वैलनेस
स्टोर

आपके लिए जोखिम भरा हो सकता है सनस्क्रीन को नज़रंदाज़ करना! यहां हैं इसके 3 कारण

Published on:14 September 2021, 15:30pm IST
सनस्क्रीन कई तरह के लाभ प्रदान करती है और इसका नियमित उपयोग त्वचा कैंसर को रोकने में मदद कर सकता है। तो, लेडीज, सनस्क्रीन लगाना कभी न भूलें!
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 95 Likes
sunscreen ke fayde
सनस्क्रीन लगाना कभी न भूलें! चित्र : शटरस्टॉक

बाहर समय बिताना अपने मन को तरोताज़ा करने में मदद करता है और कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है। सूरज की रोशनी आपके संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। हालांकि, ज़्यादा मात्रा में सूर्य का संपर्क हानिकारक भी हो सकता है। सूर्य से निकालने वाली यूवी रेज़ त्वचा को नुकसान पहुंचा सकती है।

इस समस्या से निपटने के लिए हम अक्सर सनस्क्रीन पर निर्भर रहते हैं। आपकी त्वचा की सुरक्षा के लिए सनस्क्रीन महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि उनमें ऐसे फिल्टर होते हैं जो यूवी किरणों को प्रतिबिंबित या बिखेरते हैं।

समझिए धूप और सनस्क्रीन को

प्रत्येक सनस्क्रीन का अपना ‘एसपीएफ़’ (सन प्रोटेक्शन फ़ैक्टर) होता है, यानी एक तरह की रेटिंग, जो यह निर्धारित करने में मदद करती है कि व्यक्ति कितने समय तक धूप में रह सकता है, बिना सनबर्न के। समझने का एक आसान तरीका यह है कि अगर सनस्क्रीन के बिना सनबर्न का अनुभव करने में 20 मिनट लगते हैं, तो एसपीएफ़ 10 वाला सनस्क्रीन, आपकी त्वचा के जलने से पहले आपको 10 गुना अधिक (3 घंटे 30 मिनट) बाहर रहने की अनुमति देगा।

sunscreen ke fayde
सनस्क्रीन कई तरह के लाभ प्रदान करती है और इसका नियमित उपयोग त्वचा कैंसर को रोकने में मदद कर सकता है। चित्र-शटरस्‍टॉक

यहां तीन कारण बताए गए हैं कि आपको क्यों कभी भी सनस्क्रीन को इग्नोर नहीं करना चाहिए

1 कैंसर से सुरक्षा प्रदान करे (Cancer protection)

हार्वर्ड मेडिकल स्कूल द्वारा प्रकाशित शोध के अनुसार, हमारी त्वचा तक पहुंचने वाले यूवी रेडिएशन का लगभग 95 प्रतिशत यूवीए प्रकाश है, जो फोटोएजिंग, झुर्रियों और धब्बे जैसे प्रभावों के लिए जिम्मेदार है। यूवीबी किरणें सनबर्न का प्राथमिक कारण हैं। अध्ययन में बताया गया है कि कैसे यूवीए और यूवीबी दोनों त्वचा कैंसर का कारण बन सकते हैं। इसलिए, उपयुक्त एसपीएफ़ स्तरों के साथ सनस्क्रीन लगाने से त्वचा के कैंसर को रोकने में मदद मिल सकती है!

2 यूवी किरणों से सुरक्षा (UV rays protection)

घटती ओजोन परत और यूवी किरणों के हानिकारक प्रभाव, त्वचा को भारी नुकसान पहुंचा सकते हैं। ऐसे में सनस्क्रीन लगाना फायदेमंद है, क्योंकि आप धूप में बाहर निकलने में सक्षम होंगी, और फिर भी त्वचा में प्रवेश करने वाली यूवी किरणों और त्वचा के विभिन्न विकारों से सुरक्षित रहेंगी। यूवी किरणें कोलेजन डैमेज, एजिंग, सनस्पॉट और त्वचा समस्याओं का कारण बनती है।

sunscreen ke fayde
सनस्क्रीन का इस्तेमाल स्किन को सुरक्षित रखता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

3 त्वचा के स्वास्थ्य को बढ़ाता है (Boosts skin’s health)

सनबर्न से त्वचा का काला पड़ना, एजिंग और त्वचा में रैशेज हो सकते हैं। यह सूजन, खुजली और लालिमा का कारण भी बन सकता है। सनस्क्रीन का उपयोग त्वचा संबंधी इन समस्याओं को रोकने में मदद कर सकता है, और मुंहासों जैसे ब्रेकआउट से भी सुरक्षा प्रदान कर सकता है। कोलेजन, इलास्टिन और केराटिन जैसे त्वचा के स्वास्थ्य को बढ़ावा देने वाले आवश्यक त्वचा प्रोटीन की रक्षा के लिए सनस्क्रीन महत्वपूर्ण है।

तो लेडीज, इन बातों को ध्यान में रखें, और नियमित रूप से सनस्क्रीन लगाकर अपने सन प्रोटेक्टशन को बढ़ाएं!

यह भी पढ़ें : हेयर फॉल ने परेशान कर दिया है, तो इन 5 जरूरी फूड्स को करें अपनी डाइट में शामिल

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।