और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

इनर थाइज के गहरे रंग के बारे में सोच रहीं हैं? तो ट्राई करें ये 5 घरेलू नुस्खे

Published on:6 July 2021, 19:30pm IST
शरीर के उन हिस्सों का रंग इतना गहरा क्यों हो जाता है? अगर आप ये सोचकर परेशान हैं, तो हमारे पास है इसका समाधान।
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ
  • 82 Likes
जांघ के अंदरूनी हिस्से का रंग निखारने के लिए ट्राई करें ये होम रेमेडीज. चित्र : शटरस्टॉक
जांघ के अंदरूनी हिस्से का रंग निखारने के लिए ट्राई करें ये होम रेमेडीज. चित्र : शटरस्टॉक

मानसून में आप अपनी फेवरिट शॉर्ट ड्रेस पहनना चाहती हैं, मगर मुसीबत है जांघों और उनके आसपास का गहरा रंग। जांघों के अंदरूनी हिस्से का काला पड़ना महिलाओं द्वारा सामना की जाने वाली सबसे आम समस्याओं में से एक है! ऐसे कई कारक हैं जो जांघों के अंदर गहरे रंग का कारण बन सकते हैं। यदि आप भी स्कर्ट्स और शॉर्ट्स पहनने की शौक़ीन हैं, तो आप इसे नज़रंदाज़ नहीं कर सकती है। तो आइये हम आपको बताते हैं गहरी इनर थाइज का रंग निखारने के लिए 5 होम रेमेडीज, लेकिन उससे पहले जानते हैं कि इनर थाइज का रंग गहरा क्यों हो जाता है?

क्यों गहरा हो जाता है शरीर के इस हिस्से का रंग

जांघ के अंदरूनी हिस्से के गहरे होने का एक मुख्य कारण शरीर में यूरिक एसिड का उच्च स्तर है। अन्य कारणों में त्वचा का सूखापन, हार्मोनल असंतुलन, या तंग कपड़ों के कारण होने वाला घर्षण शामिल है। यदि चलते या दौड़ते समय आपकी जांघें आपस में रगड़ती हैं तो आपको जांघ के अंदरूनी हिस्से में हाइपरपिग्मेंटेशन भी हो सकता है।

हार्मोनल बदलाव की वजह से गहरा हो सकता है इनर थाई का रंग. चित्र : शटरस्टॉक
हार्मोनल बदलाव की वजह से गहरा हो सकता है इनर थाई का रंग. चित्र : शटरस्टॉक

जांघ के अंदरूनी हिस्से का रंग निखारने के लिए ट्राई करें ये होम रेमेडीज

1. नारियल तेल और नींबू का रस

पिगमेंटेशन से निपटने का सबसे अच्छा तरीका है नींबू का रस, क्योंकि यह विटामिन C से भरपूर होता है। यह डैमेज स्किन सेल्स की मरम्मत में मदद करता है। इसलिए, नारियल के तेल में नींबू का रस मिलाएं और इस मिश्रण को 10-15 मिनट के लिए प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं।

2. हल्दी और दही

हल्दी आयुर्वेद में प्रयोग किये जाने वाले घरेलू उपचारों में से एक है जो आपकी आंतरिक जांघों को हल्का करने की प्रक्रिया को तेज कर सकती है। आपको रोजाना हल्दी का लेप लगाने से बेहतर परिणाम मिल सकते हैं। बस एक छोटा चम्मच हल्दी लें और उसमें थोड़ा सा दही मिलाएं। दोनों को मिक्स करते हुए पेस्ट बनाएं और इस हिस्से पर लगाएं। इसे सूखने दें और पानी से धो लें।

3. एलोवेरा जेल

एलोवेरा में एंटी-इंफ्लेमेटरी और जीवाणुरोधी गुण होते हैं, जो मृत त्वचा कोशिकाओं को हटा सकते हैं और चमकती त्वचा को बढ़ावा दे सकते हैं। एलोवेरा प्रकृति में बेहद ठंडा होता है क्योंकि यह स्वस्थ, खुली और चमकती त्वचा को बढ़ावा दे सकता है। इसके पौधे से थोड़ा ताजा एलोवेरा जेल निकाल लें और इससे अपनी जांघों की मालिश करें। पूरी तरह सूख जाने पर पानी से धो लें।

एलोवेरा और खीरे का फेस मास्‍क आपकी स्किन को एक्‍स्‍ट्रा पोषण देता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
एलोवेरा आपकी स्किन को एक्‍स्‍ट्रा पोषण देता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

4. सेब का सिरका

एप्पल साइडर विनेगर जांघों के गहरे रंग का इलाज कर सकता है और यह जलन को भी शांत करने में मदद करता है। थोड़ा सेब का सिरका लें और उसमें थोड़ा पानी मिलाएं। मिश्रण को रूई की मदद से प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएं। इसे सूखने दें और पानी से धो लें। सेब के सिरके में मॉइस्चराइजिंग गुण भी होते हैं, जो आपकी त्वचा को हाइड्रेट और मुलायम रख सकते हैं।

5. आलू का रस और शहद

आलू में प्राकृतिक त्वचा ब्लीचिंग गुण होते हैं, जबकि शहद में आपकी त्वचा को चिकना और कोमल बनाए रखने के लिए मॉइस्चराइजिंग गुण होते हैं। आलू को घिस कर रस निकाल लें और उसमें थोड़ा सा शहद मिला लें। एक साथ मिलाएं और भीतरी जांघों पर लगाएं। कुछ देर बाद उस जगह को ठंडे पानी से धो लें। इवन टोन पाने के लिए इस उपाय को दिन में दो बार दोहराएं।

यह भी पढ़ें : मम्मी कहती हैं स्किन के लिए साइड इफैक्ट फ्री उपाय है चंदन फेस पैक, यहां है इसे बनाने और लगाने का तरीका

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।