इस वीकेंड इन 5 DIY फेस मास्क से करें अपनी स्किन की देखभाल, न होंगे एक्ने, न पिगमेंटेशन

ह्यूमिडिटी, सूरज की हानिकारक किरणों के प्रभाव से त्वचा बेजान पड़ जाती है। ऐसे में एक्ने ऑयली स्किन से लेकर पिगमेंटेशन तक की समस्या को आप अपने घर में मौजूद कुछ सामग्री से आसानी से ट्रीट कर सकती हैं।
face mask bnane ki vidhi
यहां है डीआईवाई फेस मास्क। चित्र : एडॉबीस्टॉक
अंजलि कुमारी Updated: 16 Jun 2023, 03:07 pm IST
  • 120

एक्ने, पिंपल, ड्राई स्किन, पिगमेंटेशन इत्यादि जैसी समस्याएं बिल्कुल आम हो चुकी है। इसके लिए आपकी खराबब लाइफस्टाइल, गलत खानपान की आदत, मौसमी बदलाव इत्यादि सभी जिम्मेदार हैं। खासकर इस बढ़ती गर्मी में त्वचा संबंधी समस्याएं तेजी से बढ़ रही हैं। ह्यूमिडिटी, सूरज की हानिकारक किरणों के प्रभाव से त्वचा बेजान पड़ जाती है। यदि आप भी त्वचा संबंधी समस्याओं से परेशान हैं तो चिंता न करें।

इसके लिए आपको महंगे प्रोडक्ट्स पर खर्च करने की आवश्यकता नहीं है, एक्ने ऑयली स्किन से लेकर पिगमेंटेशन तक की समस्या को आप अपने घर में मौजूद कुछ सामग्री से आसानी से ट्रीट कर सकती हैं।

आज हेल्थ शॉट्स आपके लिए लेकर आया है अलग-अलग प्रकार की त्वचा से जुड़ी समस्याओं के लिए अलग-अलग प्रकार के घरेलू फेस मास्क (DIY face mask)। तो चलिए जानते हैं यह किस तरह काम करता है साथ ही जानेंगे इसे अप्लाई करने का सही तरीका।

Oatmeal for skin
जानिए ओटमील फेसपैक बनाने के तरीके। चित्र:शटरस्टॉक

हर तरह की स्किन के लिए फायदेमंद होंगे ये 5 DIY फेस मास्क

1. बंद पोर्स के लिए ओटमील फेस मास्क

ओट मील और बेकिंग सोडा में एक्सफ़ोलीएटिंग गुण पाए जाते हैं, जो डेड स्किन सेल्स को हटा कर और पोर्स को खोल देते हैं। पोर्स खुलने का मतलब यह नहीं है कि इसमें इंप्योरिटी जमा होने लग जाएंगे, यह पोर्स में जमी गंदगी को बाहर निकालता है, ताकि त्वचा अच्छी तरह से सांस ले पाए और त्वचा तक पर्याप्त ऑक्सीजन पहुंचे। साथ ही साथ इससे त्वचा का ब्लड फ्लो भी इंप्रूव होता है।

इसके लिए आपको चाहिए : 2 चम्मच ओट मील, 1 चम्मच मीठा सोडा

इस तरह अप्लाई करें

एक बाउल में ओटमील और बेकिंग सोडा को अच्छी तरह से मिला लें।

पेस्ट बनाने के लिए इसमें पानी की कुछ बूंदें मिलाएं।

इस पेस्ट की मदद से अपनी त्वचा पर धीरे-धीरे मसाज करें और इसे सूखने दें।

फिर इसे गुनगुने पानी से धो लें और मॉइस्चराइजर लगाएं।

2. ऑयली स्किन के लिए लेमन और ऑलिव ऑयल फेस मास्क

तैलीय त्वचा की समस्या तब होती है जब आपके पोर्स बहुत अधिक सीबम का उत्पादन करना शुरू कर देता हैं। ऑयल पोर्स को बंद कर देता है साथ ही एक्ने और इन्फ्लेमेशन को ट्रिगर कर सकता है। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन की माने तो केला त्वचा से अधिक तेल को अवशोषित होने में मदद करता हैं, वहीं नींबू पोर्स को अंदर से साफ कर देते हैं। क्योंकि पोर्स में जमी हुई इंप्योरिटीज त्वचा संबंधी विभिन्न प्रकार की समस्याओं का कारण बन सकती हैं।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

इसके लिए आपको चाहिए : 1 केला, 1 चम्मच नींबू का रस और 1 चम्मच जैतून का तेल

इस तरह इस्तेमाल करें

एक बाउल में केले को मैश कर लें। अब इसे पेस्ट बनाने के लिए इसमें नींबू का रस और जैतून का तेल मिलाएं।

इस मास्क को अपने चेहरे पर अप्लाई करें। इसे 15 मिनट तक लगा रहने दें और फिर गुनगुने पानी से साफ कर लें।

Aloevera for night ream
त्वचा के लिए चमत्कार से कम नहीं है एलोवेरा जेल। चित्र : शटरस्टॉक

3. ड्राई स्किन के लिए कुकुंबर एलोवेरा फेस मास्क

यह हाइड्रेटिंग फेस मास्क आपकी त्वचा को पर्याप्त नमी प्रदान करता है साथ ही सुस्ती और खुजली को कम करने में मदद कर सकता है। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन के अनुसार खीरा कई महत्वपूर्ण मिनरल्स और विटामिन से भरपूर होता है। साथ ही एलोवेरा जेल में एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं, जो त्वचा को फ्री रेडिकल से प्रोटेक्ट करते है और ड्राई स्किन पर संक्रमण के खतरे को कम कर देते हैं।

इसके लिए आपको चाहिए : आधा खीरा, 2 चम्मच एलोवेरा जेल

इस तरह इस्तेमाल करें

खीरे को ब्लेंड कर लें और एलोवेरा जेल के साथ अच्छी तरह मिला लें।

पेस्ट से अपनी त्वचा पर धीरे-धीरे मसाज करें।

इसे 30 मिनट तक लगा रहने दें और फिर सामान्य पानी से धो लें।

यह भी पढ़ें : Stay Positive : नेगेटिव लोगों और चीजों से परेशान हैं, तो जानिए आप खुद को कैसे रख सकती हैं पॉजिटिव

4. एक्ने के लिए फेस मास्क

आजकल एक्ने और पिंपल की समस्या एक सबसे आम हो चुकी है। मुहांसे तब विकसित होते हैं जब तेल, गंदगी और बैक्टीरिया पोर्स को बंद कर देते हैं जिससे मुहांसे, ब्लैकहेड्स, व्हाइटहेड्स, पिंपल्स, नोड्यूल्स और सिस्ट जैसी समस्याएं होती हैं।

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन के अनुसार एग व्हाइट में प्रोटीन की पर्याप्त मात्रा मौजूद होती है। प्रोटीन त्वचा पर बैक्टीरिया के प्रभाव को कम करते हुए त्वचा से जुड़े अन्य समस्याओं में प्रभावी रूप से काम करता है।

इसे बनाने के लिए आपको चाहिए : 2 से 3 अंडे का सफेद भाग

इस तरह अप्लाई करें

एग व्हाइट से इसके पीले भाग को अलग कर दें।

अंडे की सफेदी को एक बाउल में रखें।

अब ब्रश या उंगली की मदद से अंडे की सफेदी को अपने चेहरे पर अप्लाई करें।

मास्क को 10 से 15 मिनट तक लगा रहने दें। इसके सूखने का इंतजार करें।

जब यह सुख जाए तो एक नम कपड़े को भिगोकर त्वचा को साफ कर लें। फिर त्वचा पर मॉइस्चराइजर लगाएं।

isme antibacterial gun hote hai
शहद में एंटी बैक्टीरिया गुण होते हैं। चित्र-शटरस्टॉक।

5. हाइपरपिग्मेंटेशन के लिए हनी और हल्दी का फेस मास्क

पोस्ट-इन्फ्लेमेटरी हाइपरपिग्मेंटेशन अक्सर मुहांसे, उम्र, या सूरज की क्षति के कारण त्वचा के काले क्षेत्रों को संदर्भित करता है। बाजारू त्वचा संबंधी उपचार हाइपरपिग्मेंटेशन को कम करने में मदद कर सकते हैं, लेकिन वे बेहद महंगे होते हैं। परंतु चिंता न करें आप DIY हल्दी मास्क की मदद से इसे घर पर ठीक कर सकती हैं।

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ़ मेडिसिन के अनुसार हल्दी में मौजूद एंटी इन्फ्लेमेटरी, एंटीबैक्टीरियल और एंटी फंगल प्रॉपर्टी से आपकी त्वचा की रंगत एक सामान्य हो जाती है साथ-साथ यह त्वचा में प्राकृतिक निखार लेकर आता है, जिससे सूजन से भी राहत मिलती है।

इसके लिए आपको चाहिए : 1/2 छोटा चम्मच हल्दी पाउडर, 1 से 2 बड़े चम्मच कच्चा शहद

इस तरह अप्लाई करें

पेस्ट बनाने के लिए सभी सामग्री को एक बाउल में डालकर मिला लें।

पेस्ट से अपनी त्वचा पर धीरे-धीरे मसाज करें।

फिर इसे 10 मिनट तक लगा रहने दें बाद में गर्म पानी से साफ कर लें।

यह भी पढ़ें : चिकन को करना है फ्रिज में लंबे समय तक स्टोर, ताे याद रखें एक्सपर्ट की बताई ये जरूरी बातें

  • 120
लेखक के बारे में

इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी से जर्नलिज़्म ग्रेजुएट अंजलि फूड, ब्यूटी, हेल्थ और वेलनेस पर लगातार लिख रहीं हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख