वैलनेस
स्टोर

ड्राई स्कैल्प से परेशान हैं, तो हमारे पास हैं इससे छुटकारा पाने के 5 आसान उपाय

Published on:28 May 2021, 09:00am IST
पोषण और नमी की कमी के कारण आपकी स्कैल्प ड्राई हो जाती है। हालांकि, आप इसमें नमी लाने के लिए सही आहार ले और खूब सारा पानी का सेवन करने जैसे विकल्प चुन सकती हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं स्कैल्प के ड्राई होने का कारण और इसका समाधान।
अंबिका किमोठी
  • 92 Likes
ड्राई स्कैल्प से छुटकारा पाने के लिए ट्राय करें। चित्र-शटरस्टॉक.

स्कैल्प का रूखापन बालों के पोषण को प्रभावित करता है। जिससे बाल रूखे और बेजान हो जाते हैं। अगर आप भी इन दिनों ये महसूस कर रहीं हैं कि आप बाल लगातार टूटकर गिर रहे हैं, तो इसकी वजह ड्राई स्‍कैल्‍प भी हो सकते हैं। जिसमें लापरवाही करना आपके बालों को और ज्‍यादा नुकसान पहुंचा सकता है। यहां हम आपको उन घरेलू उपायों के बारे में बता रहे हैं, जो आपकी स्‍कैल्‍प को हायड्रेट कर बालों की हेल्‍थ में सुधार कर सकते हैं।

क्यों होती है ड्राई स्कैल्प?

ड्राई स्कैल्प होने का कारण तैलीय ग्रंथियों का अधिक सक्रिय होना, अनुवांशिक कारण, तनाव, ऑयली स्किन, सिर का साफ न होना, फंगल इन्फेक्शन,बालों से संबंधित उत्पादों का रिएक्शन, पोषक तत्वों की कमी, ज्यादा केमिकल वाले शैम्पू का अधिक इस्तेमाल, कठोर पानी का इस्तेमाल, मौसम और बालों की देखभाल में लापरवाही है।

ड्राई स्कैल्प से छुटकारा पाने के लिए ट्राय करें ये 5 घरेलू उपाय

1 ऑयल मसाज

ड्राई स्कैल्‍प के लिए प्राकृतिक तेलों का इस्तेमाल करना चाहिए- जैसे जोजोबा ऑयल, ऑलिव ऑयल, कोकोनट ऑयल और कैस्टर ऑयल आदि। विशेषज्ञों का कहना है कि ये सभी तेल सिर में नमी देने के साथ बालों की गंदगी भी खत्म करते है। जिस वजह से ये ड्राई स्कैल्प की समस्या को दूर करने में मदद मिलती है।

बालों पर हमेशा गुनगुने तेल से मालिश करनी चाहिए। चित्र-शटरस़्ट़ॉक.

बालों पर हमेशा गुनगुने तेल से मालिश करनी चाहिए। साथ ही ध्‍यान रखें कि आपको अपनी स्‍कैल्‍प को उंगलियों से हल्‍का मसाज करना है। बेहतर होगा कि आप शैंपू करने से दो घंटे पहले अपने सिर की मालिश करें।

2 नींबू

नींबू के रस में विटामिन सी, ई व ए के साथ-साथ फोलिक एसिड और फैटी एसिड भी पाया जाता है। ये सभी तत्व बालों की ग्रोथ के साथ-साथ स्कैल्प में पोषण के लिए भी सहायक माने जाते हैं। नींबू लगाने से स्कैल्प से रूसी निकल जाती है।

नींबू को सिर पर दबाकर लगाए उसके बाद इसके रस को पांच मिनट तक लगा छोड़ दें, फिर बालों को सामान्य तरीके से धो लें। बेहतर रिजल्ट के लिए इसे सप्ताह में दो बार लगा सकती हैं।

3 एलोवेरा

एलोवेरा में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होते हैं। इसके साथ-साथ ये त्वचा में नमी के स्तर को बनाए रखने में सहायक होता है। ड्राई स्कैल्प में एलोवेरा लगाने से स्कैल्प में नमी बनी रहती है। जिस कारण इसका इस्तेमाल स्कैल्प की ड्राईनेस को दूर करने में लाभकारी होता है।

एलोवेरा बालों के लिए काफी फायदेमंद है। चित्र: शटरस्‍टॉक

सबसे पहले उसे अच्छे से धो लें फिर एलोवेरा के पत्ते में से उसका जेल निकाल लें। अब इसमें पानी मिलाकर जूस बना लें। इस जूस को अपने बालों और स्कैल्प पर लगाकर कुछ मिनट के लिए मालिश करें। फिर 20 मिनट तक इसे रहने दें और उसके बाद सिर धो लें। बेहतर रिजल्ट के लिए आप इसे सप्ताह में दो बार लगा सकती हैं।

4 विटामिन-ई की कैप्सूल

त्‍वचा ही नहीं विटामिन-ई बालों के लिए बहुत लाभकारी होता है। ये रूखे स्कैल्प में नमी लाता है। विशेषज्ञों का मानना है कि बालों की ग्रोथ के साथ-साथ स्कैल्प को हेल्दी बनाने में ये अहम भूमिका निभाता है। स्कैल्प में नमी लाने के लिए आप विटामिन-ई का उपयोग कर सकती हैं।

बालों में लगाने के लिए विटामिन-ई के कैप्सूल से तेल को एक कटोरी में निकाल दें। फिर इस तेल से अपने सिर पर दस मिनट के लिए मालिश करें। इसे अपने सिर पर एक घंटे तक लगा रहने दें और फिर सिर धो लें। बेहतर परिणाम के लिए आप इस तेल को सप्ताह में दो बार लगा सकती हैं।

5 बेकिंग सोडा

इसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटीफंगल एजेंट होते हैं जो स्कैल्प का pH कम करता है। जिससे बालों को नमी मिलती है और ये बालों से गंदगी को हटाकर उन्हें साफ रखता है। इससे स्कैल्प पर इंफेक्शन होने का खतरा भी नहीं रहता है। ड्राई स्कैल्प में नमी लाने के लिए बेकिंग सोडा एक बेहतरीन उपाय है।

बेकिंग सोडा यहां आपके काम आ सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

इसे तैयार करने के लिए बेकिंग सोडा और गुलाब जल को मिलाकर पेस्ट बनाएं और इसे अपने सिर पर लगाकर फिर दो से तीन मिनट तक अच्छी तरह मालिश करें। इसके बाद ठंडे पानी से सिर धो लें। इसे आप सप्ताह में दो बार लगा सकती हैं।

इसे भी पढ़े-कोविड रिकवरी के बाद झड़ने लगे हैं बाल, तो सही पोषण के लिए आहार में शामिल करें ये 5 चीजें

अंबिका किमोठी अंबिका किमोठी

योगा, डांस और लेखनी, यही सफर के साथी हैं। अपनी रचनात्‍मकता में देखूं कि ये दुनिया और कितनी प्‍यारी हो सकती है।