थायरॉइड का भी संकेत हो सकता है पलकों का बार-बार झड़ना, जानिए आप कैसे इसे रोक सकती हैं

Updated on: 20 January 2022, 16:24 pm IST

बचपन में अपने चेहरे पर आंखों की पलक पाना और उससे मनचाही विश मांगना कितना मजेदार था! लेकिन अगर अब यही गिरती पलकें आपको परेशान कर रहीं हैं, तो इन बातों का विशेष ध्यान रखें।

Eyelash loss se bachne ke upaay
जानिए झड़ते पलकों से बचने के उपाय। चित्र:शटरस्टॉक

आंखों के ऊपर पलकों का होना उन्हे गंदगी और अन्य परेशानी से बचाता है। लेकिन इसके साथ ही लंबी और घनी पलकें आपकी आंखों को अधिक खूबसूरत बनाती हैं। पर यह स्थिति इतनी आम नहीं है। बालों के झड़ने पर आप जितनी परेशान होती हैं, उतना ही परेशानी भरा है आंखों की पलकों यानी आईलैश (Eyelash loss) का झड़ना। पर क्या आप इस समस्या को दूर करने के उपाय खोजती हैं? या फॉल्स आईलैश के इस्तेमाल को ही इसका समाधान समझ रहीं हैं? नहीं न, आइए जानते हैं क्यों झड़ने लगती हैं आंखों की पलकें और इनका झड़ना रोक कर इन्हें कैसे बढ़ाया (Eyelash growth) जा सकता है।

झड़ते आईलैश को अक्सर नजरंदाज किया जाता है। लेकिन अगर ये अधिक मात्रा में झड़ रहें हैं, तो आपके पलकों का वॉल्यूम कम हो सकता है। यह आपको मस्कारा, आईलैश कर्ल और नकली आईलैश लगाने पर मजबूर कर देता है। अगर आप प्राकृतिक रूप से घनी और सुंदर पलकें पाना चाहती हैं, तो कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखना जरूरी है।

क्यों झड़ती हैं आपकी आईलैश?

यदि आप काजल लगाते हैं और आपकी पलकें अत्यधिक झड़ती हैं, तो आपको उस प्रोडक्ट से एलर्जी हो सकती है। या हो सकता है कि आप रोजाना काजल का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन पलकों की अत्यधिक की हानि भी एक अंतर्निहित चिकित्सा स्थिति का संकेत हो सकता है।

Ghani palke aankho ko sundar banati hai
घनी पलक आंखों को सुंदर बनाती हैं। चित्र:शटरस्टॉक

इन अंतर्निहित स्थिति में शामिल हो सकते हैं:

  1. स्क्लेरोडर्मा (scleroderma)
  2. हाइपरथायरायडिज्म (hyperthyroidism)
  3. हाइपोथायरायडिज्म (hypothyroidism)

पलकों का लगातार झड़ना ब्लेफेराइटिस (blepharitis) यानी पलकों की सूजन के कारण भी हो सकता है। ब्लेफेराइटिस एलर्जी, संक्रमण या आघात के कारण होता है।

यदि आप कीमोथेरेपी से गुजर रहे हैं, तो आपके आईलैश अस्थाई रूप से झड़ सकते हैं।

अगर इन झड़ती पलकों का कोई चिकित्सीय कारण है, तो आपका डॉक्टर अंतर्निहित कारण का इलाज करने में आपकी मदद कर सकता है। इसके परिणामस्वरूप सामान्य रूप से आईलैश की वापसी हो सकती है।

यदि आपकी पलकों के झड़ने का कोई मूल कारण नहीं है और आप पलकों के विकास में तेजी लाना चाहते हैं, तो ऐसा करने के कई तरीके हैं।

जानिए कैसे तेज कर सकती हैं आईलैश रिग्रोथ

आप कई तरीकों से पलकों के विकास को तेज कर सकती हैं:

स्वस्थ आहार लें

अच्छा पोषण आईलैश ग्रोथ के साथ-साथ समग्र स्वास्थ्य का समर्थन करता है। यहां कुछ पोषक तत्व दिए गए हैं जो इनके उत्पादन में मदद कर सकते हैं।

1.प्रोटीन (Protein)

आपके बालों में काफी हद तक प्रोटीन होता है, इसलिए इस बिल्डिंग ब्लॉक में उच्च आहार महत्वपूर्ण है। NCBI के अध्ययन में बताया गया है कि प्रोटीन शरीर को अमीनो एसिड प्रदान करता है। यह केराटिन आपके पलकों के उत्पादन के लिए आवश्यक होते हैं। केराटिन पलकों को स्वस्थ और मजबूत बनाए रखने में मदद कर सकता है।

Protein aapke eyelash ke liye jaroori hai
प्रोटीन आपकी पलकों के लिए जरूरी है। चित्र: शटरस्‍टॉक

2. बायोटिन (Biotin)

बायोटिन केराटिन उत्पादन का भी समर्थन करता है। यह कई खाद्य पदार्थों में पाया जाता है, जिनमें शामिल हैं:

  • पालक
  • गोभी
  • ब्रोकोली
  • गोभी
  • प्याज
  • साबुत अनाज

3.विटामिन ए और सी युक्त फल और सब्जियां (Vitamin A and C rich fruits and vegetables) 

ये फल और सब्जियां सेल और कोलेजन उत्पादन का समर्थन करके आईलैश ग्रोथ को प्रोत्साहित करने में मदद करती हैं।

इन विकल्पों में शामिल हैं:

  • गहरे नारंगी और पीले फल और सब्जियां
  • जामुन
  • एवोकाडो

4. नियासिन (Niacin)

नियासिन (vitamin B-3) बालों के रोम में रक्त के प्रवाह में सुधार करने में मदद करता है। यह विकास को उत्तेजित करता है।

इन फूड आइटम में नियासिन पाया जाता है:

  • चिकन
  • मछली
  • मूंगफली
  • हरी मटर

5. आयरन (Iron)

आयरन की कमी वाले आहार के कारण कई पलकें एक बार में झड़ने लगती हैं। इसलिए आयरन से भरपूर खाद्य पदार्थ खाने से इसे रोकने में मदद मिल सकती है। इनमें शामिल है:

  • गहरे, पत्तेदार साग जैसे पालक
  • सूखे फल
  • समुद्री भोजन जैसे मछली
  • साबूत अनाज
iron foods khaen
इससे बचने के लिए आयरन है बेहद ज़रूरी। चित्र:शटरस्टॉक

भविष्य में पलकों का झड़ना कैसे रोक सकते हैं?

अपनी रोज़मर्रा की आदतों में छोटे-छोटे बदलाव करके आप अत्यधिक लैश फॉल को रोक सकते हैं।

1. एक नया मस्कारा आज़माएं

आपको अपने ब्रांड से एलर्जी हो सकती है और आप इस बात से अज्ञात हो सकते हैं। अगर आप वाटरप्रूफ मस्कारा का इस्तेमाल करती हैं, तो नॉन-वॉटरप्रूफ फॉर्मूला अपनाने की कोशिश करें।

2. मेकअप को धीरे से हटाएं

अपनी पलकों को रगड़ने या खींचने से, खासकर जब उन पर काजल की परत चढ़ी हो, तो वे झड़ सकती हैं। मेकअप रिमूवर और सॉफ्ट कॉटन का उपयोग करने से मदद मिल सकती है।

3. सोने से पहले मेकअप उतार दें

काजल से लिपटी हुई पलकें अधिक भंगुर होती हैं और टूटने का खतरा होता है। रात भर अपने तकिये से रगड़ने से भी वे गिर सकते हैं।

Sone se pehle makeup removal
सोने से पहले मेकअप जरूर हटा लें। चित्र : शटरस्टॉक

4. आईलैश कर्लर के उपयोग से बचें

इन उपकरणों से पलकें निकल सकती हैं, खासकर यदि आप मस्कारा लगाते समय उन्हें खींचती हैं या उनका उपयोग करती हैं।

5. फॉल्स आईलैश और एक्सटेंशन को सावधानी से हटाएं

ये प्रोडक्ट मेडिकल-ग्रेड गोंद के साथ आपकी प्राकृतिक पलकों का पालन करते हैं। गोंद को हटाने से आपकी पलकें भी निकल सकती हैं। एक सौम्य, ऑयल बेस्ड क्लीन्ज़र का उपयोग करना सुनिश्चित करें। या एक्सटेंशन को स्वाभाविक रूप से गिरने दें।

यह भी पढ़ें: जेड रोलर या गुआ शा स्टोन, फेस लिफ्ट के लिए जानिए दोनों में से क्या है ज्यादा फायदेमंद

अदिति तिवारी अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें