एजिंग के संकेतों को दूर रखेगी बादाम से बनी ये स्पेशल नाइट क्रीम, जानिए कैसे बनानी है

त्वचा को ड्राइनेस, एजिंग की समस्या से लेकर एक्ने ब्रेकआउट से प्रोटेक्ट करती है बादाम के गुणों से भरपूर यह नाईट क्रीम। यहां है इसे बनाने की आसान और प्रभावी विधि।

sardiyon mein night cream ke fayde
यहां जाने विंटर नाईट क्रीम बनाने की विधि। चित्र : शटरकॉक
अंजलि कुमारी Published on: 7 Jan 2023, 18:30 pm IST
  • 141
इस खबर को सुनें

ठंड में शुष्क हवा और वातावरण में नमी की कमी होने से त्वचा रूखी और बेजान पर जाती है। जिस वजह से त्वचा से जुड़ी विभिन्न प्रकार की एक्ने, स्किन ब्रेकआउट, ड्राइनेस का सामना करना पड़ता है। साथ ही त्वचा काफी संवेदनशील हो जाती है। ऐसे में का सामना करना पड़ता है। इस दौरान त्वचा को एक सही देखभाल की जरूरत होती है।

त्वचा रात को प्रभावी रूप से पूरी तरह हील हो पाती है। इसलिए सर्दियों में रात को त्वचा को सही से मॉइस्चराइज करना जरूरी है। इसके लिए आपको केमिकल युक्त हजारों रुपये की क्रीम की आवश्यकता बिल्कुल नही है। आप घर मे मौजूद कुछ खास सुपरफूड्स का इस्तेमाल करते हुए अपने लिए मॉइस्चराइजिंग क्रीम बना सकती हैं। यह आपकी त्वचा को अंदर से नमी प्रदान करता है और स्किन ड्राइनेस से त्वचा को प्रोटेक्ट करता है।

इसलिए आज हम आपके लिए लाए हैं, ऐसी ही एक प्रभावी क्रीम बनाने की विधि। जो सर्दियों में आपकी त्वचा को देगा एक बेहतरीन निखार। चलिए जानते हैं इसे कैसे तैयार करना है साथ ही जानेंगे यह किस तरह काम करती है।

जानते हैं किस तरह तैयार करनी है मॉइस्चराइजिंग क्रीम

इसे बनाने के लिए आपको चाहिए

बादाम
एलोवेरा जेल
गुलाब जल
नारियल का तेल

यह भी पढ़े –कौन सा लिप बाम है आपके होंठों के लिए सबसे अच्छा, यहां जानिए

इस तरह तैयार करें

  • 5 से 6 बादाम को रात भर पानी में भिगोकर छोड़ दें। सुबह इनके छिलकों को हटा दें।
  • अब बादाम में 2 चम्मच गुलाब जल मिलाएं और इसे ब्लेंड कर लें।
  • एक सूती कपड़ा लें उसमे तैयार किये गए मिश्रण को डाल दें। मिश्रण को निचोड़ते हुए बादाम का रस निकाल लें।
  • अब एक छोटे बाउल में तैयार किये गए रस को निकाल लें। फिर इसमे एक चम्मच एलोवेरा जेल और नारियल का तेल डालें।
  • सभी को एक साथ अच्छी तरह मिला लें। इसे तब तक मिलती रहें जब तक इसकी कंसिस्टेंसी क्रीम जैसी न हो जाये।
  • आपका नाईट क्रीम बनकर तैयार है। इसे किसी जार में डालकर रेफ्रिजरेटर में रखें। आप इसे हफ्ते भर इस्तेमाल कर सकती हैं। हफ्ते भर बाद दोबारा से इसी प्रोसेस के साथ नाइट क्रीम को तैयार कर लें।

यहां जाने सर्दियों में किस तरह काम करती है ये नाईट क्रीम

Aloevera for night ream
त्वचा के लिए चमत्कार से कम नहीं है एलोवेरा। चित्र:शटरस्टॉक

1. एलोवेरा

रिसर्च गेट द्वारा एलोवेरा को लेकर प्रकाशित एक स्टडी के अनुसार इसमें मौजूद एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टी त्वचा पर एक प्रोटेक्टिव लेयर तैयार करता है जो स्किन को सनबर्न से प्रोटेक्ट करती है। इसके साथ ही इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और मिनरल्स हीलिंग प्रोसैस को बूस्ट करते हैं। वहीं एलोवेरा में मॉइस्चराइजिंग एजेंट मौजूद होता है, जो त्वचा को हाइड्रेट रखने के साथ ही इसे पर्याप्त नमी प्रदान करता है।

इतना ही नहीं इसमे विटामिन सी और ई की भरपूर मात्रा पाई जाती है जो कोलेजन प्रोडक्शन को बूस्ट करते हुए स्किन इलास्टिसिटी को बनाये रखती है। वहीं यह एजिंग की समस्या में भी कारगर होता है।

2. बादाम

पब मेड सेंट्रल द्वारा बादाम को लेकर प्रकाशित एक डेटा के अनुसार इसमे एंटीऑक्सिडेंट, विटामिन ई की भरपूर मात्रा मौजूद होती है। जो स्किन त्वचा को फ्री रेडिकल्स के हानिकारक प्रभाव को कम करने में मदद करता है। वहीं प्रदूषण, सूरज के हानिकारक किरणों और सिगरेट के धुएं के प्रभाव को कम करता है। वहीं इसमे जिंक और राइबोफ्लेविन मौजूद होते हैं जो त्वचा के लिए आवश्यक पोषक तत्वों में से एक है।

साथ ही इसमे लिनोलिक एसिड मौजूद होते हैं यह एक प्रकार का फैटी एसिड है जो त्वचा के ड्राइनेस को रोकने में मदद करता है।

3. गुलाब जल

गुलाब जल का इस्तेमाल एक्सेस ऑयल और अन्य पर्यावरणीय अशुद्धियों को दूर करता है। वहीं यह ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स की समस्या में भी कारगर होता है। इसके साथ ही इसमे मौजूद पोषक तत्व त्वचा के काले धब्बे, मुहांसों के निशान और पिगमेंटेशन को कम करने में मदद करते है। इस प्रकार यह त्वचा को ग्लोइंग और बेदाग बनाता है।

रिसर्च गेट द्वरा प्रकाशित एक डेटा के अनुसार ठंढे और फ्रेश गुलाब जल में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीबैक्टिरियल गुण पाए जाते हैं। जो स्किन रेडनेस और एक्ने की समस्या में प्रभावि रूप से काम करते हुए इसे कम करने में मदद करते हैं। वहीं इसे प्राकृतिक हाइड्रेटिंग पदार्थ के रूप में जाना जाता है। जो सर्दियों में रूखी और बेजान त्वचा को पर्याप्त नमी प्रदान करते हुए त्वचा को मुलायम बनाता है। साथ ही यह होंठों को भी मॉइस्चराइज़ करता है। गुलाब जल एक्जिमा और रोसैसिया जैसे त्वचा से जुड़ी समस्यायों को नियंत्रित रखने में मदद करता है।

nariyal ke tail mei anti microbial gun paaye jaate hain
नारियल के तेल में फैटी एसिड पाया जाता हैए जो एंटी माइक्रोबियल गुणों से संपन्न है। चित्र अडोबी स्टॉक

4. नारियल का तेल

सर्दियों में नारियल तेल का इस्तेमाल शुष्क और बेजान त्वचा को मॉइस्चराइज़ करता है। इसकी हाइड्रेटिंग प्रोपर्टी त्वचा को अंदर से नमी प्रदान करती है। वहीं यह एक्जिमा की स्थिति में मददगार होता है। रिसर्च की माने तो इसकी एंटी इंफ्लेमेटरी प्रोपर्टी सुजन को कम करती है और सूरज के किरणों के हानिकारक प्रभाव को त्वचा को नुकसान पहुंचाने से रोकती है। साथ ही इसकी एन्टीबैक्टिरिय, एंटिफंगल और एंटीवायरल गुण हीलिंग प्रोसेस को बढ़ावा देते हैं।

यह भी पढ़ें : खुश्क ठंड में स्किन को ड्राईनेस से बचाना है, तो घर पर बनाएं ऑर्गेनिक बॉडी लोशन

  • 141
लेखक के बारे में
अंजलि कुमारी अंजलि कुमारी

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें