टैनिंग हटाकर बॉडी को फ्रेश रखना है तो ट्राई करें ये होममेड डी टैन स्क्रब और बाथ, हम बता रहे हैं तरीका

नहाने के बाद त्वचा चिपचिपी बनी रहती है। ऐसे में मां का सदियों पुराना नुस्खा शरीर को न केवल ठंडक प्रदान करता है बल्कि त्वचा टैनिंग से मुक्त हो जाती है। जानते हैं डीटैन नेचुरल बाथिंग वॉटर और स्क्रब बनाने की विधि
Skin ko D tan kaise karein
एक्सफोलिएटिंग गुण त्वचा पर बढ़ने वाला ऑयल और डेड स्किन सेल्स को रिमूव करके टैनिंग को दूर करते हैं। चित्र- अडोबी स्टॉक
ज्योति सोही Published: 28 May 2024, 20:00 pm IST
  • 140

दिनों दिन बढ़ने वाली गर्मी के चलते शरीर को पसीना, दुर्गंध और सनटैन का सामना करना पड़ता है। इससे निपटने के लिए साधारण साबुन और पानी से नहाने के बाद भी त्वचा ऑयली और चिपचिपी बनी रहती है। ऐसे में मां का सदियों पुराना नुस्खा शरीर को न केवल ठंडक प्रदान करता है बल्कि त्वचा भी ग्लोई और टैनिंग से मुक्त हो जाती है। जानते हैं डीटैन नेचुरल बाथिंग वॉटर और स्क्रब बनाने की विधि स्टेप बाई स्टेप।

नीम की पत्तियां, गुलाब की पत्तियां, नींबू का रस और कच्चे चावलों से बाथिंग के लिए खास किस्म का वॉटर और स्क्रब तैयार किया जाता है। इससे मौजूद एक्सफोलिएटिंग गुण त्वचा पर बढ़ने वाला ऑयल और डेड स्किन सेल्स को रिमूव करके टैनिंग को दूर करते हैं। नियमित रूप से इसका प्रयोग त्वचा को क्लीन और हेल्दी बनाए रखता है। जानते हैं चिलचिलाती गर्मी के लिए तैयार किए जाने वाले इस नुस्खे को तैयार करने के लिए प्रयोग किए जाने वाले नेचुरल इंग्रीडिएंटस के फायदे।

D tan bath water
नीम की पत्तियां, गुलाब की पत्तियां, नींबू का रस और कच्चे चावलों से बाथिंग के लिए खास किस्म का वॉटर और स्क्रब तैयार किया जाता है। चित्र : शटरस्टॉक

नेचुरल इंग्रीडिएंटस के फायदे जानें

1. गुलाब की पंखुड़ियां

एंटीऑक्सीडेटस से भरपूर गुलाब की पंखुड़ियों ऑक्सीडेटिव तनाव से मुकत रखने में मदद करती है। इससे त्वचा पर बनने वाली फाइन लाइंस कम होती है और स्किन हाइड्रेट रहती है। इसमें पाई जाने वाली विटामिन ए और सी की मात्रा त्वचा में कोलेजन को बूस्ट करने में मदद करती है। गुलाब की पंखुड़ियां सीबम सिक्रीशन को नियत्रिंत करने में भी मदद करती है।

2. नीम की पत्तियां

नीम की पत्तियों में एंटी फंगल और एंटी बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। इससे त्वचा पर होने वाली एलर्जी, रैशेज़ और फ्री रेडिकल्स से मुक्ति मिलती है। इसके अलावा पानी में नीम की पत्तियों को डालकर नहाने से तन की दुर्गंध नियंत्रित होने लगती है। नीम के पेस्ट को चेहरे पर लगाने से एक्ने की समस्या से मुक्ति मिल जाती है। इसके अलावा ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स को दूर किया जा सकता है।

3. चावल से स्किन को करें एक्सफोलिएट

चावल में एंटी एजिंग और स्किन ब्राइटनिंग गुण मौजूद है। इन्हें नियमित तौर पर चेहरे पर अप्लाई करने से स्किन हाइड्रेट रहती है। इसके अलावा दाग धब्बों की समस्या भी हल हो जाती है। इसमें मौजूद विटामिन और मिनरल की मात्रा स्किन को एक्सफोलिएट करने में मदद करता है।

Jaanein D tan scrub aur bath water kaise banayein
नियमित रूप से इसका प्रयोग त्वचा को क्लीन और हेल्दी बनाए रखता है। चित्र : अडोबी स्टॉक

डीटैन नेचुरल बाथिंग वॉटर और स्क्रब बनाने के लिए फॉलो करें ये स्टेप्स

1 एक बाउल में 1 गिलास पानी डालकर उसमें 1 कटोरी नीम के पत्ते, 1 कटोरी गुलाब के पत्ते, 2 नींबू का रस और 1 कटोरी चावल डालें।

2 अब इस बर्तन को गैस पर रखें और कुछ देर पानी को उबालें। पानी को 3 से 5 मिनट तक अच्छी तरह से उबलने दें।

3 उबले हुए पानी को एक अलग बर्तन में डाल लें। इस पानी को छानकर 1 बाल्टी पानी में डालें और इससे दिन में दो बार स्नान करें।

4 इससे शरीर में स्वैटिंग और बैड समेल की समस्या हल हो जाती है। तैयार पानी से नहाने के बाद बचे मिश्रण को अलग कटोरी में रखें।

अब जानिए डीटैन नेचुरल स्क्रब कैसे बनाना है

5 पानी को छानने के बाद बचे हुए नीम के पत्ते, गुलाब के पत्ते और चावल को पीसकर एक थिक पेस्ट तैयार कर लें।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

6 इसमें 1 चम्मच बेसन को मिला दें। बेसन मिलाने के बाद इसे अच्छी तरह से हिलाएं और चेहरे, गर्दन व पैरों पर अप्लाई करें।

7 इसे साबुन के स्थान पर प्रयोग करने से त्वचा को ठंडक और अतिरिक्त ऑयल की समस्या से मुक्ति मिल जाती है।

8 दो से तीन मिनट तक इस पेस्ट को चेहरे पर लगाने के बाद उसे तैयार पानी से धोएं और चेहरे का निखार पाएं। इसके अलावा शरीर में बढ़ने वाली पसीने की समस्या भी हल होने लगती है।

ये भी पढ़ें – समर सीजन में और भी ज्यादा जरूरी है टोनर का इस्तेमाल, नाइट टाइम स्किन केयर के लिए फॉलो करें ये 6 स्टेप्स

  • 140
लेखक के बारे में

लंबे समय तक प्रिंट और टीवी के लिए काम कर चुकी ज्योति सोही अब डिजिटल कंटेंट राइटिंग में सक्रिय हैं। ब्यूटी, फूड्स, वेलनेस और रिलेशनशिप उनके पसंदीदा ज़ोनर हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख