बालों का सफेद होना रुक सकता है, बशर्ते कि आप इनके बारे में सोचना छोड़ दें

Updated on: 13 May 2022, 18:59 pm IST

तनाव और बालों का झड़ना एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं। क्या आप जानती हैं कि आपके बाल तनाव के कारण भी सफेद हो सकते हैं? यदि आपके बाल तेजी से सफेद हो रहे हैं, तो चिंतित न हों, क्योंकि इसे रोकने के समाधान हम बताएंगे।

Samay se pehle baalo ka safed hona aapko pareshan kar sakta hai
समय से पहले बालों का सफेद होना आपको परेशान कर सकता है। चित्र:शटरस्टॉक

एक जर्मन परीकथा के अनुसार, रपॅन्जल परी के बाल लंबे, काले और घने थे। सुंदर स्वस्थ बाल ही उसे खास बनाते थे। हम सभी चाहते हैं कि हमारे बाल रपॅन्जल की तरह सुंदर हों। हमें यह जरूर याद रखना चाहिए कि हेल्दी हेयर हेल्दी लाइफ स्टाइल के कारण होते हैं। अपने बिजी शेड्यूल के कारण हम अपनी सेहत और दिमाग पर न के बराबर ध्यान दे पाते हैं। जिसके चलते तनाव बढ़ता है और हमारे बालों में भी तरह-तरह की समस्याएं दिखने लग जाती हैं। आइए जानते हैं कि कैसे तनाव आपके बालों के उम्र से पहले सफेद (how stress causes grey hair) होने के लिए जिम्मेदार है।

बालों की उचित देखभाल के बारे में जानने के लिए हेल्थ शॉट्स ने द एस्थेटिक क्लीनिक की कंसल्टेंट डर्मेटोलॉजिस्ट, कॉस्मेटिक डर्मेटोलॉजिस्ट और डर्मेटो सर्जन डॉ. रिंकी कपूर से बातचीत की।

डॉ कपूर ने बताया, “सफेद बाल तनाव के कारण भी हो सकते हैं। मॉडर्न लाइफस्टाइल के कारण हमें तनाव होता है और तनाव के कारण बाल सफेद हो जाते हैं। शोध से पता चला है कि सायकोलॉजिकल स्ट्रेस से बाल सफेद हो सकते हैं। इसके कारण बालों की सफेदी में तेजी भी आ सकती है।’

तनाव कैसे प्रभावित करता है बालों को?

हमारा शरीर प्राकृतिक रूप से किसी तरह की लड़ाई पर प्रतिक्रिया देता है। तनाव की प्रतिक्रिया हमें किसी तरह के खतरे से बचने में मदद करती है। मॉडर्न वर्ल्ड में तनाव के बहुत से कारण हो सकते हैं। एक गलत ईमेल या किसी सोशल मीडिया पोस्ट के कारण भी आप तनाव में आ सकती हैं। तनाव के कारण शरीर की कोशिकाओं की उम्र तेजी से बढ़ने लगती है, जिसका असर बालों के कलर में बदलाव के रूप में देखा जा सकता है।

Tanav ke karan ho sakte hain asmay safed
मॉडर्न लाइफस्टाइल से उपजे तनाव सेे होते हैं बाल सफेद चित्र : शटरस्टॉक

कोलंबिया यूनिवर्सिटी वैगेलॉस कॉलेज ऑफ फिजिशियन एंड सर्जन में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि तनाव बालों की सफेदी को बढ़ा सकता है। यहां तक कि तनाव के कारण बाल झड़ने भी लगते हैं।

डॉ. कपूर मानती हैं कि मिलेनोसाइट पिगमेंट के कारण बालों का रंग काला होता है। यह हेयर फॉलिकल्स के स्टेम सेल से निकलता है। जब हमारा शरीर तनाव में रहता है, तो इससे शरीर में नॉरपिनेफ्रिन निकलने लगता है, जिससे मिलेनोसाइट्स का सामान्य कामकाज बाधित हो जाता है और बाल सफेद होने लगते हैं।

अच्छी खबर

कुछ हालिया अध्ययनों ने संकेत दिया है कि एक बार जब आप तनाव के स्तर को कम कर लेते हैं, तो बालों की सफेदी खत्म हो सकती है। आपके बाल दोबारा काले हो सकते हैं। हालांकि यह रिसर्च अभी अपने शुरुआती दौर में ही है।

तो जानिए आप खुद को कैसे डी-स्ट्रेस कर सकती हैं?

1. तनाव के कारणों पर गौर करें और इसमें सुधार लाने की कोशिश करें। यह आपको वजहों से अवगत कराएगा और धीरे-धीरे आप परिस्थितियों से निपटना सीख जाएंगी।

2. मंत्र जाप इसमें मदद कर सकता है। यह आप में ऊर्जा का संचार करेगा और आपको तनाव से मुक्त करने में मदद करेगा।

3. ब्रीदिंग एक्सरसाइज करने का प्रयास करें। ये ध्यान केंद्रित करने और रिलैक्स करने में मदद करेंगे।

4. कुछ न करें, बस विभिन्न प्रकार की मेडिटेशन टेक्निक का अभ्यास करें।

5. एक अवस्था में रहने का प्रयास करें। योग या व्यायाम निश्चित तौर पर तनाव के स्तर को कम करते हैं।

6. जैसा आप खाते हैं, वैसे ही आपके विचार भी होते हैं! इसलिए अच्छी तरह खाएं और हेल्दी डाइट लें।

7. खुद को तनावमुक्त करने के लिए पुदीने की चाय का सेवन करें। पेपरमिंट टी डिप्रेशन, एंग्जाइटी और स्ट्रेस से लड़ने में मदद करता है।

stress apke blon ko nuksan pahunchata hai
तनाव आपके बालों को नुकसान पहुंचाता है। चित्र: शटरस्टॉक

सफेद बालों से निपटने के कुछ और भी तरीके हैं

ध्यान देने वाली महत्वपूर्ण बात यह है कि हमारा हेयर कलर बालों के निचले हिस्से फॉलिकल से बदलता है न कि बालों के बीच से। इसलिए बालों में सफेदी आना एक धीमी प्रक्रिया है। डॉ. कपूर ने सफेद बालों से बचने के कई सरल तरीके बताए:

  1. तनाव पर नियंत्रण
  2. ज्यादा न खाएं
  3. रोज एक्सरसाइज करें, भले ही वह थोड़े समय के लिए ही क्यों न हो
  4. ऐसे काम करें जो आपको सुकून और प्यार का एहसास दिलाएं
  5. अपने बालों को यूवी किरणों से बचाने के लिए स्कार्फ या टोपी पहनें
  6. धूम्रपान और कैफीनयुक्त पेय से बचें
  7. अपने आहार में पर्याप्त विटामिन शामिल करें
  8. बालों की अच्छी देखभाल के लिए अपने डर्मेटोलॉजिस्ट या हेयर एक्सपर्ट से सलाह लें।

यह भी पढ़ें – बालों की ये 4 समस्याएं बताती हैं आपके आंतरिक स्वास्थ्य के बारे में बहुत कुछ, यहां जानिए कैसे

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें