ये DIY एंटी डैंड्रफ हेयर मास्क दिला सकता है आपको रूसी और ड्राई स्कैल्प से छुटकारा, जानिए बनाने और लगाने का तरीका

डैंड्रफ की वजह से अपनी पसंदीदा हेयर स्टाइल नहीं बना पा रही हैं? तो ट्राई करें एक्सपर्ट का सुझाया ये खास हेयर मास्क।
dandruff bhi kisi beemari ka sanket ho sakta hai.
घी जरूरी फैटी एसिड, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट होते है और यह बालों के स्वास्थ्य के लिए अच्छा है। चित्र शटरस्टॉक।
अंजलि कुमारी Updated: 18 Oct 2023, 10:18 am IST
  • 134

डैंड्रफ एक आम समस्या है जिसने कभी न कभी सभी को परेशान किया होगा। बदलते मौसम और कुछ स्थितियों में डैंड्रफ होना सामान्य है, वहीं कई लोग ऐसे हैं जिनमें यह समस्या लगातार और लंबे समय तक बनी रहती है। डैंड्रफ बॉडी ड्राइनेस का एक लक्षण है। इसकी वजह से कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। बालों पर सफेद रंग का डेंड्रफ नजर आना भला किसे पसंद होगा, वहीं यह आपके कपड़ों पर भी नजर आता रहता है। इस स्थिति में ज्यादातर लोग केमिकल युक्त एंटी डेंड्रफ शैंपू, कंडीशनर और तरह तरह के महंगे हेयर मास्क लगाने की सलाह देते हैं जिसकी वजह से स्थिति और ज्यादा बिगड़ सकती है।

हालांकि, बाल एवं स्कैल्प की विशेष देखभाल के साथ खानपान में बदलाव कर अब इस समस्या से निजात पा सकती हैं। वहीं महत्वपूर्ण प्राकृतिक तत्वों से बने कई ऐसे एंटी डैंड्रफ मास्क हैं, जो इस स्थिति से उबरने में आपकी मदद कर सकते हैं। आयुर्वेद एक्सपर्ट चैताली राठौर ने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए एंटी डैंड्रफ आयुर्वेदिक हेयर मास्क (anti dandruff hair mask) की रेसिपी बताई है। साथ ही उन्होंने बताया है यह किस तरह से डैंड्रफ से निजात पाने में आपकी मदद कर सकता है। तो बिना देर किए जानते हैं इसे किस तरह अप्लाई करना है।

पहले समझते हैं आखिर क्यों होती है क्रॉनिक डैंड्रफ की समस्या

स्ट्रेस और एंजायटी
सोरायसिस और डर्मेटाइटिस जैसे स्किन कंडीशन
अधिक मात्रा में खट्टे खाद्य पदार्थों का सेवन
बार-बार रेफ्रिजरेटर के ठंडे पानी का सेवन
सनलाइट का अधिक एक्स्पोज़र
रात को जागना
धूल गंदगी प्रदूषण में अधिक समय बिताना
अधिक पसीना आना
बाल को नियमित रूप से साफ न करना
स्कैल्प में पोषण की कमी
बॉडी और स्कैल्प ड्राइनेस

dandruff
यहां है आयुर्वेदिक एंटी डैंड्रफ आयुर्वेदिक हेयर मास्क। चित्र : एडॉबीस्टॉक

यहां है एक्सपर्ट का सुझाया आयुर्वेदिक हेयर मास्क (anti dandruff hair mask)

इसे तैयार करने के लिए आपको चाहिए

भृंगराज पाउडर – 1 चम्मच
मेथी पाउडर – 1 चम्मच
नीम पाउडर – 1 चम्मच
दही (आवश्यकता अनुसार)

इस तरह तैयार करें एंटी डैंड्रफ हेयर मास्क

सबसे पहले एक बाउल में भृंगराज पाउडर, मेथी पाउडर और नीम पाउडर को एक बराबर मात्रा में निकाल लें।

अब इसमें आवश्यकता अनुसार दही मिलाएं (कंसिस्टेंसी को सामान्य रखें)।

इसे लगभग 15 से 20 मिनट के लिए ढककर रख दें।

इसे अप्लाई करने से पहले बालों पर अच्छी तरह ऑयलिंग कर लें।

अब तैयार किए गए पेस्ट को स्कैल्प एवं बालों पर सभी और अच्छी तरह अप्लाई करें।

लगभग 20 मिनट तक इसे बालों पर लगाए रखें, उसके बाद सामान्य पानी से बाल को साफ कर लें। फिर अपने अनुसार बाद में शैम्पू कर सकती हैं।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें
 mask ki taraha kaam krta hai
बालों को गहराई से मॉइस्चराइज़ कर सकता है। चित्र- अडोबी स्टॉक

अब जानें कैसे काम करता है ये मास्क

1. नीम पाउडर :

नीम को समग्र सेहत के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है, इसके साथ ही इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल और एंटी फंगल प्रॉपर्टी इसे डैंड्रफ, ड्राई स्कैल्प, स्कैल्प इनफेक्शन जैसी समस्याओं मैं कारगर बनाती हैं। इसके अलावा यह फैटी एसिड, एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन ई से युक्त होता है। यह सभी पोषक तत्व डैंड्रफ को कम करने और हेयर फॉल की समस्या को रोकने में प्रभावी रूप से कार्य करते हैं।

इसके इस्तेमाल से स्कैल्प में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है, जिससे कि स्कैल्प तक पर्याप्त ऑक्सीजन पहुंच पाता है। ऐसे में हेयर फॉलिकल्स क्लीन और एक्टिव रहते हैं और बाल जड़ से मजबूत और स्वस्थ होते हैं।

यह भी पढ़ें : हेयर ग्रोथ में मददगार हो सकता है रोजमेरी ऑयल, जानिए इसके फायदे और इस्तेमाल करने का तरीका

2. भृंगराज पाउडर :

भृंगराज में एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटीफंगल प्रॉपर्टी पाई जाती है। इसका इस्तेमाल डैंड्रफ की समस्या में बेहद प्रभावी माना जाता है। इसके अलावा यह स्कैल्प से जुड़ी अन्य समस्याएं जैसे कि सोरायसिस की स्थिति में फायदेमंद होता है। यदि आपका स्कैल्प ड्राई है तो भृंगराज इसे मॉइश्चराइज कर पर्याप्त पोषण प्रदान करता है, जिससे कि स्कैल्प की सेहत के साथ-साथ हेयर फॉलिकल भी स्वस्थ रहते हैं। स्वस्थ हेयर फॉलिकल हेल्दी हेयर ग्रोथ में मदद करते हैं।

इसके अलावा इसमें मौजूद एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल प्रॉपर्टी इसे स्कैल्प इनफेक्शन के लिए भी बेहद खास बना देती हैं। यदि आपके बाल समय से पहले सफेद हो रहे हैं, तो भृंगराज का इस्तेमाल जरूर करें। यह बालों को समय से पहले सफेद नहीं होने देता।

Diabetes mein methi use kare
मेथी के रोज इस्तेमाल करने पर 7 दिन के अंदर फायदा दिखने लगता है। चित्र: शटरस्टॉक

3. मेथी पाउडर :

मेथी के बीज फोलिक एसिड, विटामिन ए, विटामिन के, विटामिन सी के साथ ही पोटैशियम, कैल्शियम, आयरन जैसे महत्वपूर्ण मिनरल्स का एक बेहतरीन स्रोत है। इसके अलावा इसमें भरपूर मात्रा में प्रोटीन और निकोटीनिक एसिड मौजूद होता है जो बालों के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। इसका इस्तेमाल हेयर फॉल से लेकर डेंड्रफ की समस्या से निजात पाने के लिए किया जा सकता है।

इसके अलावा यह स्कैल्प संबंधित तमाम समस्याएं जैसे कि ड्राइनेस, स्कैल्प इनफेक्शन, अस्वस्थ हेयर फॉलिकल्स आदि में प्रभावी रूप से कार्य करता है। इतना ही नहीं यह बालों को हाइड्रेशन प्रदान कर हेयर फॉलिकल्स को स्वस्थ रखता है, जिससे कि बाल जड़ से मजबूत होते हैं।

यह भी पढ़ें : माइक्रो ब्रेकेज के कारण भी रुक सकती है हेयर ग्रोथ, जानिए क्या है यह और इससे कैसे निपटना है

  • 134
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख