फॉलो

मैंने स्किन केयर के लिए चेहरे पर हर रोज लगाया नींबू, पर शायद यह एक बड़ी गलती थी

Published on:28 August 2020, 15:33pm IST
नो डाउट नींबू एक सुपरफूड है। इम्‍युनिटी बढ़ाने में इसका जवाब नहीं और स्किन के लिए भी यह फायदेमंद होता है। पर इसके लगातार उपयोग के कुछ साइड इफैक्‍ट भी हैं, जिनके बारे में मैं नहीं जानती थी।
विदुषी शुक्‍ला
  • 80 Likes
स्किन सेंसिटिव है तो नींबू से आपको रैशेस और इर्रिटेशन होने की बहुत सम्भावना होती है। चित्र : शटरस्टॉक।

खूबसूरत त्वचा के लिए हम हमेशा घरेलू नुस्खों को ट्राय करते हैं। यह बात बिल्कुल सही है कि प्राकृतिक उपाय केमिकल प्रोडक्ट्स से बेहतर हैं, लेकिन अधूरी जानकारी खतरनाक होती है। कुछ यही हुआ मेरे साथ जब मैं नींबू के फायदे पढ़ कर इसकी दीवानी हो गई।

सभी लॉकडाउन का अपने तरीके से फायदा उठा रहे हैं। मैंने भी सोचा कि घर में धूल और प्रदूषण से दूर, त्वचा की देखभाल करती हूं, जिसे अब तक काम का बहाना बनाकर मैं टालती आ रही थी। त्वचा की केयर करने के लिए मैंने घरेलू नुस्खे अपनाने का मन बनाया। नींबू दाग धब्बों को कम करता है और त्वचा की रंगत निखारता है, यह मैंने सुन रखा था। थोड़ी मदद गूगल की ली और तय कर लिया कि हर दिन 10 मिनट चेहरे पर नींबू लगाउंगी।

नींबू का रस स्किन को ग्‍लोइंग बना सकता है,लेकिन सही इस्तेमाल से। चित्र: शटरस्‍टॉक ।

और मैंने चेहरे पर नींबू लगाने की शुरुआत की…

पहले दिन मैंने नींबू थोड़ी देर चेहरे पर लगाया और सूखने के बाद धो लिया। धोने के बाद ही मुझे चेहरे पर चमक दिखी, और चेहरा कम ऑयली हो गया। इस परिणाम से मैं प्रेरित हो गयी और रोज अपने रूटीन का पालन करने लगी।
चौथे दिन मुझे नींबू लगाते ही चेहरे पर जलन महसूस हुई। यूं मेरी स्किन सेंसिटिव नहीं है। इसलिए मैंने इस जलन को इग्नोर कर दिया।
उसके बाद से हर बार नींबू लगाने पर जलन बढ़ने लगी और नाक के आसपास लाल रैशेस भी आने लगे।

सातवें दिन मैंने नींबू के साइड इफेक्ट्स से जुड़ी रिसर्च पढ़ी तो दंग रह गयी।

क्यों नींबू से मुझे जलन और रैशेस होने लगे थे?

जर्नल कॉस्मेटिक्स डर्मेटोलॉजी की 2013 की स्टडी के अनुसार नींबू का ph लेवल बहुत कम होता है। नींबू में मौजूद सिट्रिक एसिड नियमित इस्तेमाल पर स्किन इर्रिटेशन पैदा करता है।
यही नहीं नियमित रूप से नींबू का रस त्वचा पर लगाने से फाइटोफोटोडर्मेटाइटिस की समस्या हो जाती है। इसमें त्वचा सूरज की रोशनी के प्रति सेंसिटिव हो जाती है, जिससे सनबर्न आसानी से हो जाता है। यही नहीं, स्किन धूप में लाल पड़ने लगती है और पैची हो जाती है।

नींबू का रस स्किन को ड्राई कर सकता है। चित्र- शटरस्टॉक।

लेकिन नींबू के फायदे भी तो हैं?

जब मुझे नींबू लगाने से इतनी समस्या हुई तो मेरा पहला सवाल यही था कि ब्यूटी एक्सपर्ट नींबू को इस्तेमाल क्यों करते हैं।
इस बात में कोई दो-राय नहीं है कि नींबू त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद है। इसमें मौजूद विटामिन सी स्किन डैमेज कम करता है और झुर्रियां कम करता है। नींबू स्किन से ऑयल हटाता है और दाग धब्बों को कम करता है। नींबू में एंटीऑक्सीडेंट प्रोपर्टी होती हैं जो फ्री रेडिकल्स को खत्म कर त्वचा को स्वस्थ बनाती है।

नींबू का इस्तेमाल त्वचा पर सीधे नहीं किया जाता

· यही सबसे बड़ी गलती थी जो मैं कर रही थी। नींबू एसिडिक होता है इसलिए सीधे त्वचा पर लगाने से नुकसान कर सकता है।

· नींबू के फायदे उठाने के लिए नींबू को शहद के साथ मिक्स करके लगाना चाहिए। शहद स्किन को मॉइस्चराइज करता है और नींबू की एसिडिटी को भी कम करता है।

· अगर आपकी त्वचा सेंसिटिव है तो नींबू का इस्तेमाल न करें। उसके बजाय विटामिन सी के कैप्सूल का इस्तेमाल करें। ग्रीन टी भी स्किन के लिए अच्छा विकल्प है।

· एक और जरूरी बात- नींबू रोज नहीं लगाना चाहिए। हफ्ते में दो से तीन बार काफी है।

मैंने अपनी स्किन को डैमेज करके एक बात सीखी है, बिना पूरी जानकारी कोई भी प्रोडक्ट इस्तेमाल नही करना चाहिए, चाहे वह केमिकल प्रोडक्ट हो या प्राकृतिक।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।

संबंधि‍त सामग्री