वैलनेस
स्टोर

ऑयली स्किन के लिए आजमाएं ये 3 घरेलू फेस पैक, गर्मियों में नहीं होगी मुंहासों की समस्‍या

Updated on: 24 June 2021, 00:01am IST
तैलीय त्वचा के लिए प्राकृतिक उपचार सीबम उत्पादन को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं। वे आपकी त्वचा को ब्रेकआउट और ब्लैकहेड्स से मुक्त रखने में भी मदद करते हैं। तो, तैलीय त्वचा के लिए इन तीन फेस पैक का प्रयोग करें।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 82 Likes
ऑयली स्किन के लिए ये फेस पैक मददगार साबित हो सकते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

हम सब शायद यह सुन चुके हैं कि किसी भी चीज की अति बुरी होती है। यही बात प्राकृतिक तेल के लिए सच है, जिसका हमारी त्वचा उत्पादन करती है। त्वचा में वसामय ग्रंथियां सीबम का उत्पादन करती हैं, जो एक तैलीय पदार्थ है जो हमारी त्वचा की रक्षा करता है। इसे प्राकृतिक हाइड्रेशन प्रदान करता है।

हालांकि, अधिक सीबम उत्पादन से त्वचा तैलीय हो सकती है। तैलीय त्वचा सिर्फ अजीब सी चमक ही नहीं लाती है, बल्कि छिद्रों को भी रोक सकती है, जिससे व्हाइट हेड्स, ब्लैकहेड्स और पिंपल्स का खतरा बढ़ जाता है।

तैलीय त्वचा वालों को संघर्ष का पता होता है! कोई फर्क नहीं पड़ता कि हम कितना प्रयास करते हैं, त्वचा को तेल से दूर रखना लगभग असंभव है। लेकिन, क्लौग्ड पोर के जोखिम को कम करने के लिए तेल उत्पादन को नियंत्रित करने की आवश्यकता है। ऐसी स्थिति में, प्राकृतिक उपचार सबसे अच्छा काम करते हैं!

यहां तैलीय त्वचा के लिए तीन शक्तिशाली फेस पैक हैं:

1. मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल

पुराने समय से इस्तेमाल की जाने वाली, मुल्तानी मिट्टी प्राकृतिक स्किनकेयर का एक अभिन्न अंग है। इसमें उत्कृष्ट क्लेंज़िंग प्रॉपर्टीज़ हैं, जिसका अर्थ है कि यह प्रभावी रूप से त्वचा की सतह से अतिरिक्त तेल को हटाता है।

मुल्‍तानी मिट्टी त्‍वचा से अतिरिक्‍त ऑयल निकाल देती है। चित्र- शटरस्टॉक

मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाता है और गंदगी से छुटकारा दिलाता है जो छिद्रों को रोक सकती है। इसके साथ गुलाब जल, त्वचा पर शांत प्रभाव डालता है। यह मुंहासे और जलन को शांत कर सकता है।

मास्क तैयार करने के लिए, एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी में दो चम्मच गुलाब जल मिलाएं। इन दोनों सामग्रियों को एक साथ मिलाएं, जब तक कि कोई गांठ न रह जाए। इसे चेहरे और गर्दन पर लगाएं। फेस मास्क को धोने के लिए गर्म पानी का उपयोग करें।

2. बेसन, नींबू और दूध

बेसन में एक्सफोलिएटिंग गुण होते हैं जो त्वचा से मृत त्वचा कोशिकाओं और अन्य अशुद्धियों को हटाते हैं। यह त्वचा पर अतिरिक्त तेल को अवशोषित कर सकता है। नींबू, जिसमें विटामिन C होता है, न केवल त्वचा को एंटीऑक्सीडेंट प्रदान करता है, बल्कि इसकी एसिडिक प्रकृति भी त्वचा की सतह से तेल को खत्म करने में मदद कर सकती है। दूध में लैक्टिक एसिड होता है, जो फेस मास्क के एक्सफ़ोलीएटिंग गुणों को जोड़ सकता है।

फेस मास्क तैयार करने के लिए एक चम्मच दूध और 1/2 चम्मच नींबू के साथ एक चम्मच बेसन मिलाएं। सामग्री को एक साथ मिलाएं और अपने चेहरे पर लगाएं। फेस मास्क को सूखने दें और ठंडे पानी का उपयोग करके इसे धो लें।

3. टमाटर और शहद

टमाटर में विटामिन A और C होता है, जो आपकी त्वचा को एंटीऑक्सीडेंट्स की अच्छी खुराक प्रदान कर सकता है और उसे ठीक कर सकता है। इसके अलावा, टमाटर की एसिडिक प्रॉपर्टीज़ अतिरिक्त तेल को हटाने में मदद करती हैं।

टमाटर का रस चेहरे के दाग धब्बे मिटाता है। चित्र- शटरस्टॉक।

शहद प्रकृति में एंटी-माइक्रोबियल है और त्वचा के संक्रमण के जोखिम को कम करता है। यह घावों को ठीक कर सकता है और त्वचा को सुखाने का काम करता है।

फेस मास्क तैयार करने के लिए, प्यूरी बनाने के लिए आधा टमाटर पीस लें। इसके बाद इसमें एक चम्मच शहद मिलाएं। गर्म पानी का उपयोग करने से पहले इसे 10 से 15 मिनट के लिए अपने चेहरे पर लगाएं। यदि आपके पास टमाटर को पीसने का समय नहीं है, तो बस टमाटर के पूरे टुकड़े पर शहद लगाएं। इसे पानी से धोने से पहले इसे 10 से 15 मिनट के लिए अपने चेहरे पर रगड़ें।

लेडीज़, क्लीन और सॉफ्ट स्किन के लिए इनमें से किसी भी फेस पैक का इस्तेमाल करें!

यह भी पढ़ें – मुंहासों से लेकर ब्लैकहेड्स तक, नीम के ये 4 DIY फेस पैक करेंगे आपकी त्‍वचा संबंधी समस्‍याओं का निपटारा

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।