हैं, तो आपको मालूम होना चाहिए की वर्कप्लेस के कई ऐसे फैक्टर्स हैं, जो आपके बढ़ते वजन के लिए जिम्मेदार हो सकते हैं। हम सामान्य वेट गेन पर तो अक्सर बातें किया करते हैं, परंतु वर्कप्लेस वेट गेन पर शायद ही कभी बात करते हैं। हमें में से ज्यादातर लोग अपने दिन का एक लंबा समय ऑफिस में बिताते हैं, ऐसे में हमें सबसे पहले वर्कप्लेस फैक्टर्स से वेट लॉस की शुरुआत करनी चाहिए।

हेल्थ शॉट्स ने वर्कप्लेस वेट गेन के कारण जानने के लिए फिटनेस और लाइफस्टाइल कोच यश अग्रवाल से बात की। तो चलिए जानते हैं इसके लिए कौन से फैक्टर्स जिम्मेदार होते हैं, साथ ही जानेंगे इस स्थिति में हमें क्या करना चाहिए (how to avoid workplace weight gain)।

पहले जानें वर्कप्लेस वेट गेन के लिए कौन से फैक्टर्स होते हैं जिम्मेदार (workplace weight gain)

1. काम के अनियमित घंटे

सुबह जल्दी और शाम को देर तक काम करने के कारण अक्सर आपके खाने का समय अनियमित हो जाता है। जब आपके पास अपने लिए पर्याप्त समय नहीं होता, तो आप अपने नियमित शारीरिक गतिविधियों को स्किप करना शुरू कर देती है, और अधिक थकान होने के कारण काम खत्म होते ही आपको अपने बेड नजर आता है। इससे बॉडी हॉर्मोन्स असंतुलित हो सकते हैं, जिससे आपको अधिक फ्रीक्वेंटली भूख लगती है। ऐसे में आप अधिक कैलरी इंटेक कर सकती हैं, जिससे की वेट गेन का खतरा बढ़ जाता है।

zyaada bhookh ke kaaran
जब हम तनावग्रस्त होते हैं, तो हम में से बहुत से लोग भोजन की ओर रुख करते हैं। चित्र : एडॉबीस्टॉक

2. स्ट्रेस ईटिंग

ऑफिस में तनाव का अनुभव होना आम है, परंतु कुछ लोग इसे मैनेज करना जानते हैं, वहीं कुछ लोगों पर ये अधिक हावी हो जाती है। आपकी वर्तमान जीवनशैली आपको तनावपूर्ण स्थितियों के प्रति बेहद संवेदनशील बनाती है। इसके अतिरिक्त आप स्ट्रेस ईटिंग कर सकती हैं। आपके शरीर में कोर्टिसोल का उत्पादन बढ़ने से आपको अनावश्यक समय पर भूख को लग सकती है। वहीं इस दौरान उनहेल्दी फूड्स की क्रेविंग्स भी बढ़ जाती है, जिसे मैनेज करने के लिए हम अनहेल्दी स्नैक्स लेते हैं। यदि आप ऑफिस स्ट्रेस को मैनेज नहीं कर पति हैं, तो आपको वेट गेन हो सकता है।

3. कम पानी पीना

वर्कप्लेस पर वजन बढ़ने का एक सबसे बड़ा कारण है पानी की कमी। अक्सर काम की व्यस्तता की वजह से आप काम के घंटों के दौरान पानी पीना भूल जाती हैं। वहीं लोग ऑफिस में अधिक फ्रीक्वेंटली कॉफ़ी और चाय लेते हैं। कम पानी पीना और कैफीन युक्त ड्रिंक्स की अधिकता नींद का कारण बन सकती है, साथ ही यह आपके वजन और ऊर्जा के स्तर को भी नकारात्मक रूप में प्रभावित करती है।

यह भी पढ़ें: जब तक कम नहीं होती गर्मी हर रोज़ नींबू पानी से करें दिन की शुरुआत, हम बता रहे हैं इसके 6 फायदे

4. अनहेल्दी स्नैक्स का कंजम्पशन

चाहे आप घर पर हों या ऑफिस में कुछ भी खाने से पहले एक बार सोचना जरुरी है, पर अक्सर हम ऑफिस में बिना सोचे समझें अनहेल्दी स्नैक्स खाते रहते हैं। दोपहर के लंच में आप स्वस्थ और घर का बना खाना खा सकती हैं, लेकिन शाम 4 बजे तक आप शारीरिक और मानसिक रूप से थक चुकी होती हैं। इस थकावट के कारण आप सैंडविच और स्ट्रीट फूड जैसे खाद्य पदार्थों की ओर आकर्षित होती हैं। ऐसे में घर का बना नाश्ता और फल ले जाना सबसे अच्छा विकल्प है।

yoga majedar hona chahiye.
तितली मुद्रा लोकप्रिय आसनों में से एक है, जिससे शरीर को आराम मिलता है। चित्र- अडोबी स्टॉक

जानें कैसे कंट्रोल कर सकते हैं वर्कप्लेस वेट गेन (how to avoid workplace weight gain)

काम के दौरान हर 2 घंटे पर एक छोटा ब्रेक लें, और इस दौरान अपने हाथ, पैर और बॉडी को स्ट्रेच करें। वहीं सिटींग डेस्क के साथ ही कुछ समय स्टैंडिंग डेस्क पर भी बिताएं। जब आप खड़ी होती हैं, तो बॉडी मूव करता रहता है और ऐसे में मांसपेशियां एक्टिव होती है।

यदि आप ऑफिस स्ट्रेस से परेशान हैं, तो ऐसे में रिलैक्सिंग टेक्निक्स पर ध्यान दें। योग, मैडिटेशन, डीप ब्रीदिंग जैसी गतिविधियों में भाग लें। इसके अलावा स्ट्रेस में खाने की क्रेविंग्स होती है, तो अपने पास हेल्दी स्नैक्स विकल्प रखें, जैसे की नट्स, फ्रूट्स, आदि। इसके साथ ही तनाव का अनुभव होने पर कुछ देर ऑफिस के बहार वॉक कर आएं।

ऑफिस एक्सरसाइजेज वेट मैनेजमेंट में आपकी मदद कर सकते हैं। डेस्क पर बैठे बैठे अपने बॉडी को स्ट्रेच करें, इसके अलावा लिफ्ट की जगह सीढ़ियों का प्रयोग करने की कोशिश करें।

BMI

वजन बढ़ने से होने वाली समस्याओं से सतर्क रहने के लिए

बीएमआई चेक करें

अगर आप ऑफिस में मशीन की बनी शुगर युक्त कॉफ़ी, चाय और अन्य ड्रिंक लेती हैं, तो इसे पूरी तरह से अवॉयड करें। दिन की 2 से 3 कप कॉफ़ी भी आपके वेट गेन का कारण बन सकती है।

यह भी पढ़ें: सुबह या शाम : अपनी जरूरतों के हिसाब से जानिए आपको कब करना चाहिए व्यायाम

  • 124
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख