वैलनेस
स्टोर

ये 7 आयुर्वेदिक उपाय हेयर फॉल को कम कर, आपके बालों में ला देंगे फि‍र से वही रौनक

Published on:21 January 2021, 18:46pm IST
क्या आप भी ऐसे उपायों की तलाश में हैं, जो पूरी तरह से प्राकृतिक हैं? तो आपकी तलाश यहां खत्म हुई .. ये 7 आयुर्वेदिक उपाय आपका हेयर फ़ॉल तो कम करेंगे ही साथ ही, साथ ही बालों को जड़ो से मज़बूत भी बनाएंगे।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 92 Likes
आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियां हेयर फॉल से निजात दिला सकती हैं। चित्र-शटरस्टॉक

आयुर्वेद में बालों को अत्यंत महत्व दिया गया है। हड्डी के ऊतकों, तंत्रिका तंत्र और पाचन तंत्र में गड़बड़ी, बालों की ग्रोथ और चमक में रूकावट पैदा कर सकती है।

जीवन चक्र में आपके बालों का 10% तक झड़ना सामान्य बात है। यदि इससे अधिक संख्या में बाल झड रहे हैं, तो यह चिंता का विषय है और आपको ज्यादा देखभाल और ध्यान देने की ज़रुरत है। इसके लिए बालों में नियमित तेल लगाने से मदद मिल सकती है।

बालों में हल्‍का गुनगुना तेल डालने और अच्छे से मालिश करें, यह प्राचीन तरीका बालों की नमी, चमक और मजबूती बढ़ाता है। हेयर ऑयलिंग बालों को मुलायम भी रखती है और विटामिन और मिनरल प्रदान करती है। जो बार-बार धोने पर कम हो जाते हैं। बालों का तेल जड़ों तक पहुंचता है और स्ट्रैंड्स को मजबूत बनाता है और स्कैल्प को पोषण देता है।

हालांकि, बाल झड़ने के कई आंतरिक कारण भी हो सकते हैं- जैसे तनाव, आजकल का अनहेल्दी लाइफस्टाइल, प्रदूषण आदि! तनाव बालों के रोम छिद्रों को बंद कर देता है, जिससे समय से पहले बालों का झड़ना शुरू हो जाता है और बाल पतले होने लगते हैं। इससे निपटने के लिए, हर किसी को योग या डेली एक्सरसाइज़ जैसी कम से कम एक आदत ज़रूर अपनानी चाहिए।

आपके बाल झड़ने के कई अन्य कारण भी हो सकते हैं:

  1.  अन्हेल्दी खान पान
  2.  अपच की समस्या
  3.  लम्बे वक़्त तक मेंटल स्ट्रेस
  4.  पर्यावरण जनित कारण
  5.  अनिद्रा
  6.  वंशानुगत कारण
  7.  हार्मोन में असंतुलन

आइए जानते हैं कुछ आयुर्वेदिक जड़ीबूटियों के बारे में, जिससे आपके बालों का झड़ना कम किया जा सकता है:

आयुर्वेद में बालों की मजबूती को बहुत महत्‍व दिया गया है। चित्र: शटरस्‍टॉक
आयुर्वेद में बालों की मजबूती को बहुत महत्‍व दिया गया है। चित्र: शटरस्‍टॉक

1. अमलाकी:

अमलाकी सबसे अच्छी दवाओं में से एक है जो व्यापक रूप से बालों के झड़ने के लिए उपयोग की जाती है। इसमें विटामिन-C और बहुत सारे खनिज होते हैं जो बालों के झड़ने से रोकने के लिए आवश्यक होते हैं।

2. एलोवेरा:

एलोवेरा एक कंडीशनर के रूप में काम करता है और आपको कुल मिलाकर सॉफ्ट एंड सिल्की बाल प्रदान करता है। यह सर की डेड स्किन की मरम्मत करता है और इस तरह बालों के विकास में आपकी मदद करता है। यह खुजली को भी कम करता है और रूसी भी हटाता है।

3. भृंगराज:

इस क्लासिक हेयर टॉनिक का उपयोग बालों के झड़ने, रीग्रोथ और रूसी के लिए किया जा सकता है। भृंगराज तेल सिर को शांति देता है, रक्त संचार बढ़ाता है और स्मरण शक्ति बढ़ाता है।

4. तिल का तेल:

यह पारंपरिक रूप से इस्तेमाल किया जाने वाला तेल है। इसका बहुत अधिक औषधीय महत्व है, जो इसे बालों के विकास के लिए उपयोगी बनाता है। तिल के तेल में विटामिन- E, B- कॉम्प्लेक्स और कई खनिज होते हैं। तिल हमारे सर को स्वस्थ बनाता है और बालों को समय से पहले सफ़ेद होने से रोकता है।

तिल का तेल बालों को पोषण प्रदान करता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
तिल का तेल बालों को पोषण प्रदान करता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

5. नारियल का तेल:

हम में से ज्यादातर लोग नारियल तेल का इस्तेमाल अपनी दिनचर्या में करते हैं। यह सबसे प्रसिद्ध तेल है, जिसे हम बिना दुष्प्रभावों की चिंता किये उपयोग कर सकते हैं। यह बालों को मॉइस्चराइज़ करता है और टूटना कम करता है। यह हमारे बालों को प्रोटीन के नुकसान से भी बचाता है।

6. नीम:

नीम में जीवाणुरोधी गुण होते हैं, जो फंगल संक्रमण को दूर रखता है। यह बालों के तंतुओं को पोषण देता है, उन्हें अच्छी तरह से हाइड्रेट करता है, और उन्हें मजबूत बनाता है।

7. करी पत्ता:

करी पत्ता भारत में सबसे अधिक इस्तेमाल होने वाली रसोई सामग्री में से एक है। इसकी छोटी पत्तियां एंटीऑक्सिडेंट और प्रोटीन से भरपूर होती हैं।

यह भी पढ़ें – डियर लेडीज़, रॅपन्ज़ेल जैसे लंबे बाल पाने हैं, तो याद कर लें ये 6 हेयर केयर टिप्‍स

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।